प्रशासन कस रहा पैथोलॉजी पर नकेल

विभाग के मुखिया के निर्देशन में पैथोलॉजी पर छापामार कार्यवाही

शहडोल। कलेक्टर डॉ. सतेन्द्र सिंह के निर्देश एवं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मेघ सिंह सागर के मार्गदर्शन में चिकित्सा विभाग की टीम ने मुख्यालय में संचालित पैथोलॉजी व एक्स-रे सेंटरों पर छापामार कार्यवाही की। जिसमें पैथोलॉजी को नोटिस देने की कार्यवाही की जा रही है, छापामार कार्यवाही से यह भी खुलासा हुआ कि जिले के दिगर कस्बों व गांवों की बात तो दूर, मुख्यालय में ही चिकित्सकों ने पैथोलॉजी सेंटरों को भाड़े पर अपनी डिग्रियां दी हुई है और खुद अपनी दुकान कहीं और संचालित कर रहे हैं, किसी भी पैथोलॉजी में दर्शाए गये चिकित्सक टीम को नहीं मिले।
इन पर गिरी गाज
जिला चिकित्सालय के पास संचालित सांई पैथोलॉजी लैब, ईसीजी, डिजिटल एक्स-रे, वार्ड नंबर 11 गायत्री मंदिर रोड स्थित आयडस पैथोलॉजी, सेवा पैथोलॉजी की जांच की गई, जिसमें चिकित्सक मौजूद नहीं थे, जिन्हें संभवत: नोटिस दिया जायेगा। जवाब मिलने और उससे संतुष्ट न होने पर इन्हें भी सील किया जा सकता है।
डॉक्टर एक, दुकाने अनेक
सांई पैथोलॉजी लैब, ईसीजी, डिजिटल एक्स-रे और आयडस पैथोलॉजी, सेवा पैथोलॉजी की जांच के दौरान यह बात सामने आई कि जिन चिकित्सक का रजिस्ट्रेशन उक्त पैथोलॉजियों के द्वारा लगाया गया है, यह बात भी चर्चा में रही कि आयडस पैथोलॉजी में डॉ. श्रीमती मंजू पाण्डेय की डिग्री लगी हुई है, वहीं डॉ. श्रीमती मंजू पाण्डेय खुद का क्लीनिक और सोनोग्राफी सेंटर का भी संचालन करती है, वहीं सांई पैथोलॉजी लैब, ईसीजी, डिजिटल एक्स-रे में भी कोई डॉक्टर मौजूद नहीं थे।

शहडोल में भाड़े पर मिलती है डॉक्टरों की डिग्री

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *