मेडिकल कॉलेज की व्यवस्थाओं को लेकर कांग्रेस ने उठाये सवाल

शहडोल। सम्भागीय मुख्यालय में मेडिकल कालेज तो खोल दिया गया लेकिन कोरोना काल मे मेडिकल कालेज में ऑक्सीजन की उपलब्धता का न होना बड़ा सवाल है, पत्रकार वार्ता के दौरान जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष आजाद बहादुर सिंह ने इस पर चिंता व्यक्त की , उन्होंने कहा कि मेडिकल कालेज में लगातार हो रही मौतों और लगातार स्वास्थ्य सेवाओं का गिरता स्तर चिंतनीय है, उन्होंने कहा कि करोड़ो रूपये खर्च होने के बाद भी माकूल इंतजाम नही किये गए है, आम नागरिक परेशान है।

आजाद बहादुर ने स्वास्थ्य के साथ ही शिक्षा के गिरते स्तर, निजी स्कूलों की अवैध वसूली सहित बीते दिनों रेल मंत्रालय द्वारा चालू की गई ट्रेनों के संदर्भ में भी कहा कि प्रदेश सरकार व केंद्र सरकार हमारे क्षेत्र के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है, उन्होंने कहा कि जब अन्य क्षेत्रों की ट्रेन चालू कर दी गई है तो शहडोल, अनूपपुर व उमरिया की जनता को इससे वंचित क्यो रखा गया है, श्री बहादुर ने स्थानीय जनप्रतिनिधियों को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि वे अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन नही कर रहे है, दवाओं के लिए , आवश्यक कार्यो के लिए हमारे जिले की जनता भारी राशि खर्च कर निजी वाहनों में जा रही है, जब भारतीय जनता पार्टी के कार्यक्रम आयोजित हो रहे है रैलियाँ निकाली जा रही है तो ट्रेन क्यो नही चालू की जा रही है।

कांग्रेस नेता ने रेत की कालाबाजारी और रेत के बढ़े दामो पर भी चिंता व्यक्त की , उन्होंने खनिज माफिया पर अंकुश लगाने के साथ रेत के दामो का निर्धारण करने की भी मांग की।

कांग्रेस अध्यक्ष ने मेडिकल कालेज में जन सुविधाओं को बढ़वाने के लिए भाजपा के पदाधिकारियों , विधायक, सांसद से अपील की ,कि क्षेत्र की जनता को मेडिकल की सुविधाएं दिलाने के लिए अपनी सरकार से मदद दिलवाए, आक्सीजन का रोना न रोये, बजट का अलॉट करवाये, ताकि क्षेत्रीय जनों की जान बचाई जा सके।

जिला कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता दिनेश अग्रवाल ने कहा कि मेडिकल कालेज के आधे पड़ खाली पड़े है , उन्होंने कहा कि मेडिकल कालेज में एनेस्थीसिया का कोई डॉक्टर नही है, मेडिकल कालेज में 166 पद है, जिसमे 70 पदो पर कर्मचारी है, बाकी पद खाली पड़े है, आज से मानसून सत्र चालू है, लेकिन हमारे जनप्रतिनिधि कभी भी क्षेत्र का मुदा नही उठाते, इन्हें जनता से कोई सरोकार नही है, आयोजित पत्रकार वार्ता में कांग्रेस प्रवक्ता मोहम्मद हुसैन भी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *