महिलाओ की प्रति नीयत पर शंका के चलते की गई युवक की हत्या ग्राम हाथीभार के सुन्य नदी हाथीडोल घाट पर मिली थी गुमशुदा भूरा उर्फ हीरालाल राय की लाश

महिलाओ की प्रति नीयत पर शंका के चलते की गई युवक की हत्या ग्राम हाथीभार के सुन्य नदी हाथीडोल घाट पर मिली थी  गुमशुदा भूरा उर्फ हीरालाल राय की लाश

कटनी ! दिनांक 07.02.2021 को हाथी भार के जंगल से लापता हुए भूरा उर्फ हीरालाल राय पिता पंक्षीलाल राय निवासी  गौरहा की सनसनीखेज वारदात का खुलाशा  मामले का संलिस विवरण इस प्रकार है कि भूरा उर्फ हीरालाल राय जो कि हाथीभार के जंगल में साल के  पेड़ से गोद निकलवाने का वन विभाग का ठेका लिए ठेकेदार बंटी सेठ के साथ काम करता था जो दिनांक 07.02.2021 को ग्राम हाथीभार गया शाम को भूरा राय की मोबाईल से इसकी मां किन्ता बाई से  बातचीत हुई जो घर आने के संबंध में पूछे जाने पर बताता हूँ कहकर फोन काट दिया इसके बाद से घर  वापस नहीं पहुचा । भूरा राय कईबार रात में अपने काम के लिए हाथीभार में रूक जाया करता था इस  कारण से मां को लगा वही रुका होगा जब 02 दिन तक वापस नहीं आया तो दिनाक 10.02.2021 को मां किन्ता बाई ने भूरा राय की गुमशुदगी की सूचना थाना बाकल मे दर्ज कराई जिसके बाद पुलिस द्वारा लगातार जंगल सर्चिंग की गई पर भूरा राय का पता नहीं चला मामले की गंभीरता को देखते पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी द्वारा गुम इंसान भूरा राय की तलास हेतु अतिरिक्त  पुलिस अधीक्षक संदीप मिश्रा के नेतृत्व में तत्काल स्पेशल टीम का गठन कर गुमशुदा की तलास हेतु  लगाया गया तथा 5000 रू का इनाम उदघोषित किया गया इसी दौरान दिनांक 14.02.2021 को ग्राम हाथीभार के सुन्य नदी हाथीडोल घाट पर गुमशुदा भूरा उर्फ हीरालाल राय पिता पंक्षीलाल राय निवासी ग्राम गौरहा का सब नग्न अवस्था में उत्तराता हुआ पाया गया तथा पास जले हुए कपड़ों के अवशेष  पाये गये तथा मृतक भूरा राय के गले में तथा पेट में धारदार हथियार से चोट पहुचाए जाने के निशान  पाये गये थाना बाकल पुलिस द्वारा तत्काल धारा 302.201.34 भादवि का प्रकरण दर्ज किया गया पुलिस अधीक्षक द्वारा मार्ग दर्शन कर अधी हत्या के खुलाशे हेतु अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में गठित पुलिस टीम को दिशा निर्देश दिये गये सनसनीखेज वारदात के खुलाशे हेतु पुलिस टीम ने ग्राम हाथीभार में डेरा डालकर पुस्ताछ की तथा संदेहियों को हिरासत में लेकर  पुछताछ करने पर खुलासा हुआ कि भूरा उर्फ  हीरालाल राय ग्राम हाथीभार में रहने वाले बर्मन परिवार के भोला बर्मन से नजदीक था तथा रात्रि में  भोला बर्मन की खेत में मंडेया में कभी कभार सो जाया करता था हाथीभार आने जाने के दौरान भोला बर्मन एवं राजेश वर्मन को भूरा राय की महिलाओ की प्रति  नीयत पर शंका हुई तथा इसी संका के चलते दिनांक 07.02.2021 को भोला वर्मन तथा भूरा राय कें मध्य तू-तू मैं-मैं विवाद हुआ जो बढ़ गया भूरा राय जब वापस हाथीडोल अपने गोद निकालने वाले लेबरों के पास जाने लगा तो जंगल वाली रोड पर हैण्डपम्प के पास रुक गया जहा मोला बर्मन ने कुल्हाड़ी से बार करके भूरा राय की हत्या कर दी तथा अपने भाई राजेश बर्मन एवं चाचा हिमाचल बर्मन की सहायता से लाश को ठिकाने लगा दिया तथा सबूत मिटाने के लिए उसकी मोटर सायकल नदी में फेक दी कपडे जला दिये जो पुलिस टीम ने तकनीकि तंत्र एवं अपने गोपनीय तंत्र को सक्रिय कर मामले का खुलाशा किया आरोपी  गण भोला उर्फ विजय बर्मन पिता सोनेलाल बर्मन, राजेश बर्मन पिता सोनेलाल बर्मन निवासी हाथीभार, हिमाचल बर्मन पिता रारु बर्मन निवासी खम्हरिया को गिरफ्तार किया गया! शून्य नदी से भूरा राय की मोटर सायकल बरामद की गई तथा साक्ष्य संकलन किया गया आरोपीगणों को न्यायालय पेश किया गया है वारदात का खुलाशा करने में महत्वपुर्ण भूमिका निभाने वाले पुलिसकर्मी निरीक्षक रेखा प्रजापति बहोरीबंद, उपनिरीक्षक अभिषेक उपाध्याय थाना बाकल , सनि उपनिरीक्षक संतोष  बड़गैया, सउनि रामेश्वर पटेल प्रआर अजय सिंह , प्रआर मोनेन्द्र सिंह, आर बुद्ध कुमार मार दीलीप कोल, आर इन्द्रभान , आर शिवकुमार सोनवानी , आर दीपक , आर बलवीर सिंह तथा सऊनि दुर्गेश तिवारी , आर  रामेश्वर, आर लालू , आर गणेश दत्त मिश्रा , प्रआर मनोज कुडापे का विशेष योगदान रहा तया सायबर  टीम के आर प्रशान्त , आर प्रीतम , आर चंदन की भूमिका अत्यंत महत्वपुर्ण रही  पुलिस अधीक्षक ने पुलिस टीम को वारदात का खुलाशा करने में गठित पुलिस टीम को पुरुस्कृत करने की घोषणा  की है

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *