नगर पालिका में सफाई व्यवस्था चौपट

वार्डाे में पसरी गंदगी, फोटो खिचाने में व्यस्त जिम्मेदार

(नारद+91 98265 50631)
शहडोल। नगर की साफ सफाई व्यवस्था चरमरा गई है, सफाई नहीं होने के कारण कचरा वार्डों में पसरा है, नगर के विभिन्न वार्डों में फैली गंदगी से लोग हलाकान हैं, वही वार्डों की नालियों में कचरा बजबजा रही हैं और बारिश होने पर नाली का गंदा पानी सड़को पर उफना जाता है, नगर पालिका के सफाई कर्मचारी किसी प्रकार की सफाई करने का नाम नहीं ले रहे है। जिसका खामियाजा आम नागरिकों भुगतना पड़ रहा है। शासन द्वारा स्वच्छता अभियान तो चलाई जा रही है, लेकिन नगर की स्थित को देखते हुए इसे महज दिखावा कहा जाए तो अति संयोक्ति नहीं होगा।
कटघरे में कार्यप्रणाली
नगर की नालियों में बदबू तथा नालियों का पानी सड़कों पर आ रहा है। बारिश पूर्व सफाई अभियान की शुरुआत वार्डों में नहीं की गई जिसका खामियाजा अब नगरवासी भुगत रहे है। हर माह लाखों रुपए नगर की सफाई के लिये खर्च करने के बावजूद भी सफाई के नाम पर खानापूर्ति की जा रही है। कोरोना काल में पसरी गंदगी ने नगर पालिका के जिम्मेदारों की कार्यप्रणाली को कटघरे में खड़ा कर दिया है।
गंदगी का आलम
नगरवासी सफाई नहीं होने की बात कह रहे है तो पालिका के कर्मचारी भी इसकी शिकायत सीधे सीएमओ से करने की नसीहत दे रहे हैं। नगरपालिका के द्वारा मुख्य रूप से संपत्ति कर, समेकित कर और जल कर वसूला जाता है। किंतु नगर की गंदगी जिसे सफाई करने पालिका रूचि नहीं ले रही है, लेकिन मजे की बात यह है स्टेडियम के पीछे डिग्री हॉस्टल के पास क्षेत्रीय कार्यालय एमपी स्टेट माइनिंग कार्पोरेशन के सामने सड़क पर गंदगी का अंबार लगा हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *