कोरोना से दिवंगत हुए पत्रकारों के परिवारों को 10 लाख रुपये देने का किया ऐलान : योगी

हिंदी पत्रकारिता दिवस के मौके पर प्रदेश की योगी सरकार ने बड़ी घोषणा की है। योगी सरकार ऐसे पत्रकार जिनका कोरोना काल के दौरान बीमारी से निधन हो गया उनके परिजनों को 10 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देगी। बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर सूचना विभाग ने पत्रकारों का आंकड़ा जुटा लिया था।

दरअसल, कोरोना काल में कवरेज के दौरान कई पत्रकार संक्रमित हो गए और कई का निधन हो गया। ऐसे में उनके परिजनों के सामने भरण-पोषण की मुश्किल आ गई है। इसे देखते हुए सरकार ने मृत पत्रकारों के परिजनों को 10 लाख रुपये देने का निर्णय लिया है।

इसके एक दिन पहले कोरोना के चलते निराश्रित बच्चों के लिए योगी सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। ऐसे बच्चों की देखभाल करने वालों को सरकार चार हजार रुपये प्रतिमाह देगी। स्कूल-कॉलेजों में पढ़ रहे या व्यावसायिक शिक्षा ले रहे बच्चों को लैपटॉप व टैबलेट दिया जाएगा बच्चियों की शादी के लिए भी एक लाख एक हजार रुपये की राशि दी जाएगी।

प्रदेश में कोरोना संक्रमण के कारण अब तक करीब 20 हजार लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि, राहत की बात है कि संक्रमण दर अब नीचे आ रही है। इसमें सरकार की टेस्ट, ट्रैक और ट्रीट की नीति ने बड़ी भूमिका निभाई है।

प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हालात को देखते हुए खुद मोर्चा संभाल लिया है। वो लगातार जिलों का दौरा कर रहे हैं।

अगर आज की बात करें तो यह लंबे समय बाद है जब प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामलों की संख्या दो हजार से कम हुई है। पिछले 24 घंटे में प्रदेश में कोरोना के 1908 संक्रमित सामने आए हैं जबकि 6713 लोग डिस्चार्ज होकर घर जा चुके हैं। प्रदेश का कोरोना रिकवरी रेट 96. 4 फ़ीसदी हो चुका है।

प्रदेश में कोरोना के अब कुल 41 हजार सक्रिय मरीज रह गए हैं। इस दौरान 24 घंटे में प्रदेश में कुल तीन लाख 40 हजार टेस्ट हुए हैं। जिनमें से एक लाख 42 हजार आरटीपीसीआर टेस्ट थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *