एडिशनल एसपी प्रतिमा एस मैथ्यूज का तबादला,आम लोगो की मांग के निरस्त किया जाएं तबादला।

शहडोल। दो दिन पूर्व एडिशनल एसपी प्रतिमा एस मैथ्यूज को शहडोल एएसपी के दायित्व से मुक्त कर नए एडिशनल एसपी की पदस्थापना कर दी गई है लेकिन एएसपी प्रतिमा की अगली पोस्टिंग कहां होनी है अभी राज्य सरकार ने तय नहीं किया है। अच्छी कार्यशैली अपराध मुक्त जिला बनाने की ओर अग्रसर मैडम का अचानक किया गया तबादला लोगों की समझते परे है। एडिशनल एसपी के तबादले की खबर जैसे ही लोगो तक फैली, लोग सरकार के इस फैसले को गलत बताते हुए तबादले के विरोध में एकजुट होने लगे हैं। शहर के कुछ युवाओं ने सोशल मीडिया में इसको लेकर अभियान भी चलाना शुरू कर दिया है।
शहर के लोगो का कहना है कि जब भी जिले में कोई स्वच्छ छवि का अधिकारी आता है और वो अपनी कार्य कुशलता और निष्ठा से जिले को अपराध मुक्त करने की शरुवात करता है की तभी उसका तबादला कर दिया जाता है। अचानक राज्य शासन ऐसे कर्मठ अधिकारियों के तबादले क्यों करती है यह शोध का विषय है।

पुलिसकर्मियों के लिए भी बेहद खास हैं एसएसपी मैडम,पुलिस विभाग के कर्मचारियों के लिए सब से बड़ी समस्या उनको आवंटित हो ने वाले क्वार्टर का होता है,उस समस्या का निराकरण मैडम द्वारा बड़ी ही आसानी से किया जाता रहा। पुलिस कर्मियों के द्वारा किसी अन्य आवेदन पर कार्यवाही एएसपी तत्काल करती थीं। इसके अलावा जिले के सभी
अपराधियों की कुंडली तैयार करवाकर उनको अपने रडार में कैसे रखा जाता है इसको लेकर भी वे सभी थाना प्रभारियों से चर्चा करती थीं।
अपना जिला जिस प्रकार नशे की चपेट में था उसके खिलाफ एएसपी लगातार एसपी के निर्देश पर कोतवाली और सोहागपुर थाना के साथ मिलकर कार्रवाई करवा रहीं थीं वो कबीले तारीफ था।
जहाँ एक ओर गांजा तस्कर, रेत माफिया, भू-माफिया,नशीली दवाओं के विक्रेता सभी के लिए खतरा बनी एडिशनल एसपी मैडम के तबादले से खुश हैं वहीं युवा वर्ग एवं आम जनता इस फैसले से दुखी है। लोगों ने मांग की है कि एएसपी प्रतिमा मैडम का तबादला निरस्त कर उन्हें शहडोल में ही पदस्थ किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *