ड्राइविंग लाइसेंस का डाटा अब मिलेगा एक प्लेटफार्म पर, शुरू हुई प्रक्रिया।

भोपाल –  पूरे देश में करोना महामारी का प्रकोप सिर चढ़ा कर बोल रहा है। जिस कारण शासकीय एवं गैर शासकीय संस्थानों ने अपनी कार्य पद्धति बदली है। महामारी से बचाव को ध्यान में रखते हुए सरकार ने कई गाइडलाइन जारी की हैं, उसी को ध्यान में रखते हुए विभिन्न विभागों के द्वारा कई ऐसे रास्ते निकाले है, जिससे कि लोगों को जरूरी सेवाएं प्रदान की जा सकी सके। मध्यप्रदेश में महामारी का प्रकोप जहां बढ़ते संक्रमण के साथ अब भी जारी है, बावजूद इसके संक्रमण काल के बीच सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कई क्षेत्रों में जरूरी सेवाएं प्रदान की जा रही हैं। इस बीच ही अब वाहन चालकों के लिए परिवहन विभाग ने एक नई सुविधा की शुरुवात की है। जिसमें राजधानी भोपाल सहित प्रदेश भर के सभी वाहनों और ड्राइविंग लाइसेंस का डाटा अब एक प्लेटफॉर्म पर मुहैय्या कराया जाएगा। इसके लिए वाहन और सारथी की लिंक हर प्रदेश के परिवहन विभाग की वेबसाइट पर दी जाएगी।

जल्द ही शुरू होगी ड्राइविंग लाइसेंस बनाने की प्रक्रिया।

बीते गुरुवार से क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय में सॉफ्टवेयर अपडेशन किया जा रहा था जिस कारण ड्राइविंग लाइसेंस बनाने का काम बंद रहा। इसके बाद भी कुछ आवेदक लाइसेंस बनवाने आरटीओ पहुंच गए थे, उनको खाली हाथ ही वापस आना पड़ा। आगामी दो-तीन दिनों में लाइसेंस बनाए जाने की प्रक्रिया फिर शुरू हो जाएगी।

अब शेयर होगा हर राज्य का डाटा एक ही प्लेटफॉर्म पर।

ट्रांसपोर्ट कमिश्नर मुकेश जैन ने जानकारी देते हुए बताया कि केंद्रीय भू-तल व परिवहन मंत्रालय के निर्देश पर हर राज्य के मोटर एवं ड्राइविंग संबंधी सभी प्रकार का डाटा एक ही प्लेटफॉर्म पर शेयर किया जा रहा है। वहीं इसके साथ ही एक राज्य के वाहन का दूसरे राज्य में फिर से रजिस्ट्रेशन भी नहीं करा सकेंगे। इससे चोरी किए गए वाहनों का दूसरे राज्यों में रजिस्ट्रेशन नही होने से वाहन चोरी के मामलों में कमी आएगी । अब देश भर में कोई भी व्यक्ति कही भी इस डाटा को देख सकेगा इसका लाभ ले सकेगा। इसका फायदा यह होगा कि किसी भी किस्म की डुप्लीकेसी या फ़्रॉड से बचा जा सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *