रीठी से बिजली रूठी, गांव वाले परेशान नौतपा के उमस भरे दिनों में घंटो-घंटो हो रही अघोषित बिजली कटौती

रीठी से बिजली रूठी, गांव वाले परेशान
नौतपा के उमस भरे दिनों में घंटो-घंटो हो रही अघोषित बिजली कटौती


कटनी/रीठी।। कटनी जिले की रीठी तहसील मुख्यालय व ग्रामीण क्षेत्र के लोग इन दिनों इस उमस भरी भीषण गर्मी से वैचेन हैं तो वहीं दूसरी ओर बिजली विभाग द्वारा घंटो-घंटो के लिए की जा रही अघोषित बिजली कटौती भी समस्या का सबब बन गई हैं। बीते चार-पांच दिनों से बिजली के यह हाल हैं जैसे रीठी से बिजली रूठ गई हो। बताया गया कि रीठी मुख्यालय सहित ग्रामीण अंचलों में इस नौतपा वाली उमस भरी गर्मी के मौसम में बिजली विभाग द्वारा बिना किसी सूचना के दिन-दिन भर के लिए बिजली कटौती की जा रही है। इस उमस भरी गर्मी में कोरोना कर्फ्यू के दौरान लोग घरों पर रहकर टीबी व अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के माध्यम से अपना मनोरंजन कर लेते थे। लेकिन विद्युत विभाग ने भी बिजली पर लाकडाऊन सा लगा रखा है। ग्रामीणो ने बताया कि उनके द्वारा जब कनिष्ठ अभियंता कार्यालय रीठी के दूरभाष पर अघोषित बिजली कटौती के संबंध मे जानकारी लेने का प्रयास किया जाता है तो विभाग द्वारा फोन ही रिसीव नही किया जाता। यदि दिनभर में एकाध किसी उपभोक्ता का फोन रिसीव भी हो गया तो जिम्मेदारों द्वारा मेंटिनेंस कार्य बताकर अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ लिया जा रहा है। ग्रामीणो का सवाल यह है कि विभाग द्वारा जब मेंटिनेंस कार्य के लिए कटौती की जाती है तब क्या मेंटिनेंस किया जाता है। बताया गया कि यदि रीठी क्षेत्र मे हल्की सी भी बूंदाबांदी हो जाए तो बिजली गुल हो जाती है और फिर विभाग तीन-चार दिनों तक मेंटिनेंस कार्य बताकर अघोषित बिजली कटौती करता रहता है। क्षेत्र के मुकेश कंदेले, बिंजन श्रीवास, कमलेश नामदेव, सुरेंद्र साहू, मयंक कंदेले, अतुल गुप्ता, दीपक रैदास, राशू कंदेले, हेमंत सेन, आकाश जैन, पवन नामदेव, मुकेश बेन, ब्रजेश, आषीश राय सहित अन्य जनों ने सुचारू रूप से विद्युत व्यवस्था बनाये जाने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *