अमलाई थाना क्षेत्र अंतर्गत रेल्वे कॉलोनी वार्ड क्रमांक छह में पिता के बाद बेटे की भी रिपोर्ट पॉजिटिव*

*चंद्रेश मिश्रा के साथ संतोष शर्मा की विशेष रिपोर्ट*

धनपुरी-कोरोना वायरस संक्रमण का दुष्प्रभाव शहडोल जिले में बढ़ता ही जा रहा है उप पुलिस अधीक्षक एवं विभाग के कुछ अन्य लोगों को कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद आज एसडीएम के भी कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने की जानकारी सामने आ रही है अमलाई थाना क्षेत्र अंतर्गत रेल्वे कॉलोनी वार्ड क्रमांक 6 में 25 जुलाई को 60 वर्षीय वृद्ध की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई थीअब इसी 60 वर्षीय वृद्ध के बेटे की भी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है युवक की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव होने की जानकारी मिलते ही स्वास्थ्य विभाग से मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर सचिन कारखुर डीपीएम नरेंद्र विश्वकर्मा सुपरवाइजर राजकुमार महतो एएनएम राधा सिंह आशा कार्यकर्ता सीमा भंडारी शबनम बानो वार्ड क्रमांक 6 पहुंच गए थे नगर पालिका परिषद धनपुरी के द्वारा आसपास के क्षेत्र को पूरी तरह से सेनेटाइज किया गया सुपरवाइजर राजकुमार महतो ने संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि युवक की जांच 29 जुलाई को हुई थी जिसकी जांच रिपोर्ट आज प्राप्त हुई है पिता के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद इस क्षेत्र को पहले ही 25 जुलाई से 8 अगस्त तक के लिए कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया था अब बेटे के कोरोना पॉजिटिव होने पर इस क्षेत्र को 20 अगस्त तक कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है 60 वर्षीय वृद्ध अभी भी जिला चिकित्सालय में इलाजरत है 60 वर्षीय वृद्ध के कोरोना पॉजिटिव बेटे को भी इलाज के लिए जिला चिकित्सालय ले जाया जा रहा है।
*लापरवाही का खामियाजा उठा रही रेल्वे कॉलोनी की जनता*-देश में कोरोना वायरस संक्रमितों का आंकड़ा 20 लाख के ऊपर जा पहुंचा है लेकिन उसके बाद भी लोगों की लापरवाही में कमी नहीं आ रही है रेल्वे कॉलोनी वार्ड क्रमांक 6 में निवास करने वाले 60 वर्षीय वृद्ध ने जमकर लापरवाही की थी स्वास्थ्य विभाग की टीम दो बार उसके यहां जांच करने गई थी लेकिन इसमें गलत जानकारी देते हुए उन्हें बैरंग वापस कर दिया था 10 जुलाई को दिल्ली एवं बिहार से यात्रा करके लौटने वाले इस बुजुर्ग की जांच रिपोर्ट 25 जुलाई को पॉजिटिव आई थी जिसके बाद से ही रेलवे कॉलोनी वार्ड क्रमांक 6 का यह हिस्सा कंटेनमेंट जोन के रूप में है अब बेटे की जांच रिपोर्ट भी पॉजिटिव आने के बाद कंटेनमेंट जोन की तारीख 20 अगस्त तक के लिए बढ़ा दी गई है रेलवे कॉलोनी की जनता दूसरों की लापरवाही की वजह से 25 जुलाई से अपने घरों में कैद रहने को मजबूर है शहडोल जिले में लगातार कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है लेकिन प्रशासन अभी भी लापरवाही करने वालों पर सख्त कदम नहीं उठा रहा है लापरवाही करने वालों की वजह से आम नागरिकों को तरह तरह की परेशानी एवं प्रतिबंधों का सामना करना पड़ रहा है
*कोरोना जांच रिपोर्ट आने में लग रहे 10 दिन ऐसे कैसे जीतेंगे जंग*-कोरोना वायरस संक्रमण के विरुद्ध 23 मार्च से जिला प्रशासन दिन रात मेहनत कर रहा है शुरुआत में कोरोना जांच के लिए सैंपल जबलपुर भेजा जाता था लेकिन उसके बाद शहडोल जिले में ही जांच की सुविधा उपलब्ध हो गई लेकिन रेलवे कॉलोनी वार्ड क्रमांक 6 में आज जिस युवक की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने की जानकारी प्राप्त हो रही है उसकी रिपोर्ट आने में लगभग 10 दिन का समय लग गया स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों ने जानकारी देते हुए बताया कि युवक की सैंपलिंग 29 जुलाई को हुई थी यदि इसी प्रकार से जांच रिपोर्ट आने में देरी लगेगी तो कोरोना संक्रमित के संपर्क में आने वाले लोगों की तादाद तेजी से बढ़ती जाएगी इसलिए प्रशासन को कोरोना जांच रिपोर्ट के मामले में पहले से भी ज्यादा चाक-चौबंद रहने की आवश्यकता है अन्यथा शहडोल जिला जो लॉकडाउन के अंतिम चरण से कोरोना वायरस की चपेट में आया था वहां तेजी से इसके मामले बढ़ते जाएंगे कोरोना वायरस संक्रमण के दुष्प्रभाव को बढ़ने से रोकने के लिए जिला प्रशासन को सख्त कदम उठाने ही चाहिए ताकि लापरवाही करने वाले लोगों को सबक मिल सके

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *