पूर्व मु यमंत्री मोतीलाल वोरा के निधन पर शोक संवेदना

शहडोल। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मोतीलाल वोरा का स्वास्थ्य संबंधी जटिलताओं के कारण सोमवार को निधन हो गया, वह 93 साल के थे। उनके परिवार के सदस्यों ने बताया कि यूरिनरी इंफेक्शन के बाद उन्हें एस्कॉर्ट हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया था, जहां वह वेंटिलर पर थे। सोमवार को उनका निधन हो गया। रविवार (20 दिसंबर) को ही श्री वोरा  का जन्मदिन था। मोतीलाल वोरा मध्य प्रदेश के दो बार मु यमंत्री भी रह चुके हैं। वे पहली बार साल 1985-1988 तक सीएम रहे थे और फिर 1989 में मध्य प्रदेश के मु यमंत्री बनें। वह गत अक्टूबर महीने में कोरोना वायरस से संक्रमित हुए थे और कई दिनों तक अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (ए स) में भर्ती रहने के बाद उन्हें छुट्टी भी मिल गई थी। कांग्रेस नेता जिला कांग्रेस अध्यक्ष आजाद बहादुर सिंह सहित समस्त कांग्रेस जनों द्वारा उनके निधन पर दुख प्रकट करते हुए कहा है कि, वोरा जी एक सच्चे कांग्रेसी और बेहतरीन इंसान थे, हमें उनकी कमी बहुत महसूस होगी। उनके परिवार और मित्रों के प्रति मेरा स्नेह एवं संवेदना है। जिला प्रवक्ता हुसैन अली ने श्री वोरा के निधन पर दुख जताते हुए कहा कि उनके निधन से कांग्रेस पार्टी के हर एक नेता, हर एक कार्यकर्ता को व्यक्तिगत तौर पर दु:ख महसूस हो रहा है। श्री वोरा कांग्रेस की विचारधारा के प्रति निष्ठा, समर्पण और धैर्य के प्रतीक थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed