अतिक्रमण से नाराज फुटकर सब्जी व्यवसायियों ने किया चौपाटी चक्काजाम, समस्या नही सुन रहे निगम प्रशासन के अधिकारी 

अतिक्रमण से नाराज फुटकर सब्जी व्यवसायियों ने किया चौपाटी चक्काजाम, समस्या नही सुन रहे निगम प्रशासन के अधिकारी 

कटनी ॥ शहर की सडको पर लगी सब्जी के ठेलों को जिला चिकित्सालय समीप स्थित चौपाटी पर शिफ्ट किया गया, लेकिन इसकी व्यवस्थाएं तीन साल बाद भी नहीं सुधर पाई हैं। सब्जी व्यापारी के अनुसार नगर निगम के द्वारा बनाई गई सब्जी मंडी के शेड पर पहले से ही सब्जी व्यापारी मौजूद है और उसके बाद ठेले पर सब्जी बेचने वालों को भी उसी बनाए गए शेड में शिफ्ट किया जा रहा है ! जिससे विवाद कि स्थिति निर्मित होती है! बनाई गई मंडी के बाहर और सब्जी के हाथ ठेले डेरा जमा लेते हैं। इन्हें व्यवस्थित करने के लिए नगर निगम में कई बार शिकायत की गई, लेकिन आज तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। इस कारण आज विवाद की स्थिति निर्मित हो गई! सब्जी के खरीदार पहले ही परेशान थे, हाथ ठेले लगने के बाद समस्या और ज्यादा बढ़ गई है।
शहर के मुख्य बाजार सड़क के किनारे लगने वाले सब्जी बाजार में विगत 2-3 दिनों से नगर निगम का प्रशासनिक अमला अतिक्रमण को हटाने की कार्रवाई कर रहा है। कार्रवाई से सब्जी फुटकर व्यापारियों के बीच आक्रोश भी पनप रहा है। इसी आक्रोश के चलते मंगलवार की सुबह नाराज सब्जी व्यापारियों ने स्थानीय चौपाटी वाले रास्ते और बाजार की सड़क दोनों तरफ से जाम कर प्रदर्शन किया। मंगलवार की सुबह जब नगर निगम अमला अतिक्रमण को हटाने की कार्रवाई करने बाजार पहुंचा तो यहां पर पहले से एकत्रित फुटकर सब्जी व्यापारियों ने चक्काजाम कर प्रदर्शन करना शुरू कर दिया। इस दौरान उन्होंने नगर निगम के वाहन को भी रोक लिया और मांग करने लगे कि पहले उनकों रोजगार के लिए उचित स्थान पर दुकान दिलाए जाए जिससे उनके घर-परिवार का भरण पोषण हो सके। प्रदर्शन के बीच रुके हुए वाहन के कर्मचारियों ने प्रदर्शन की सूचना अधिकारियों को दी।

कैसे करेंगे गुजारा

शहर बाजार में सड़क के किनारे सब्जी की दुकान लगाकर अपने परिवार को भरण पोषण कर रहे सब्जी व्यवसायी ने बताया कि सब्जी की फुटकर दुकान लगाकर ही रोजी-रोटी कमाकर अपने परिवार का भरण-पोषण कर रहे है। कुछ ने तो परिवार के लिए कर्जा भी उठा रखा है। ऐसी स्थिति में अतिक्रमण की कार्रवाई से वे रोजगार नहीं कर पा रहे है ! शहर के अंदर एक ही स्थान पर लोगों को दुकान दी जाकर कहा जा रहा है कि व्यापार करो ऐसे में छोटी सी जगह पर कैसे व्यापार कर सकते है। वहीं कुछ ने बताया कि उन्हें स्थान ही नहीं मिल पाया है जिससे वे व्यापार ही नहीं कर पा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *