बजाज फायनेंस पर लगा धोखाधड़ी का आरोप…!

शहडोल। नगर के सिंहपुर रोड स्थित सौखी मोहल्ला में रहने वाले आशिक खान ने पुलिस सहित संभागायुक्त व कलेक्टर को शिकायत देते हुए बजाज फायनेंस कंपनी के द्वारा की गई धोखाधड़ी के संदर्भ में न्याय दिलाने की मांग की है। पीडि़त ने इस संदर्भ में पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह 5 अगस्त 2020 एवं 13 अगस्त 2020 को साढ़े 13 तोला सोना जमा करके बजाज फायनेंस से 4 लाख 53 हजार रूपया लोन पर लिया था, बैंक के जिम्मेदारों के द्वारा 1 प्रतिशत ब्याज पर लोन उपलब्ध कराने की बातें कहीं गई और वहां पर 1 प्रतिशत ब्याज दर से संदर्भित बोर्ड भी लगा हुआ था, लेकिन रूपये लेने के बाद जब हम इलाज के लिए बिलासपुर चले गये और लौटकर आये तो, पता चला कि हमारा पूरा सोना नीलामी में चला गया है।
कार्यवाही की मांग
पीडि़त ने पुलिस को यह भी बताया कि बजाज फायनेंस के द्वारा 1 प्रतिशत बताने के बाद 3 प्रतिशत के दर पर ब्याज जोड़ा गया है, पीडि़त ने बताया कि 19 सितम्बर को जब मैंने बैंक से संपर्क किया तो, यह बताया गया कि तुम्हारा सोना नीलामी चला गया है, अब कोई सुनवाई नहीं होगी, जबकि इस दौरान न तो मुझे कोई नोटिस दिया गया और न ही मुझसे कोई संपर्क किया गया, पुलिस ने इस संदर्भ में इस मामले को अहस्ताक्षेप अयोग्य अपराध बताते हुए न्यायालय में जाने की समझाईश दे दी, जिसके बाद उसने कलेक्टर, कमिश्नर आदि को शिकायत देकर न्याय की गुहार लगाते हुए बजाज फायनेंस कंपनी शाखा शहडोल के शिवेन्द्र मिश्रा एवं अभिषेक पाठक के खिलाफ कार्यवाही की मांग की।

ब्रांच ही डकार गई लोन की राशि

बजाज फाइनेंस के स्थानीय शाखा के कई कर्मचारियों सहित शाखा प्रबंधक ने ना जाने कितने गरीब परिवारों को डरा धमका कर लोगों पैसा हड़प लिया है और उनके सेटलमेंट की राशि तक हजम कर दी गई है वरिष्ठ कार्यालय तक नहीं पहुंच पाई है जिसकी वजह से कर्जदार आज भी लगातार कंपनी की नजरों में गलत साबित हो रहा है जबकि शहडोल  शाखा के ब्रांच मैनेजर सहित कई कर्ताधरताओं ने मिलकर बड़ी राशि का गोलमाल कर दिया है यदि इनकी करतूतों की परत दर परत जांच पड़ताल की जाए तो कई बड़े खुलासे सामने आ सकते हैं जिसका खुलासा जल्द ही दूसरी किस्त में किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *