अंधे हत्याकाण्ड का 5 दिन में हुआ खुलासा

कमिश्नरेट की पहली बड़ी कार्यवाही, दो आरोपी गिरफ्तार

(शुभम तिवारी+8770354184)
भोपाल। थाना मंगलवारा को 25 दिसम्बर 2021 को रात्रि 9 बजे के करीब 100 डायल पर सूचना मिली थी कि एक व्यक्ति सम्राट होटल के सामने नशे व घायल आवस्था में पड़ा है, जिसे इलाज के लिए हमीदिया अस्पताल 100 डायल द्वारा ले जाया गया उक्त घायल व्यक्ति हेमंत शर्मा निवासी पटेल नगर को इलाज के बाद परिजन के साथ घर भेज दिया था । 26 दिसम्बर को सूचना मिली कि मोहित शर्मा द्वारा सूचना दी गयी कि उसके भाई हेमंत शर्मा की मृत्यु हो गयी है । सूचना के बाद धारा 174 जाफो कायय कर जांच मे लिया गया तथा मृतक हेमंत शर्मा का पीएम करवाया गया। पीएम रिपोर्ट में लेख किया गया कि मृतक के ऊपर धारदार हथियार से वार किया गया, जिसके कारण उसकी मृत्यु हो गयी। जांच व पीएम रिपोर्ट के आधार पर थाना मंगलवारा भोपाल द्वारा धारा 302 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया ।
सनसनी खेज है प्रकरण
पुलिस आयुक्त भोपाल एवं पुलिस अतिरिक्त आयुक्त द्वारा थाना मंगलवारा के धारा 302 भादवि के अज्ञात आरोपियों की तलाश के लिए पुलिस उपायुक्त एवं पुलिस अतिरिक्त उपायुक्त एवं सहायक पुलिस आयुक्त हनुमान गंज संभाग द्वारा अपराध के आरोपियों की पतारसी एव गिरफ्तारी के लिए उचित दिशा निर्देश जारी किये गये तथा टीम तैयार की गयी। शहर मे कमिश्नरी प्रणाली लागू होने के बाद का यह सनसनी खेज प्रकरण था, जिसमें आरोपी पूर्णत: अज्ञात थे व हत्या करने का कोई उद्देश्य मर्ग जांच में सामने नहीं आया । विवेचना के दौरान घटना स्थल व उससे करीब आधा किलोमीटर आगे पीछे के 25 दिसम्बर 2021 के सीसीटीव्ही कैमरे देखे गये, जिसमें कुछ संदिग्ध चेहरे नजर आये।
चाकू मारकर भाग गये
हमीदिया रोड, पटवा, मार्केट, छावनी रोड, पातरा रोड, बरखेडी, जहांरीगावाद, एशवाग, बागउमराव दुल्हा आदि क्षेत्रो मे स्थित शराब दुकान, होटल व अन्य दुकानो में लगे सीसीटीव्ही कैमरो को देखा गया जिसमे दो संदेही नजर आये। सीसीटीव्ही मे आये संदेहियो के फुटेज के आधार पर संदेहियों की पतासाजी, तलाश लगातार की जा रही थी । 06 जनवरी 2022 को सीसीटीव्ही फुटेज मे दिख रहे दो व्यक्तियो को संदिग्ध हालात मे पकड़े गया, जिन्होने पूछताछ के दौरान बताया कि घटना दिनांक को रात्रि करीब 08:30 बजे संगम शराब की दुकान के आगे एक आदमी व महिला से 250 रुपये के विवाद में उन्होंने आदमी को चाकू से मारकर भाग गये। जिन्हे प्रकरण मे गिरफ्तार किया गया ।
पूर्व से नहीं थे परिचित
प्रकरण पूर्णत अंधा कत्ल था। प्रकरण में मृतक व आरोपी दोनों एक दूसरे को पूर्व से नही जानते हैं, उसी दिन रात मे घटना स्थल के आस-पास मुलाकात होती है, मृतक व आरोपी एक दूसरे से पूर्व से परिचित नही थे और न ही किसी प्रकार का कोई विवाद था आरोपीगण 25 दिसम्बर 2021 को अपने गांव से भोपाल घूमने आते हैं, रात मे घूमते समय उनका विवाद मृतक व महिला से होता है, जिसमें मृतक हेमंत पर वह धारदार हथियार से हमला करते हंै, जिसमे हेमंत की मौत हो जाती है।
ईनामी की हुई घोषणा
उक्त अपराध पुलिस के लिये एवं शहर में लागू हुए कमिश्नरी प्रणाली के लिये एक चुनौती था, पुलिस आरोपी निखिल ठाकुर पिता विजय सिंह ठाकुर उन्म 19 साल निवासी विजय सिंह पांजरा पोष्ट मगर्धा थाना बरेली, अभिषेक विश्वकर्मा पिता महेश विश्वकर्मा उम 19 साल निवासी पी.जी कालेज के पीछे धुरारिया रोड धाखेडा थाना बरेली जिला रायसेन को गिरफ्तार किया है, थाना मंगलवारा प्रभारी संदीप कुमार पवार, सउनि ओम प्रकाश, सउनि खेमराज, प्रआर धर्मेन्द्र शर्मा, प्रआर कमलेश पवार, प्रआर नफीस, आर मुकेश, आर कमल ठाकुर आर दिनेश के द्वारा पूर्ण संवेदनशीलता व सजगता से कार्य करते हुए आरोपी की पतासाजी कर गिरफ्तारी में अहम भूमिका अदा की गयी । अपराध का खुलासा करने में पुलिस आयुक्त भोपाल द्वारा टीम को 30 हजार रुपये की ईनाम की घोषणा की गयी है ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *