भाजपा में छिड़ी वर्चस्व व श्रेय लेने की होड़

बुढ़ार। जैतपुर विधानसभा अन्तर्गत 6 बिस्तर के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र तथा 30 बिस्तर के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र भवन के उन्नयन कार्यक्रम में शिला पर लिखे नामों को लेकर विवाद की स्थिति निर्मित हो गई, 573.81 लाख की लागत से होने वाले उक्त निर्माण कार्य का जिम्मा पीआईयू को दिया गया है, 29 अगस्त सोमवार को शिलान्यास कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें भाजपा के स्थानीय सांसद को स्थानीय ग्रामीणों की मांग के बाद भी दरकिनार कर दिया गया, जिसको लेकर यहां आपस में ही भाजपाई भिड़ गये, वर्चस्व तथा श्रेय लेने की होड़ भाजपा में इन दिनों लगातार बढ़ती जा रही है, इससे पहले जिला पंचायत चुनावों और निकाय चुनावों में जीत के श्रेय को लेकर भाजपाई पहले ही भिड़ चुके हैं।
यह लिखा शिलालेख में
573.81 लाख जैसे बड़े बजट के शासकीय निर्माण कार्य से स्थानीय सांसद को क्यों दूर रखा गया, यही नही स्थानीय सांसद प्रतिनिधि अर्जुन सोनी और अन्य भाजपा नेताओं के द्वारा इस प्रस्ताव को स्थानीय विधायक ने खारिज कर दिया, भाजपा के अंदर खाने में क्या चल रहा है, यह तो वही जाने, लेकिन शिलान्यास कार्यक्रम में प्रभारी मंत्री रामखिलावन पटेल, स्थानीय विधायक श्रीमती मनीषा सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष के पास कोई जनप्रतिनिधि का पद न होने के कारण उनके नाम के आगे समाजसेवी लिखा गया, यही नहीं स्थानीय जनपद सदस्य व सरपंच तक का नाम शिला में अंकित किया गया, भाजपा के कार्यकर्ताओं ने इस बात को लेकर आपत्ति जताई कि इतने बड़े कार्यक्रम में स्थानीय सांसद का नाम तथा उसे आमंत्रण होना चाहिए, जनप्रतिनिधियों के क्रम में बुढ़ार जनपद सदस्य का नाम लिखा गया, लेकिन बुढ़ार जनपद की अध्यक्ष उमा धुर्वे जो कांग्रेस से ताल्लुक रखती हैं, उन्हें भी आमंत्रित नहीं किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed