झिंझरी स्थित दद्दाधाम में पूर्णाहूति हवन एवं रूद्राभिषेक कें साथ गृहस्थ संत दद्दाजी व गुरुमाता जिज्जी बाई के भव्य मंदिर निर्माण का भूमिपूजन सम्पन्न

झिंझरी स्थित दद्दाधाम में पूर्णाहूति हवन एवं रूद्राभिषेक कें साथ गृहस्थ संत दद्दाजी व गुरुमाता जिज्जी बाई के भव्य मंदिर निर्माण का भूमिपूजन सम्पन्न

कटनी। गृहस्थ संत पंडित देवप्रभाकर शास्त्री दद्दा जी एवं पूज्य गुरूमाता श्रीमती कुंती देवी जिज्जी के भव्य मंदिर का निर्माण देवप्रभाकर नगर झिंझरी स्थित दद्दाधाम में कराया जा रहा है, जिसका भूमिपूजन वैदिक मंत्रोच्चार के बीच विधि-विधान के साथ भूमिपूजन संपन्न कराया गया ! भूमि पूजन कार्यक्रम में पंडित अनिल शास्त्री, विधायक संजय सत्येन्द्र पाठक, छतरपुर विधायक आलोक चतुर्वेदी पज्जन भैया, संतोष पांडे, डॉ. सुनील त्रिपाठी, पंडित नीरज त्रिपाठी, महाराजपुर विधायक नीरज दीक्षित ने किया। आचार्य पंडित पूरनलाल शास्त्री, पंडित कालिका प्रसाद पांडे, रामभद्राचार्य महाराज, पंडित बालमुकुंद त्रिपाठी, पंडित ओमप्रकाश त्रिपाठी की उपस्थित में भूमिपूजन संपन्न कराया। मंदिर निर्माण भूमिूपजन के अवसर पर दद्दा शिष्य मंडल कटनी द्वारा एक दिवसीय असंख्य पार्थिव शिवलिंग निर्माण का भी आयोजन किया गया। शिवलिंग निर्माण रूद्राभिषेक यज्ञ में कटनी सहित आसपास के कई जिलों से हजारों की तादात में आए दद्दा शिष्यों ने शिवलिंग निर्माण करते हुए पुण्यलाभ अर्जित किया। शिवलिंग निर्माण के दौरान राधे-राधे मंडली सागर के कलाकारों द्वारा समधुर भजनों की शानदार प्रस्तुति दी गई। ऊं नम: शिवाय और जय श्रीकृष्ण के जयघोषों से गूँजता रहा पंडाल ओम नम: शिवाय और जय श्रीकृष्ण के जयघोषों से पूरा पंडाल गूंजता रहा। शिष्यों की उपस्थिति से विशाल पंडाल खचाखच भर गया। ठंड और शीतलहर के बावजूद शिष्यों के उत्साह में कोई कमी नहीं आई। हर कोई दद्दा जी के मंदिर निर्माण भूमिपूजन का साक्षी बनना चाहता था। कटनी के साथ ही संपूर्ण भारत के शिष्यों को इस घड़ी का बेसब्री से इंतजार था।

5103 वर्गफुट में बनेगा भव्य मंदिर

जानकारी के मुताबिक पूज्य दद्दा जी और पूज्य गुरूमाता जिज्जी बाई के भव्य मंदिर का निर्माण कार्य 5 हजार 103 वर्गफुट में दद्दाधाम स्थित वृद्धाश्रम के ठीक बाजू से कराया जा रहा है, जो कि एक साल में बनकर तैयार होगा। मंदिर के निर्माण का कार्य वृद्धाश्रम का निर्माण करने वाले दद्दा शिष्य ठेकेदार रविकांत रैकवार द्वारा किया जाएगा। मंदिर निर्माण भूमिपूजन के इस पावन अवसर पर गृहस्थ संत पंडित देवप्रभाकर शास्त्री दद्दा जी एवं पूज्य गुरूमाता श्रीमती कुंती देवी जिज्जी की समाधि को फूलों से सजाया गया था। भूमिपूजन के उपरांत पूर्व महापौर श्रीमती निर्मला पाठक, विधायक संजय सत्येंद्र पाठक, छतरपुर विधायक आलोक चतुर्वेदी पज्जन भैया, महाराजपुर विधायक नीरज दीक्षित, डॉ. अनिल शास्त्री, डॉ सुनील त्रिपाठी, पंडित नीरज त्रिपाठी, संतोष पांडे आदि ने यहां पहुंचकर नमन किया एवं श्रद्धासुमन अर्पित किए। भूमिपूजन के पहले बुधवार की शाम दद्दाधाम में भजन संध्या का आयोजन किया गया। शिवलिंग निर्माण के पश्चात पूर्णाहूति हवन एवं रूद्राभिषेक किया गया। जिसमे शिष्यों ने पूर्णाहूति हवन में हिस्सा लिया। इसके पश्चात आयोजनस्थल पर विशाल भंडारे का आयोजन किया गया। जिसमे हजारों की संख्या में उपस्थित शिष्यों ने प्रसाद ग्रहण किया। इस अवसर पर पूर्व महापौर श्रीमती निर्मला पाठक, विधायक संजय सत्येंद्र पाठक, छतरपुर विधायक आलोक चतुर्वेदी पज्जन भैया, महाराजपुर विधायक नीरज दीक्षित, संतोष पांडे, डॉ सुनील त्रिपाठी, पंडित नीरज त्रिपाठी, विनोद तिवारी, मनीष पाठक, विजय मोदी, स्वामी अग्रवाल, अशोक गेडा, आलोक गोयनका, अभिलाष दीक्षित, मोहन केसरवानी, संतोष गुप्ता, राजकुमार शर्मा, प्रदीप भार्गव, अरुण पांडे, मोहन साहू, संजय सिंह सोलंकी, राजभान सिंह, तनवीर खान, दीपक दुबे, प्रेमलाल साहू, सुधीर गुप्ता, मनोज पंजवानी, आशीष पाठक, प्रदीप भार्गव, यश पाठक, रामकिशोर यादव, सतीश साहू, जे पी कारपेंटर, संजू अजवानी, श्री कृष्ण कारपेंटर, राजेंद्र कारपेंटर, एस के अग्रवाल जबलपुर, विनोद गुप्ता, राधेश्याम गुप्ता, संजीव श्रीवास्तव, राहुल गर्ग, संजय खरे, कृष्णा विश्वकर्मा, राजीव रंजन पांडे, संतोष गुप्ता, गोविन्द पटेल, विनीत गेडा, नितेश दुबे, राजकुमार साहू, ओमप्रकाश तपा, संजय साहू, श साहू, गुलाब दादा, मोहनलाल सोनी, डॉ आर एस तपा, लक्ष्मी नारायण वैद्य, राकेश सोनी, रजनीश मिश्रा, प्रकाश बाबू सोनी, चंचल अग्रवाल, मनीष मिश्रा, अमित पांडे, नितिन तपा, वेद प्रकाश राजोरिया, श्रीमती शशि पांडे, गौरी त्रिपाठी, रेणु पंजवानी, सुशीला गर्ग, लक्ष्मी टुड़हा, केदार टुड़हा, एस डी व्यास, रूप सिंह, पवन मुरारका, संतोष शुक्ला, राकेश गर्ग, जितेंद्र सिंह बघेल, सुमित अग्रवाल, अनुज तिवारी, गुड्डा जैन, नाजिम खान, राजेन्द्र दुबे, अशोक साहू, आशा पटेल, खुशबू पटेल, संगीता सिंह, रत्नासिंह परिहार, श्रीमती श्रीमती रानी दुबे, आभा सिंह सोलंकी, विमला सिंह परिहार, बबली मुरारका, पूनम अरोरा, लक्ष्मी कारपेंटर, माया त्रिपाठी, नंदनी पांडे, बॉबी सोलंकी, संजय गुप्ता, वीरेंद्र श्रीवास्तव, श्यामू मामा, संतोष अग्रवाल सहित बड़ी संख्या में शिष्यों की उपस्थिति रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *