बड़ी खबर : rajshree गुटके की कालाबाजारी पर प्रशासन का चाबुक @ 20 लाख से अधिक की राजश्री जप्त

दुकान सील कोतमा स्थित राजानी एजेंसी के खिलाफ हुई कार्यवाह

अनूपपुर। जिले के कोतमा विकासखंड मुख्यालय स्थित वार्ड नंबर 1 में राजानी एजेंसी के द्वारा आपदा को अवसर बनाकर rajshree की कालाबाजारी की जा रही थी, इसकी सूचना पुलिस और प्रशासन तक पहुंचने के बाद स्थानीय अनुविभागीय अधिकारी और पुलिस की संयुक्त टीम ने मौके पर पहुंचकर छापामार कार्यवाही की , लगभग 85 बोरे राजश्री के जप्त किए गए हैं, खबर है कि लॉक डाउन के समय के दौरान कलेक्टर के आदेशों का उल्लंघन करते हुए राजानी एजेंसी के संचालकों द्वारा अपने गोदाम से इसकी कालाबाजारी की जा रही थी, प्रशासन को इसकी खबर मिलने के बाद यह कार्यवाही की गई।


एसडीएम कोतमा ने बताया कि सूचना मिलने के बाद जब वे मौके पर पहुंचे तो 4 से 6 मजदूर एक बड़े वाहन से rajshree के बोरे उतार रहे थे और वहीं से बिक्री भी की जा रही थी SDM ने बताया कि राजानी एजेंसी के गोदाम को सील कर दिया गया है और आपदा प्रबंधन के साथ ही धारा 144 का उल्लंघन करने कालाबाजारी करने तथा अन्य धाराओं के तहत अपराधिक मामला कायम करने की कार्यवाही प्रस्तावित की गई है और आगामी आदेश तक दुकान और गोदाम भी बंद रहने के बातें कही गई ।


गौरतलब है कि राजानी एजेंसी के द्वारा अनूपपुर जिले ही नहीं बल्कि shahdol, anuppur, डिंडोरी और छत्तीसगढ़ के आसपास के अन्य जिलों में राशि का कारोबार किया जा रहा है, छत्तीसगढ़ के साथ ही अन्य स्थानों से यहां rajshree लाकर बिक्री की जाती है, बीते वर्ष भी लॉक डाउन के दौरान भी इनके द्वारा rajshree की कालाबाजारी कर करोड़ों रुपए का वारा-न्यारा किया गया था शासन द्वारा कार्यवाही की प्रशंसा की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *