स्लीमनाबाद में अंडर ग्राउंड टनल निर्माण में कांक्रीट स्लैब धंसा, मजदूरों को बाहर निकालने युद्धस्तर पर चला रेस्क्यू ऑपरेशन

स्लीमनाबाद में अंडर ग्राउंड टनल निर्माण में कांक्रीट स्लैब धंसा, मजदूरों को बाहर निकालने युद्धस्तर पर चला रेस्क्यू ऑपरेशन

कटनी ॥ शनिवार की देर शाम स्लीमनाबाद के नजदीक बरगी नहर परियोजना अंतर्गत अंडरग्राउण्ड टनल निर्माण कार्य के दौरान कांक्रीट का स्लेब गिरने से 9 मजदूर उसमें फंस गये था। जिसकी सूचना मिलने पर कलेक्टर प्रियंक मिश्रा, पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार जैन तत्काल मौके पर पहुंचे। इस दौरान बहोरीबंद विधायक प्रणय प्रभात पाण्डे भी मौका स्थल पर मौजूद रहे। वहीं मौके पर एनवीडीए की रेस्क्यू टीम द्वारा बचाव कार्य प्रारंभ किया गया। जिसमें शनिवार की रात्रि में 3 मजदूरों को सकुशल रेस्क्यू कर निकाल लिया गया था ! नर्मदा नदी का पानी विंध्य ले जाने के लिए स्लीमनाबाद में टनल खुदाई में लगी टनल बोरिंग मशीन (टीवीएम) में खराबी आने के बाद सुधार के लिए मशीन तक पहुंचने कुआनुमा गड्ढा खुदाई में बड़ा हादसा हो गया। 12 फरवरी की शाम करीब 7.30 बजे 25 फिट गहराई तक गड्ढा खुदाई हो जाने के बाद उसका दो हिस्सा अचानक धसक गया। इस हादसे में 9 श्रमिक फंस गए थे, जिनमे से स्लैब के नीचे दबे 7 श्रमिकों को टीम ने मशक्कत कर सुरक्षित निकाला, 2 श्रमिकों को निकालने जारी रहा देर रात तक रेस्क्यू जारी है !
जिन्हे निकालने के लिए लगातार राहत और बचाव कार्य जारी रहा। हादसे के बाद शुरू के 14 घण्टों में 7 लोगों को निकाल पाए। सभी लोग स्वस्थ है। बचाव कार्य में जुटी टीम मेहनत से काम कर रही है। जानकारी के अनुसार मजदूर मशीन तक पहुंचने खोद रहे थे गड्ढा टनल बोरिंग मशीन जमीन से करीब 80 फिट गहराई में नहर खुदाई में लगी है। इस मशीन के एक हिस्से में खराबी आने के बाद मशीन तक पहुंचने के लिए गड्ढा खुदाई का काम चल रहा था। करीब 25 फिट गहराई में गड्ढा खुदाई के बाद दो हिस्सा धंसक गया और 9 श्रमिक उसके अंदर फंस गए थे !

इनका किया गया रेस्क्यू –

1 – मोनीदास कोल पिता शिवकरण कोल उम्र 31 वर्ष निवासी बड़कुर ग्राम जिला सिंगरौली चितरंगी मध्यप्रदेश

2 – दीपक कोल पिता हिचलाल कोल उम्र ३५ वर्ष निवासी ग्राम बड़कुर थाना चितरंगी जिला सिंगरौली

3 – नर्मदा कोल पिता काशी प्रसाद कोल उम्र 40 वर्ष निवासी ग्राम बड़कुर थाना चितरंगी जिला सिंगरौली

4 – विजय कोल पिता राममिलन उम्र 35 वर्ष निवासी ग्राम बड़कुर थाना चितरंगी जिला सिंगरौली

5 – इंद्रमणी कोल पिता राजे कोल उम्र 30 वर्ष निवासी ग्राम बड़कुर थाना चितरंगी जिला सिंगरौली

6 – नंदकुमार यादव निवासी नोडिहवा थाना चितरंगी जिला सिंगरौली

7 – मोतीलाल कोल उम्र 30 वर्ष निवासी ग्राम बड़कुर थाना चितरंगी जिला सिंगरौली

इनका रेस्क्यू कार्य जारी हैः-

8) गोरेलाल कोल पिता भागीरथी कोल उम्र 3० वर्ष निवासी ग्राम बड़कुर थाना चितरंगी जिला सिंगरौली

9) रवि नागपुर का सुपरवाइजर।

विस्तृत जानकारी
स्लीमनाबाद टनल हादसे के दौरान के बाद से लगातार चले रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान लगभग 16 घंटे से जारी है मजदूरों को बचाने रेस्क्यू ऑपरेशन 7 मजदूर सुरक्षित बाहर निकाले जा चुके हैं। मजदूरों को निकालने के लिए नेशनल डिजास्टर्स रिस्पांस फोर्स (एनडीआरएफ) की भोपाल, बनारस और जबलपुर के साथ ही कटनी एसडीआरएफ की टीम लगातार मशक्त कर रही है। जैसे-जैसे मजदूरों को बाहर निकाला जा रहा था घटना स्थल पर मौजूद लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस से श्रमिकों कों जिला अस्पताल रवाना किया जा रहा था जहॉ पर सभी का उपचार जारी है ! हादसे में फंसे दीपक, नर्मदा व मुन्नीदास को 12 फरवरी की शाम ही सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया था। रात में लगातार चले राहत और बचाव कार्य के बाद ढाई बजे इंद्रमणि कोल और सुबह 4 बजे विजय कोल को बाहर निकाला गया। इसके बाद बचाव कार्य तेज किया गया और सुबह 9.30 बजे एक और श्रमिक मोतीलाल कोल को बाहर निकाला गया। सभी मजदूर सिंगरौली जिले के हैं। इस ऑपरेशन में देर रात 2 और मजदूरों को भी मलवे से निकालने में टीम ने सफलता हासिल की। जिसके बाद रविवार की प्रातः तक अन्य दो मजदूरों को भी सकुशल मलवे से निकाल लिया गया। रविवार की शाम तक 9 में से 7 मजदूरों को सकुशल निकाल कर उन्हें चिकित्सीय उपचार के के लिये जिला अस्पताल पहुंचाया गया।
मौके पर स्थानीय विधायक प्रणय पांडेय के साथ ही कलेक्टर प्रियंक मिश्रा, एसपी सुनील जैन, एसडीओपी मोनिका तिवारी के साथ ही बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात है। रात में जबलपुर से आइजी व डीआइजी भी मौके पर पहुंचे और राहत और बचाव कार्य का जायजा लिया।
स्लीमनाबाद टनल हादसे के संबंध में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान घटना के संबंध में जानकारी ली और मजदूरों को सुरक्षित निकालने हर संभव प्रयास करने के निर्देश प्रशासनिक अमले को दिये।
स्थानीय सांसद व भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा भी पल-पल घटना की जानकारी लेते रहे। इस घटना की सूचना पर आईजी जबलपुर अजीत जोगा, डीआईजी जबलपुर, सीईओ जिला पंचायत जगदीश चन्द्र गोमे, अपर कलेक्टर रोमानुस टोप्पो, एएसपी मनोज केडिया सहित अन्य प्रशासनिक एवं पुलिस के अधिकारी भी मौजूद रहे। पूरे रेस्क्यू के दौरान विधायक Pranay prabhat Pandey,, Collector Katni प्रियंक मिश्रा प्रियंक मिश्रा, Sp Katni सुनील जैन सहित वरिष्ठ अधिकारी रहे मौजूद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *