मेडिकल कॉलेज में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी का कारोबार

प्रबंधन की फर्जी सील सहित कर्मचारियों के जुड़े होने की आशंका

शहडोल। जिले में पैरामेडिकल स्टाफ में नियुक्ति कराने के नाम पर बड़ा ठग गिरोह सक्रिय हो गया है। मेडिकल कॉलेज में नियुक्ति कराने के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह के पास आवेदकों से जुड़ी पूरी जानकारी भी है। ठग गिरोह का खुलासा 1 फरवरी को शहडोल पहुंची छात्रा ने भी बीएससी नर्सिंग की थी। इसके अलावा अन्य नाम भी सूची में शामिल हैं। अधिकांश नर्सिंग की पढ़ाई से जुड़े छात्र-छात्राएं हैं। जब छात्रा ज्वाइनिंग लेटर और दस्तावेजों के साथ मेडिकल कॉलेज शहडोल पहुंची। प्रबंधन ने स्थानीय पुलिस अधिकारियों को मामले की जानकारी दी है।
2 लाख की डिमांड
1 फरवरी को मेडिकल कॉलेज प्रबंधन के सामने नियुक्ति के नाम पर धोखाधड़ी करने का एक मामला सामने आया है। छात्रा के साथ 50 हजार रुपए की ठगी की गई है। इसके साथ ही 2 लाख रुपए की और डिमांड की जा रही थी। संदेह होने पर छात्रा परिजनों के साथ मेडिकल कॉलेज शहडोल ज्वाइनिंग लेटर लेकर पहुंची। जहां पर पूरे मामले का खुलासा हुआ। उधर शहडोल पुलिस ने भी मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच शुरू कर दी है। चर्चा है कि एक प्रजापति नामक व्यक्ति पूरे मामले लोगों से ठगी कर रहा है।
31 आवेदकों की लिस्ट
कथित के सरगना और उसके प्यादों ने सतना निवासी छात्रा के पास 31 आवेदकों की लिस्ट भेजी है। जिसमें प्रदेश भर के 31 लोगों के नाम हैं। शहडोल, डिंडौरी, अनूपपुर और गुना तक के आवेदक शामिल हैं। जिसमें कहा है कि नर्सिंग स्टॉप के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेजों के साथ वैरिफिकेशन के लिए मेडिकल कॉलेज शहडोल निर्धारित समय और तिथि को पहुंचे है। 31 आवेदकों को मेडिकल कॉलेज में दस्तावेजों के साथ पहुंचने के लिए कहा गया था।
डीन कार्यालय की फर्जी सील
गिरोह ने प्लानिंग के साथ आवेदकों के साथ धोखाधड़ी की है। पहले आवेदन मंगाए गए, बाद में एनएचएम का उल्लेख करते हुए फर्जी तरीके से दस्तावेज तैयार किए। इसके बाद मेडिकल कॉलेज शहडोल के डीन कार्यालय की फर्जी सील से ज्वाइनिंग लेटर भी जारी किया गया है। इतना ही नहीं, आवेदकों को मोबाइल पर बकायदा मैसेज भी भेजे गए हैं। कॉलेज प्रबंधन के अनुसार, पूर्व में भी ऐसे मामले आ चुके हैं। पूर्व में एक छात्रा टेक्निशीयन की ट्रेनिंग से जुड़े दस्तावेज लेकर पहुंची थी। संदेह होने पर मेडिकल कॉलेज प्रबंधन ने दस्तावेज की जांच शुरू की तो युवती चंपत हो गई थी।
इनका कहना है…
इस संबंध में पुलिस अधिकारियों को भी अवगत कराया गया है। मामले की जांच कराई जा रही है।
डॉ. मिलिन्द्र शिरालकर
डीन, मेडिकल कॉलेज शहडोल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *