*बिजुरी क्षेत्र की आंचल बी.ए.ऑनर्स से गोल्ड मेडल से हुई पुरुस्कृत*

संतोष कुमार केवट
बिजरी नगर व अनूपपुर जिले सहित मध्यप्रदेश को किया गौरवान्वित
अनूपपुर। डोला—इंदिरा गांधी राष्ट्रीय जनजाति विश्वविद्यालय अमरकंटक का तृतीय दीक्षांत समारोह कल दिनांक 22 फरवरी 2021 को संपन्न हुआ जिसमें आँचल केशरवानी पिता रमेश गुप्ता व माता राजरानी गुप्ता निवासी बिजुरी तहसील कोतमा  जिला अनूपपुर मध्य प्रदेश के बी.ए. ऑनर्स(इतिहास) विभाग में अध्ययनरत रहकर पढ़ाई करते हुए वर्ष 2019 में ग्रेजुएशन कर उच्च अंक के साथ प्रथम स्थान प्राप्त किए हैं जिनका चयन गोल्ड मेडल के लिए हुआ है और तृतीय  दीक्षांत समारोह में गोल्ड मेडल से नवाजा गया है।
ऑनलाइन के माध्यम से राज्यपाल ने पुरस्कृत कर दी उज्वल भविष्य की शुभकामनाएं
कोरोना काल होने के कारण यूनिवर्सिटी के चांसलर माननीय राज्यपाल का आना नहीं हो पाया और उनकी शुभकामनाएं ऑनलाइन तरीके से पुरस्कार देकर किया गया हैकल दिनांक 22 फरवरी 2021 को केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल  “निशांक” एवं यू.जी.सी के चेयरमैन प्रोफेसर  डी.पी. सिंह के कुशल निर्देशन में ऑनलाइन दीक्षांत समारोह का आयोजन किया गया जिसमे  कुलप्रति प्रकाश त्रिपाठी जी के द्वारा गोल्ड मेडल एवं उपाधि प्रदान किया गया । ज्ञात हो की आँचल केसरवानी पढ़ाई के क्षेत्र में बचपन से ही अग्रणी रही हैं इनके पिता रमेश गुप्ता कोतमा कोर्ट में सीनियर वकील एवं नोटरी है और आम जनता की समस्या को लेकर हमेशा आगे खड़े होते है और माता राजरानी गुप्ता ग्रहणी हैं जिन्होंने अपने बच्चों को पढ़ाई के क्षेत्र में हमेशा अग्रसर रखने का भरपूर प्रयास किया है और यही प्रयास के कारण आँचल केसरवानी बी.ए.आनर्स (इतिहास)  विभाग से बैचलर की डिग्री में  गोल्ड मेडल जीतकर अनूपपुर जिला सहित मध्यप्रदेश को भी गौरवान्वित करने का पुनीत कार्य किया है। इनके पुरस्कृत होने पर माता पिता भाई बहन रिश्तेदार सहित सभी क्षेत्रवासियों शुभचिंतकों ने शुभकामनाएं प्रेषित की है।
शिक्षा के क्षेत्र में इनका रहा प्रमुख योगदान
हमारी टीम द्वारा जब आँचल केशरवानी से बात की गई तो उन्होंने बताया कि मेरे माता- पिता,भाई- बहन व परिजनों एवं लाल गुलाब हाई स्कूल बिजुरी तथा शासकीय कन्या हायर सेकेंडरी स्कूल बिजुरी के शिक्षकगण एवं अमरकंटक यूनिवर्सिटी के कुलपति एवं इतिहास विभाग के प्रोफेसर गढ़ एवं पूरा विश्वविद्यालय परिवार का शिक्षा के क्षेत्र में विशेष योगदान था जिस वजह से मुझे आज गोल्ड मेडल से पुरस्कृत किया गया है आंचल केसरवानी का प्रशासनिक सेवा व प्रोफेसर शिप करने की विशेष रुचि है जिसके लिए वो रात दिन पढ़ाई कर अपने लक्ष्य को प्राप्त करने का प्रयास कर रही हूँ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed