सूदखोरों पर अनुपपुर पुलिस की ताबड़तोड़ कार्यवाही 10 के खिलाफ मामला में 08 आरोपी गिरफ्तार

अनुपपुर/अनुपपुर। जिले के कप्तान ने जब से अनुपपुर की कमान संभाली है तभी से परत दर परत अपराधियों को निस्तो नाबूत कर रही है। सूदखोरों पर अनुपपुर पुलिस ने ताबड़तोड़ कार्यवाही की है 10 प्रकरण में 8 आरोपी को धर दबोचा है।लगभग 115 पासबुक, 147 हस्ताक्षर युक्त ब्लैंकचेक, 377 नग एलआईसी बाण्ड, 47 नग चेकबुक, 68 नग शपथ पत्र, 51 नग आधार कार्ड, 30 नग ब्लैंक चेक, 28 नग एटीएम कार्ड, 22 नग पेनकार्ड, 12 नग स्टाम्प, 14 नग इकरार नामा एवं कई अंकसूचियॉं, ऋणपुस्तिका, फाईलें, गिरवी के दस्तावेज, रजिस्ट्रियॉं एवं सैकड़ों कोरे हस्ताक्षरित दस्तावेज जप्त किये।

विगत समय से कोतमा अनुभाग में सूदखोरों से संबंधित षिकायतें प्राप्त हो रही थीं, कि कोयलांचल क्षेत्र के भोले भाले आदिवासी एवं अन्य कॉलरी कर्मचारियों को छलपूर्वक अधिक ब्याज पर ऋण देकर एवं उनका लोन पास करवाकर तथा फर्जी तरीके से अपने खातों में डालकर, उनकी मजबूरी का फायदा उठाते हुए भोले भाले लोगों की गाढ़ी कमाई को छलपूर्वक सूदखोरों/दलालों द्वारा आहरण कर लिया जाता था। जिसे नवागत पुलिस अधीक्षक श्री अखिल पटेल द्वारा गम्भीरता से लेते हुए दिनांक 24.08.2021 को विस्तृत कार्यवाही कराते हुये लगभग 55 लाख रूपये नगद, 160 चेकबुक, 710 नग ब्लैंक चेक, 225 पासबुक, 73 एटीएम कार्ड, 48 पेनकार्ड, 66 आधार कार्ड, 50 शपथ पत्र , 80 अंकसूची, 25 ़ऋणपुस्तिका, सैकड़ों कोरे हस्ताक्षरित दस्तावेज, कोरे नोटराईज्ड दस्तावेज एवं अन्य दस्तावेज जप्त किये एवं 08 आरोपियों को हिरासत में लिया गया था। एवं सूदखोंरी की समस्या को जड़ से खत्म करने हेतु सूदखोरी हेल्प लाईन नंबर जारी किया गया था। जिसमें वाट्सअप के माध्यम से लगातार सूदखोरी की सूचनायें प्राप्त हो रही थी।
दिनांक 03.09.2021 को पुलिस अधीक्षक अखिल पटेल द्वारा सूदखोरों के विरूद्ध जनजागरूकता एवं षिकायत निवारण अभियान बंकिम बिहार आडिटोरियम हाल, भालूमाड़ा में प्रारम्भ किया गया । इस अभियान के अंतर्गत ’जागरूकता-रथ’ को हरी झंडी दिखाकर लोगों में जागरूकता लाने की पहल की गई । इस अभियान के दौरान सूदखोरी हेल्पलाईन नम्बर 6232266999 जारी किया गया । जिसके माध्यम से भारी मात्रा में आम जनता से प्राप्त षिकायतों के आधार पर रूपरेखा तैयार कर सूदखोरों को चिन्हित करते हुए  11.09.2021 को सूदखोरों पर दूसरा प्रहार किया गया ।


11.09.2021 को पुलिस अधीक्षक द्वारा गठित 10 टीमें जिसमें डी.एस.पी. से आरक्षक स्तर के लगभग 150 अधिकारी/कर्मचारी सम्मिलित थे, जिनकें द्वारा कार्यवाही कर 10 प्रकरण में 08 आरोपी गिरफ्तार, लगभग 115 पासबुक, 147 हस्ताक्षर युक्त ब्लैंकचेक, 377 नग एलआईसी बाण्ड, 47 नग चेकबुक, 68 नग शपथ पत्र, 51 नग आधार कार्ड, 30 नग ब्लैंक चेक, 28 नग एटीएम कार्ड, 22 नग पेनकार्ड, 12 नग स्टाम्प, 14 नग इकरार नामा एवं कई अंकसूचियॉं, ऋणपुस्तिका, फाईलें, गिरवी के दस्तावेज, रजिस्ट्रियॉं एवं सैकड़ों कोरे हस्ताक्षरित दस्तावेज जप्त कर 08 आरोपियों (1) हंष कुमार (2) अनुज मिश्रा (3) चंचल सिंह (4)राजकुमार पाण्डेय (5) दीपक नागवानी (6) लियाकत अली (7) सम्पति जैन (8) फूलमती केवट को हिरासत में लिया गया है। दो आरोपी (1) परवेज (2) हरजीत फरार हैं, जिनकी गिरफ्तारी हेतु विषेष टीम गठित की गई है। उक्त अरोपियों के विरूद्ध प्राप्त षिकायतों के आधार पर भारतीय दंड संहिता की धारा 420, 386, 120बी, 506-बी, 3(2)5 एससी/एसटी एक्ट एवं 3, 4 म.प्र. ऋणियों से संरक्षण अधिनियम-1937 के तहत प्रकरण दर्ज किया जा रहा है । हिरासत में लिये गये 08 आरोपियों से पूछताछ जारी है, पूछताछ से प्राप्त तथ्यों के आधार पर अग्रिम कार्यवाही की जायेगी।
सूदखोरी के विरूद्ध की जा रही इस कार्यवाही से करीब ऐसे 500 परिवार जिनका एटीएम कार्ड, ब्लैंक चेक, पासबुक, ऋण पुस्तिका, चेकबुक, गिरवी के दस्तावेज, आवेदकों के दस्तावेज की फाईले व अन्य दस्तावेज जो आरोपियों के कब्जे में थे, उन्हें निष्चित ही राहत प्राप्त होगी ।


सूदखोरी के विरूद्ध अभियान की श्रृंखला में अनूपुपर पुलिस की यह दूसरी बड़ी कार्यवाही है । कार्यवाही में पाये गये तथ्यों एवं अन्य सूचना के आधार पर और विस्तृत कार्यवाही की जायेगी। वर्तमान समय में कोयलांचल क्षे़़त्र में कैम्प लगाकर षिकायत पत्र प्राप्त किया जा रहा है।
यह कार्यवाही अतिरिक्त पुलिस महानिदेषक, शहडोल जोन के मार्गदर्षन में पुलिस अधीक्षक श्री अखिल पटेल द्वारा की गई । पुलिस अधीक्षक श्री अखिल पटेल के निर्देषन में श्री अभिषेक राजन,अति. पुलिस अधीक्षक अनूपपुर की उक्त कार्यवाही में प्रमुख भूमिका रही है । अनुविभागीय अधिकारी पुलिस अनूपपुर/पुष्पराजगढ़/कोतमा, रक्षित निरीक्षक अमिता सिंह, निरीक्षक के.के. त्रिपाठी, निरी. मनोज दीक्षित, निरीक्षक अजय सिंह पवार, निरीक्षक जालम सिंह ठाकुर, निरीक्षक जोधन सिंह, निरीक्षक राकेष बैस, निरीक्षक एम.बी. प्रजापति, सूबेदार वीरेन्द्र कुमरे, उप निरीक्षक त्रिलोक बल्लारे, उप निरीक्षक सुमित कौषिक एवं अन्य की सराहनीय भूमिका रही ।
आज तक में अनूपपुर पुलिस द्वारा 22 सूदखोरों के विरुद्ध कार्यवाही करते हुये उन्हे गिरफ्तार कर कार्यवाही की जा रही है। अनूपपुर पुलिस की इस प्रकार की कार्यवाही निष्चित रूप से प्रभावी कदम है। इससे सूदखोरी की समस्या को जड़ से खत्म किया जा सकेगा। तथा सूदखोरों के चंगुल में फसे लोगों को एक नई जिन्दगी मिलेगी।
पुलिस अधीक्षक की आमजन से अपील है कि सूदखोरी के संबन्ध में निर्भय होकर अधिक से अधिक सूचनाएं दें। ताकि इस समस्या को जड़ से समाप्त किया जा सके ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *