बेटियां जीवन में विभिन्न दायित्वों का निर्वहन करती है : कैबिनेट मंत्री

मंत्री मीना सिंह ने नव निर्मित वन स्टाप सेंटर सखी का किया लोकार्पण

उमरिया। बेटियां जीवन में विभिन्न दायित्वों का निर्वहन करती है, इसलिए कहा जाता है बेटी है तो कल है, बेटियां अपने जीवन में पुत्री के रूप में, मां के रूप में तथा दादी एवं नानी के रूप में अपने परिवार तथा समाज को संरक्षण प्रदान करती है। प्रदेश सरकार द्वारा राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर पंख अभियान शुरू किया गया है, जिसका उद्देश्य बेटियों को सुरक्षा, जागरूकता, कुपोषण से मुक्ति, शिक्षा तथा स्वास्थ्य एवं हाईजीन की सुविधा उपलब्ध कराना है। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा प्रदेश में बेटियों एवं महिलाओं के सम्मान के लिए अनेको योजनाएं संचालित की है, जिसमें लाडली लक्ष्मी योजना, लाडो अभियान, बेटी बचाओ, बेटी पढाओ, उदिता योजना, प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना, शौर्या दल, मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना आदि शामिल है। प्रदेश की 37 लाख बेटियों को लाडली लक्ष्मी योजना का लाभ दिया गया है। उक्त आशय के विचार प्रदेश शासन की जन जातीय कार्य मंत्री सुश्री मीना ंिसह ने मुख्यालय में राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को मुख्य अतिथि की आसंदी से संबोधित करते हुए व्यक्त किए।
मुख्यमंत्री के कार्यक्रम का हुआ लाइव प्रसारण
उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री श्री चौहान लाडली लक्ष्मी बेटियों की पढ़ाई एवं विवाह में मद्द की घोषणा की है। बेटियों के सम्मान एवं सुरक्षा के लिए तथा समाज के बेटा-बेटी के अंतर को समाप्त करने के लिए सरकार के साथ समाज को भी आगें आना होगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता बांधवगढ विधानसभा क्षेत्र के विधायक शिवनारायण सिंह ने की। वन स्टाप सेंटर में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के वर्चुअल वीडियो कान्फ्रेंसिंग का लाईव प्रसारण प्रदेश शासन की जन जातीय कार्य मंत्री सुश्री मीना सिंह, बांधवगढ़ विधानसभा क्षेत्र के विधायक शिवनारायण सिंह, कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव सहित गणमान्य नागरिको ने देखा एवं सुना। कार्यक्रम का शुभारंभ कन्या पूजन एवं मां सरस्वती की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्जवलन कर किया गया। कार्यक्रम में अंशिका सिंह द्वारा सरस्वती वंदना एवं स्वागत गीत की मनमोहक प्रस्तुति दी गई। कार्यक्रम का संचालन डॉ. ऋचा गुप्ता द्वारा किया गया।
मातृ शक्ति ने किया संकट का निवारण
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए बांधवगढ विधायक शिवनारायण सिंह ने कहा कि आदिकाल से ही भारतीय संस्कृति में मातृ शक्ति आराध्य रही है। देवताओं और मानवों पर जब-जब संकट आया है तो मातृ शक्ति ने ही उसका निवारण किया है। बेटियो की किलकारी जब आंगन में गूंजती है, तो वह चहक उठता है। राज्य शासन द्वारा विभिन्न विभागों के सहयोग से नारी सम्मान सुरक्षा अभियान चलाया जा रहा है। राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर पंख अभियान की शुरूआत प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा की गई है। जिसमे ंबेटी बचाओ अभियान को समाज के सहयोग से नये स्वरूप में क्रियान्वित किया जाएगा। कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि समाज में धीरे-धीरे बदलाव आ रहा है । बेटे और बेटी के बीच अंतर कम होता जा रहा है। उन्होंने कहा कि नारी एवं बेटियों के सम्मान के लिए प्रदेश सरकार दृढ़ संकल्पित है। जिले में बेटियो एवं नारियों के साथ दुव्यर्वहार करने वालें के विरूद्ध सख्त कार्यवाही के साथ ही उन्हें नेस्तनाबूत करनें में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी।
सखी सेंटर का लोकार्पण
मंत्री सुश्री मीना सिंह एवं विधायक बांधवगढ़ शिवनारायण सिंह तथा अतिथियों द्वारा 48 लाख रूपये की लागत से पीआईयू लोक निर्माण विभाग द्वारा बनाये गये वन स्टाप सखी सेंटर का लोकार्पण किया गया। इसके बन जानें से पीडि़त महिला को एक ही छत के नीचे आश्रय पुलिस सहायता, विधिक सहायता, सुरक्षा तथा पुर्नवास की सुविधाएं उपलब्ध हो सकेगी।
ये रहे मौजूद
्रइस अवसर पर कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव, धनुषधारी सिंह, अशोक तिवारी, प्रदीप शुक्ला, लक्ष्मण सिंह, कार्यपालन यंत्री पीआईयू ए. के. कोरी, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास मनमोहन सिंह कुशराम, सहायक संचालक राजीव गुप्ता, दिव्या गुप्ता सहित गणमान्य नागरिक, महिलाएं सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *