3 दिन रेस्क्यू के बाद मिला 6 साल की बच्ची का शव

शहडोल। जिले के केशवाही चौकी अंतर्गत 12 अगस्त को जन्माष्टमी में पास के मंदिर में सुबह दर्शन करने निकली मां सहित 3 बच्चियों के तेज बहाव में बह जाने से एक 6 साल की बच्ची का आज शाम ग्राम हररी से लगी कठना नदी के झाड़ी में शव मिला है।

तेज बहाव में एक साथ नदी पार करना पड़ा भारी

केसवाही के पास ही फाटक माई मंदिर के लिए निकली महिला केसवाही के ग्राम बुढ़ा की निवासी गीता अगरिया पति मूरत दिन अगरिया अपने तीन बच्चियों के साथ मंदिर में दर्शन को आई थी। उस दिन बारिश भी तेज हो रही थी बारिश तेज होने कारण थमने के इंतजार में शाम हो गई घर पहुचने की चाह ने कठना नदी को पार करते समय में अपने तीन बच्चियों के साथ तेज बहाव में चारों बह गए जिसमें मां ने एक बच्ची को कांधे में, एक को गोद में और एक की ऊंगली पकड़कर पार करना भारी पड़ गया वहीं माँ ने 2 बच्चियों को सुरक्षित बचा लिया लेकिन एक 6 साल की बच्ची को ढूढ़ने के चलते पूरी रात नदी के किनारे काटी सुबह होते ही गांव के लोगों ने इसकी सूचना केसवाहि चौकी को दी।

3 दिन के रेस्क्यू में आज मिला शव

सूचना मिलते ही चौकी अपने स्टाफ सहित रेस्क्यू टीम के सूचना के साथ 2 दिन तक रेस्क्यू के हाथ कुछ नहीं लगा जहा आज सुबह से कटना नदी व आसपास नदी नालों ढूढते 2 दिन तक बच्ची का पता नहीं चल पाया जहां शाम होते ही रेस्क्यू टीम ने 6:00 बजे बच्ची को घटनास्थल से 10 किलोमीटर दूर ग्राम हर्री के पास झाड़ियों से शव बरामद किया है। जहा शव परिजनों को सौंप कर आगे की कार्यवाही की जा रही है।जिसमे चौकी प्रभारी अर्चना धुर्वे ,प्रधान आरक्षक सुदामा प्रसाद, मोहन पड़वार, दिनेश ,रामकिशोर, रेस्क्यू टीम सहित गांव के काफी लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *