यहां 22 अप्रैल तक बढ़ा कोरोना कर्फ्यू

उमरिया। जान है तो जहांन है, आम जन का कोरोना संक्रमण से बचाव जिला प्रशासन की प्राथमिकता है। कोरोना के बढ़ते संक्रमण की चैन को तोडऩे हेतु जिला क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी द्वारा जिले में 22 अप्रैल तक कोरोना कफ्र्यू बढाने का निर्णय लिया गया है। जिलावासियो से अपील है कि कोरोना संक्रमण के बचाव के सभी नियमो का पालन करें । बिना मास्क के घर से बाहर नही निकलें । मास्क व्यवस्थित तरीके से नाक को ढंकते हुए पहनें। अति आवश्यक कार्य होने पर ही घर से बाहर निकले। भीड़ भाड़ वाली जगहों में नही जाए । सोशल डिस्टेसिंग का पालन करें। साबुन पानी से बार बार हाथ धोए। इस आशय की अपील प्रदेश शासन की जन जातीय कार्य मंत्री एवं जिले की प्रभारी मंत्री सुश्री मीना सिंह ने कलेक्ट्रेट सभागार मे संपन्न जिला क्राइसिस कमेटी की अध्यक्षता करते हुए इस आशय के निर्देश दिए।

मंत्री सुश्री मीना सिंह ने कहा कि शहरी क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण की जांच हेतु दो सेंटर बनाए जाए। कंटेनमेंट क्षेत्र में पुलिस का नियमित भ्रमण हो । होम आईसोलेशन वाले मरीजों से चिकित्सक नियमित रूप से बात करे। टेस्ट रिपोर्ट शीघ्रता से प्राप्त हो। जिले में साप्ताहिक बाजार बंद रखे जाए। संबंधित ग्रामों मे किराना की दुकानों के लोग किराना खरीद सकेगे। जिन ग्रामों में अधिक संख्या में कोरोना पाजीटिव मिल रहे है, वे ग्राम कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित किए जाए तथा उस ग्राम के सभी लोगों की कोरोना टेस्टिंग की जाए। जिला मुख्यालय मे दीनदयाल रसोई का संचालन नियमित रखा जाए। चेक पोस्ट बनाकर बाहर से आने जाने वाले व्यक्तियों की जानकारी रखी जाए तथा उनकी कोरोनो टेस्टिंग कराई जाए। रेल्वे स्टेशन में भी आने जाने वाले यात्रियों की कोरोनो टेस्टिंग की व्यवस्था की जाए।
कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव ने बताया कि जिले में कोरोना कफ्र्यू 22 अप्रैल तक के लिए पूर्व में जारी निर्देशों के तहत बढाया जा रहा है। लगातार स्वास्थ्य सुविधाएं बढाने का प्रयास किया जा रहा है। कम संसाधनो के बावजूद जिले के चिकित्सक बेहतर तरीके से सेवाएं दे रहे है, उनकी सराहना की जानी चाहिए। जिला समन्वयक जन अभियान एस एस शर्मा ने बताया कि जिले में 750 वालेन्टियर चिन्हित किए गए है जिनकी सेवाएं मास्क वितरण, रोको टोको अभियान, भीड नियंत्रण , हेल्प डेस्क आदि में ली जा सकेगी। कलेक्टर द्वारा वालेन्टियर की सूची एसडीएम , तहसीलदार, नगर निरीक्षक तथा चिकित्सा विभाग को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *