खरीदा प्याज का बीज, पैदा हुई करायल

शर्मा बीज भण्डार का अजीबो-गरीब कारनामा

करकेली। जनपद पंचायत मुख्यालय स्थित शर्मा बीज भंडार से विगत दिनों किसानों ने प्याज का बीज ले जाकर खेती की गई थी, लेकिन किसानों के खेतों में सिर्फ कराल का ही पौधा बनकर तैयार हुआ , किसान मनीराम राठौर, शिवपाल बैगा ,गेंद लाल सिंह सहित अन्य किसान द्वारा बीज भंडार में आकर बीज डीलर से अपनी समस्या बताने लगे, लेकिन बीज डीलर द्वारा किसानों को परेशान करने की बात कही गई, जिससे किसान परेशान होकर थाना में रिपोर्ट करने की बात कही।
किसानों के यह हैं आरोप
किसान मनीराम राठौर ने बताया कि मैं 28 सौ रुपए का 1 किलो प्याज का बीज ले गया था, बीज लगाने पर करायल जमी, मैं कम से कम इस प्याज से 50 हजार रुपए कमाता और अपने परिवार का भरण पोषण वर्ष भर करता हूं, लेकिन इस वर्ष मेरी आर्थिक स्थिति खराब हो चली, नकली बीज के चलते अब मैं बहुत आहत हूं मेरी आर्थिक स्थिति कैसे चलेगी, इसी तरह शिवपाल बैगा ने बताया 15 सौ रुपए का आधा किलो बीज लेकर गया, वह भी करायल के रूप में जमा, इसी तरह किसान गेंदलाल किसान ने भी जानकारी में बताया तीन हजार का 1 किलो प्याज का बीज लेकर गया, जिसमें करायल के पौधे तैयार हुआ।
तय नहीं की जाती जवाबदारी
किसानों का कहना है कि बीज दुकानदार ने हम लोग के साथ गलत किया है , जिसको लेकर काफी आहत हैं, किसानों ने बताया प्रेरणा कंपनी की के बीच ले जाया गया, जिससे किसानों को बीज भंडार द्वारा धोखे में रखकर ऊंचे दाम में प्याज का बीज बताकर बेचा गया, लगातार क्षेत्र में कई जगह बीज भंडार संचालित होने से किसानों को ठगा जा रहा है, शासन-प्रशासन द्वारा ऐसे बीज भंडारों के प्रति कोई जवाबदारी तय नहीं की जाती है ना ही कार्यवाही की जाती है, जिससे किसानों को लूटा न जा सके, ऐसे न जाने कितने किसान जो बीज भंडार से अमानत के रूप में बीज खरीद के ले कर जाते हैं और उन्हें सिर्फ नुकसान का सामना करना पड़ता है । जिले में कृषि विभाग द्वारा बीज भंडारों की सतत् निगरानी नहीं की जाती, न ही बीजों की जांच की जाती है, जिससे किसान ठगा जाता है।
इनका कहना है…
यह कंपनी इंदौर की है, जो पैकिंग में हमें दे कर जाते हैं और हमारे द्वारा बेचा जाता है।
संचालक
बीज भंडार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *