भारतीय सेना में भी 89 ऐप्स पर बैन लगाने को कहा। इसमें फेसबुक, और इंस्टाग्राम भी शामिल।

भारतीय सेना में भी 89 ऐप्स पर बैन लगाने को कहा, सेना में सभी को फेसबुक-इंस्टाग्राम अकाउंट डिलीट करने के आदेश

(Indian Army) के अधिकारियों (Officers) और सैनिकों (Soldiers) को फेसबुक-इंस्टाग्राम अकाउंट डिलीट (Facebook-Instagram Account Delete) करने के आदेश दिए गए हैं. साथ ही 89 अन्य ऐप (89 Apps) की भी एक लिस्ट जारी की गई है जिन्हें मोबाइल से अनइंस्टाल (Uninstall) किया जाना है. आदेश के मुताबिक सभी को ये काम 15 जुलाई तक पूरा कर लेना है.

सेना ने जिन एप्स को डिलीट करने को कहा है उनमें सिर्फ Facebook, Tik Tok ही नहीं बल्कि Instagram, यूसी ब्राउजर और PUBG जैसे पॉपुलर एप्स भी शामिल हैं.

भारतीय सुरक्षा एजेंसियों से चाइनीज एप की एक लिस्ट तैयार कर केंद्र सरकार से अपील की थी इनको बैन किया जाए या फिर लोगों को कहा जाए कि इनको तुरंत अपने मोबाइल से हटा दें. इसके पीछे दलील ये दी गई थी कि चीन भारतीय डेटा हैक कर सकता है.

फेसबुक से लेकर टिंडर तक लपेटे में

दरअसल, सेना ने उन्हीं ऐप्स से दूरी बनाने का आदेश जारी किया है जिन पर कभी-न-कभी पर्सनल डेटा चोरी के आरोप लगे हैं। वह चाहे दुनियाभर में अति लोकप्रिय सोशल मीडिया ऐप फेसबुक ही क्यों ना हो। 2018 में कैंब्रिज ऐनालिटिका केस का रहस्योद्घाटन तो याद ही होगा। ब्रिटेन की इस राजनीतिक परामर्शदाता कंपनी ने यह कहकर पूरी दुनिया में सनसनी मचा दी थी कि फेसबुक ने अपने 8 करोड़ 70 लाख यूजर्स का निजी डेटा अनुचित तरीके से साझा किया।

विभिन्न विदेशी ऐप्स पर भारत सरकार के बाद सेना की तरफ से उठाए गए कठोर कदमों का एक और मायने है। वह यह कि अब भारत ऐप्स के मामले में आत्मनिर्भरता की तरफ तेजी से कदम बढ़ाने जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी देशवासियों को ऐप चैलेंज देकर यही जताने की कोशिश की है

गौरतलब है कि बीते नवंबर में सेना ने अपने स्टाफ को निर्देश दिया था कि आधिकारिक कामों के लिए व्हाट्सअप का इस्तेमाल न किया जाए. साथ ही महत्वपूर्ण पदों पर मौजूद सेना के अधिकारियों से फेसबुक अकाउंट डीलीट करने को कहा गया था.

हाल ही में बैन किये थे 59 चीनी ऐप

बता दें कि भारत सरकार ने हाल ही में 59 ऐप्स को प्रतिबंधित किया था, जिन्‍हें गूगल प्ले स्टोर और एपल ऐप स्टोर ने भारत में हटा दिया है, जिससे देश में मोबाइल फोन उपयोगकर्ताओं की इन ऐप तक पहुंच बंद हो गई है। भारत ने टिकटॉक, यूसी ब्राउजर, शेयरइट और वीचैट सहित चीनी से संबंध रखने वाले 59 ऐप पर प्रतिबंध लगाया है। सरकार का कहना है कि ये ऐप देश की संप्रभुता, अखंडता और सुरक्षा के लिए पूर्वाग्रह से ग्रस्त थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *