शिविर आयोजित कर विधिक सेवा योजनाÓ एवं Óपंच जÓ के संबंध में लोगों को किया जागरूक

शहडोल। आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम अंतर्गत जिला विधिक सेवा प्राधिकरण शहडोल द्वारा नालसा की मानसिक रूप से विकलांग व्यक्तियों के लिये विधिक सेवा योजनाÓ एवं Óपंच जÓ के संबंध में प्रधान एवं जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष व्ही.पी. सिंह के मार्गदर्शन में विधिक जागरूकता शिविर शुक्रवार को ग्राम मझौली तहसील गोहपारू में आयोजित किया गया। आयोजित शिविर में आमजन को जानकारी देते हुये बताया गया कि, मानसिक रूप से कमजोर बच्चों को प्रारंभिक अवस्था में ही इलाज कराना चाहिए, देर करने पर यह समाज का बोझ बन जाता है, इसके लिए सामूहिक प्रयास करने की आवश्यकता है। मानसिक रूप से बीमार बच्चे को पहचानना कठिन है इसलिए इलाज में समस्या होती है। इस क्षेत्र में विज्ञान ने काफी प्रगति की है। अब गर्भस्थ शिशु का ही पूरा चेकअप हो जायेगा और प्रभावित अंग का बेहतर उपचार किया जा सकेगा। वर्तमान समय में हीन भावना से ग्रसित बच्चे व युवा मानसिक रूप से बीमार के शिकार हो रहे हैं। ऐसे व्यक्तियों के लिए प्राधिकरण द्वारा अधिकार प्राप्ति को लेकर मुफ्त विधिक सहायता प्रदान की जाती है। साथ ही Óपंच जÓ शिविर के बारे में जागरूक करते हुये बताया कि जिला प्राधिकरण का यह प्रयास होता है कि जागरूकता शिविर के माध्यम से विभागों को शामिल कर योजनाओं की जानकारी हितग्राही को मिले जिससे हितग्राही योजनाओं और अधिकारों के प्रति जागरुक हो और योजनाओं से लाभान्वित हो सकते है। कृषि विभाग से संचालित योजनाओं के साथ जैविक खेती की उपयोगिता को बताया।
इसके अतिरिक्त बलराम योजना, गोबर गैस, पोषण वाटिका आदि की भी जानकारी दी। पशुओं को कृषि के लिए उपयोगी होने की जानकारी के साथ पशुओं के रोजगार के अवसर होने की जानकारी भी दी तथा बताया कि मवेशियों को मुंहपका और खुरपका बीमारी से बचाने के लिए आधार कार्ड भी बनता है, मुर्गी पालन के लिए चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी दी साथ ही पशुओं को बीमारियों की पहचान और उनके उपचार के बारे में विस्तृत रूप से बताया। शिविर में उपस्थित जनसमूह को जन, जंगल, जमीन, जल और जानवर के संबंध में संवेदनशील रहने तथा इनके संवर्धन एवं संरक्षण के संबंध में शासन की योजनाओं का लाभ लेते हुए कार्य करने हेतु प्रेरित किया गया। साथ ही सामाजिक न्याय एवं कल्याण विभाग के प्रथम कला द्वारा आस-पास के ग्रामों में विधिक योजना एवं अन्य योजनाओं का प्रचार-प्रसार किया गया। शिविर में समाजिक न्याय एवं कल्याण विभाग, महिला बाल विकास विभाग एवं जिला विधिक प्राधिकरण के अधिकारी एवं कर्मचारीगण, पैरालीगल वालेंटियर्स तथा स्थानीय आमजन उपस्थित रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *