पदोन्नति सहित अन्य मांगों को लेकर कर्मचारी संघ के संभागीय अध्यक्ष ने नगरी निकाय मंत्री भूपेंद्र सिंह को सौंपा ज्ञापन

Santosh Sharma:

धनपुरी : कर्मचारियों के हितों को लेकर सदैव आगे बढ़कर उनकी मांगों को लेकर शासन तक आवाज पहुंचाने में मध्य प्रदेश कर्मचारी संघ के संभागीय अध्यक्ष रवि करण त्रिपाठी आगे रहते हैं और उनकी मांगों के निराकरण में हमेशा उनका योगदान बड़ा होता है।
मध्य प्रदेश कर्मचारी संघ के संभागीय अध्यक्ष रविकरण त्रिपाठी ने विगत दिनों नगरीय विकास एवं आवास मंत्री माननीय भूपेंद्र सिंह को एक ज्ञापन सौंपकर विभिन्न मांगों से अवगत कराया जिस पर माननीय नगरीय निकाय मंत्री भूपेंद्र सिंह ने सभी मांगों पर विचार करने का आश्वासन दिया।
मध्य प्रदेश कर्मचारी संघ के संभागीय अध्यक्ष रवि करण त्रिपाठी ने जानकारी देते हुए बताया कि नगरी निकाय मंत्री को दिए गए ज्ञापन में नगरीय निकायों में पदस्थ राजस्व उपनिरीक्षक राजस्व निरीक्षक कार्यालय अधीक्षक पदों से मुख्य नगरपालिका अधिकारी वर्ग-३ पर पदोन्नति के प्रधान भर्ती नियमों के प्रावधान भर्ती नियमों में निहित है लेकिन लगभग 8 वर्षों से इन पदों से पदोन्नति की प्रक्रिया रुकी हुई है इस बीच में कई कर्मचारी सेवानिवृत्त भी हो चुके हैं आरक्षण के संबंध में प्रकरण माननीय सर्वोच्च न्यायालय में होने के कारण विभागीय पदोन्नति की संपूर्ण प्रक्रिया पर कार्यवाही नहीं की जा रही है जबकि अन्य विभागों में माननीय सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय के अध्याधीन पदोन्नति की प्रक्रिया प्रचलित रखी गई है जिस कारण से नगरी निकाय के कर्मचारियों के उन्नति के युक्तियुक्त अवसर के सामान्य प्रशासन विभाग के प्रधान अंतर्गत माननीय सर्वोच्च न्यायालय के अध्ययन विभागीय पदोन्नति प्रक्रिया आरंभ करने हेतु विभाग को निर्देशित करने की कृपा करें।
इसी तरह ज्ञापन में कहा गया है कि नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग के कर्मचारियों की आयु अधिवार्षिकी ६२ के स्थान पर ६४ किया जाए ताकि इसका लाभ उन्हें मिल सकें पूर्व में पालिका स्तर के कर्मचारियों की भर्ती का अधिकार प्रेसिडेंट इन काउंसिल एवं जिला चयन समिति को था जो अब नहीं है जिस कारण से कई पद रिक्त पड़े हुए हैं ऐसे में पूर्व की भांति ही जो अधिकार था वह वापस दिया जाए ताकि कर्मचारियों की कमी के कारण कामों में जो दिक्कत आ रही है वह दूर हो सके।
संभागीय अध्यक्ष श्री त्रिपाठी ने ज्ञापन के संदर्भ में जानकारी देते हुए बताया कि कि माननीय मंत्री जी को दिए गए ज्ञापन में यह कहा गया कि सातवें वेतन की तृतीय किस्त जो रुकी हुई है वह शीघ्र ही दिया जाए इसी तरह नगरपालिका कर्मचारियों एवं अधिकारियों के आवाज सुविधा हेतु कलेक्टर महोदय को भूमि आवंटन हेतु प्रेषित किए जाने का कष्ट करें साथ ही कई वर्षों से संविदा कर्मी के रूप में कार्य करने वाले समुदायिक संगठिकाओ को नियमितीकरण करने के निर्देश दिए जाएं मई २०१८ तक जो कर्मचारी दैनिक वेतन के रूप में कार्य किए हैं उनका नियमितीकरण किया जाए साथ ही निकाय में कंप्यूटर ऑपरेटरों का पद स्वीकृत नहीं है कंप्यूटर ऑपरेटरों को सहायक ग्रेड 3 के पद की मान्यता दिया जाए।
श्री त्रिपाठी ने बताया कि विनियमित किए गए स्थाई कर्मियों को निकाय में रिक्त तृतीय चतुर्थ शिरडी के पद जिला चयन समिति के माध्यम से पद पूर्ति के अधिकार दिए जाएं वही नगर पालिकाओं नगर परिषदों के उपयंत्री ओं को नगर निगम में पदस्थ किया गया है जिससे निकायों में उपयंत्री यों के पद रिक्त है अगर निकाय के उपयंत्री यों को नगर निगम से वापस घर मूल निकाय में भेजे जाएं तो इससे नगर पालिकाओं में उपयंत्री के ना होने से जो परेशानी आ रही है वह दूर हो सके।
श्री त्रिपाठी ने बताया कि माननीय मंत्री जी से ज्ञापन के संदर्भ में विस्तार से चर्चा हुई जिस पर उन्होंने आश्वासन दिया है कि सभी मांगों को गंभीरता से देखा जाएगा और यह प्रयास किया जाएगा किन मांगों का जल्द से जल्द निराकरण हो सके वही श्री त्रिपाठी ने धनपुरी नगर के विकास के संबंध में भी उन्हें जानकारी दी साथ ही कुछ बातों से उन्हें अवगत भी कराया जिस पर उन्होंने कहा कि विकास के कामों में कोई कमी नहीं आने दी जाएगी और जहां पर भी समस्या आ रही है उसे दूर किया जाएगा।
सम्मेलन कराए जाने को लेकर की गई चर्चा-
नगर पालिका अधिकारी एवं मध्य प्रदेश कर्मचारी संघ के संभागीय अध्यक्ष रवि करण त्रिपाठी ने बताया कि माननीय मंत्री जी से नगरपालिका ओं का संभागीय सम्मेलन धनपुरी नगरपालिका के द्वारा कराए जाने को लेकर चर्चा की गई जिसमें वर्तमान अध्यक्ष पार्षद एवं पूर्व अध्यक्ष पार्षद शामिल होंगे जिस पर नगरीय विकास मंत्री माननीय भूपेंद्र सिंह ने कहा कि उपचुनाव के बाद इस पर चर्चा की जाएगी और इस सम्मेलन का आयोजन हो सके इसे लेकर आगे की कार्यवाही की जाएगी जाएगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *