39 हाथियों का दल टाकी जंगल मे आने से प्रशासन हुआ सतर्क

बी एल सिंह की रिपोर्ट

अनूपपुर/डोला- छत्तीसगढ़ राज्य के मनेंद्रगढ़ वन क्षेत्र अंतर्गत भाैता बीट के कोयलहवा इलाके से 27 सितंबर की शाम 39 हाथियों का समूह मध्यप्रदेश के कोतमा क्षेत्र अंतर्गत टॉकी बीट क्रमांक पीएफ 476,477, 478,केरहा टोला से फुलवारी टोला में तुलसी विश्वकर्मा के बाड़ी से लगा गन्ना,केला की फसल को खाया तथा दीवार तोड़ी जिसके बाद हाथियों का दल 4 भाग में बट कर टाकी गांव फुलवारीटोला,बिछली टोला,छपरा टोला,नवाटोला में विचरण कर ग्रामीणों की खेतों में लगी धान एवं अन्य फसलों का नुकसान कर सुबह होते होते टांकी,मलगा बीट के महानीम कुंडी के जंगल में जा कर रुक गया, इस जंगल में स्थित नाला में पर्याप्त पानी एवं मिश्रित प्रजाति के वन है।

*पूर्व में कई बार हाथियों के दल द्वारा टाकी में किया गया था विचरण*

छत्तीसगढ़ राज्य के मनेंद्रगढ़ एवं मरवाही वन परीक्षेत्र से विचरण कर टाकी एवं मलगा मे हाथियों के समूह ने अपना रहवास पूर्व में बनाकर कई दिनों तक रुके रहे हैं विगत 2 दिनों से हाथियों का दल अब तक के सबसे बड़े समूह के आने की संभावना को देखते हुए प्रशासन ने टांकी के जंगल के बीच बसे बैगानटोला के 45 महिला पुरुष एवं बच्चों को पंचायत भवन व अन्य स्थल पर सुरक्षित रखा गया,हाथियों के आने की सूचना पर डीएफओ अनूपपुर डॉ ,ए,ए,अंसारी ने एसडीओ अनूपपुर केवी सिंह के नेतृत्व में टीम गठित कर कोतमा वन परीक्षेत्र अधिकारी परिवेश सिंह भदौरिया के साथ कोतमा बिजुरी एवं जैतहरी अधिकारियों कर्मचारियों के साथ ग्राम पंचायत टाकी के सहयोग से ग्रामीणों को सतर्क करने हेतु मुनादी कराई गई।

*मौके पर पहुंचे कोतमा एस डी एम व तहसीलदार*

28/9/21 की सुबह कोतमा एसडीम ऋषि सिंघई तथा कोतमा तहसीलदार मनीष शुक्ला द्वारा ग्राम टाकि के बैगानटोला व सैतुनचुआ का निरीक्षण किया तथा एक दिन पूर्व रात्रि में हाथियों के समूह द्वारा ग्रामीणों के किए गए फसल नुकसान एवं मकानों की तोड़फोड़ को देखा साथ ही हाथियों का समूह जो मलगा टाकी के जंगल में दिन में रुका हुआ है जिसके शाम रात्रि होने पर पुनः ग्राम के मजरेटोले में विचरण की संभावना को देखते हुए बैगन टोला के ग्रामीणों को पंचायत भवन एवं अन्य स्थान पर सुरक्षित किए जाने एवं उनके खाने-पीने की व्यवस्था कराए जाने के निर्देश दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *