पशु तस्कर की गाड़ी पलटी, 10 मूक पशुओं की मौत

पशु तस्कर की गाड़ी पलटी, 10 मूक पशुओं की मौत 
रात्रि में पार कर रहे थे ट्रक, ग्राम सजहा के पास पलटा तेज रफ्तार ट्रक 
अमरकंटक थाना क्षेत्र से चल कर पार हुये राजेन्द्रग्राम थाना और नाके 
 पशुओं की तस्करी का दाग इस जिले से छूटने का नाम नहीं ले रही है, दो मुख्य ठीहो से अभी तक पशुओं की लोडि़ंग होती थी, अब नये-नये जगह तलाश कर पशु तस्करों ने मूक पशुओं को ढुलने का कार्य शुरू कर दिया है, रविवार की रात्रि 10 बजे किरर घाट के नीचे ग्राम सजहा के पास 18 मवेशियों के साथ लोड ट्रक  पलट गया, जिसमें 10 की मौत हो गई और ट्रक मौजूद लोग फरार होने में कामयाब हो गये।  
अनूपपुर। कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत ग्राम सजहा के पास रात्रि लगभग 10 बजे राजेन्द्रग्राम की ओर से आ रहा ट्रक अनियंत्रित होकर पलट गया, ट्रक में भरे अवैध रूप से 18 मूक पशुओं में से 10 की घटना स्थल मेंं ही मौत हो गई। घटना की सूचना मिलने के बाद डायल 100 और अन्य लोग वहां पहुंचे, जहां सुविधा अनुसार बचे हुये मवेशियों को किनारे लगाया एवं घटना स्थल के अन्य कार्यो में सहयोग प्रदान किया।
थाने और नाके हो रहे पार 
पशु तस्करों के ट्रक को पार कराने में पुलिस का सहयोग अक्सर देखा जाता है, जानकारी के अनुसार ट्रक क्रमांक एमपी 19 एचए 1582 छत्तीसगढ़ होते हुये मध्यप्रदेश में प्रवेश की, जहां थाना अमरकंटक के मेढ़ाखार ग्राम में मौजूद पशु तस्करों ने कुछ पशु इसी ट्रक में लोड किये, फिर थाना राजेन्द्रग्राम होते हुये कोतवाली क्षेत्र को भी पार करने वाले थे, लेकिन ट्रक के पलटने के बाद पुलिस के पहरेदारी की पोल खुल गई।
फरार हुये ट्रक में मौजूद लोग
ट्रक में लोड अवैध रूप से मूक पशुओं को ले जा रहे 4-5 पशु तस्कर और उनके सहयोगी ट्रक के पलटते ही भाग निकले, हलांकि उनमें से एक सहयोगी को चोट लगने की आशंका जताई जा रही है, लेकिन अभी तक पुलिस विवेचना में जुटी हुई है। फिलहाल कोतवाली पुलिस ने मामले को कामय करते हुये ट्रक ड्राईवर और मालिक की तलाश की जा रही है।
... कौन है साकिब
अवैध रूप से मूक पशुओं से भरे ट्रक क्रमांक एमपी-18-एचए-1582 का मालिक नजीराबाद पेट्रोल पंप के पीछे सतना मो० साकिब पिता मो० समीम के रूप में पहचान की गई है। जो ट्रक छत्तीसगढ से लेकर उत्तरप्रदेश तक का सफर करने जा रहा था, सतना निवासी साकिब और उसका एक सहयोगी वर्षो से पशु तस्करी के कार्य में जुटा हुआ है, कई बार यह गाड़ी राजेन्द्रग्राम थाना और कोतवाली क्षेत्र से अवैध तरीके से मूक पशुओं को लेकर उत्तरप्रदेश तक पहुंच चुकी है, लेकिन किसी ने भी पकडऩे की जहमत नहीं उठाई।
स्थानीय लोग कर रहे सहयोग
छत्तीसगढ़ से लेकर उत्तरप्रदेश तक जाने वाली पशु तस्करों के ट्रकों को पार कराने में स्थानीय लोगों का काफी सहयोग मिलता है, छत्तीसगढ की सीमा पार करते ही मेढ़ाखार करोैंदी रोड का एक नायक युवक और गिरारी का दीपक और धीरज पशु तस्करों की ट्रक को लोड कराने और पार कराने में सहयोग करते हैं। वहीं कोतवाली क्षेत्र के ग्राम सकरा निवासी अशोक नायक का सहयोग ट्रक को पार कराने में बखूबी देखा जाता है।
राजनीतिज्ञों का संरक्षण 
सत्ता सरकार में मौजूद सफेद पोश चंद पैसों के खातिर मूक पशुओं को भी तस्करों का निवाला बनाने में पीछे नहीं है, राजेन्द्रग्राम क्षेत्र के एक भाजपा युवा नेता का हाथ भी पशु तस्करी में रंगे हुये है, बकायदा कमीशन लेकर चंद लोगों को संरक्षण प्रदान कर पार कराने में जरा भी संकोच नहीं करते, यही हाल रास्ते में पडऩे वाले पुलिस थानो में मौजूद पहरेदारों का है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed