शासकीय भूमि से हटाया गया अतिक्रमण

लगाया गया जुर्माना, प्रशासनिक अमला रहा मौजूद

धनपुरी। शासकीय भूमि पर वर्षों पहले अवैध कब्जा करके निर्माण कार्य करने वालों के ऊपर लगातार प्रशासन कार्यवाही कर रहा है, जिसकी वजह से अवैध कब्जा धारियों में दहशत का माहौल है, बीते कुछ माह में रुंगटा क्षेत्र में प्रशासन के द्वारा कई बड़ी कार्यवाही की गई। शासकीय भूमि पर बनी बड़ी-बड़ी इमारतों दुकानों मकानों को जमींदोज कर दिया गया था। शासकीय भूमि को अतिक्रमण मुक्त करने के दौरान अनुविभागीय अधिकारी राजस्व धर्मेंद्र मिश्रा, तहसीलदार भरत सोनी, नायब तहसीलदार साक्षी गौतम, अनुविभागीय पुलिस अधिकारी धनपुरी भरत दुबे, थाना प्रभारी बुढार महेंद्र सिंह चौहान, थाना प्रभारी धनपुरी रतनांबर शुक्ला, थाना प्रभारी अमलाई कलिराम परते बड़ी संख्या में शहडोल जिले से महिला पुलिस बल तैनात रहता था, रुंगटा में हुई कुछ कार्यवाही में कुछ लोगों ने नेतागिरी करने की कोशिश भी की थी लेकिन प्रशासन के आगे उनकी बिल्कुल नहीं चली थी, प्रशासन एक बार फिर शासकीय भूमि पर वर्षों से अवैध कब्जा करने वालों के खिलाफ जल्द कार्यवाही करने जा रहा है, जिसकी वजह से शासकीय भूमि पर अवैध कब्जा करने वालों ने दहशत का माहौल है।
जारी हुआ नोटिस फैल गई दहशत
प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम झगरहा की आराजी क्रमांक 1073 रकवा 3460 पर वर्षों से अवैध कब्जा धारियों का शासकीय भूमि पर कब्जा है इन जमीनों को अतिक्रमण मुक्त कराने के लिए तहसील कार्यालय बुढ़ार के द्वारा 20 जनवरी को नोटिस जारी किया गया है। शासकीय भूमि पर अवैध कब्जा करने वालों पर दो हजार रुपयों का जुर्माना भी लगाया गया है। नोटिस में अवैध कब्जा धारियों को बताया गया है कि शासकीय भूमि से बेदखल किए जाने का आदेश पारित हो चुका है, नोटिस प्राप्त होने के दो दिवस के अंदर शासकीय भूमि से अपना अतिक्रमण हटा ले अन्यथा ना हटाए जाने पर आपके विरुद्ध एकपक्षीय कार्यवाही करते हुए अतिक्रमण को बिना किसी पूर्व सूचना के हटा दिया जाएगा।
वर्षों से संचालित हो रहे थे ढाबे एवं दुकान
अमलाई थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाले कार्मेल कान्वेंट स्कूल के ठीक सामने सड़क के किनारे कई ढाबे होटल एवं दुकान वर्षों से संचालित हो रहे थे पहले इन संपत्तियों का मालिक कोई और था और फिर सड़क किनारे की जमीन का लाभ देखकर लोगों ने अपनी मेहनत की गाढ़ी कमाई से इसे खरीद लिया था, बेरोजगारी के इस दौर में किसी प्रकार लोग अपना जीवन यापन कर रहे थे लेकिन अब जब से उन्हें नोटिस प्राप्त हुआ है तभी से सभी लोग परेशान हैं यहां वहां चर्चा करते हैं की अब क्या होगा।
शासकीय भूमि से खुद हटा ले अतिक्रमण
इस संबंध में जब तहसीलदार भरत सोनी से चर्चा की गई तो उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि शासकीय भूमि पर अवैध कब्जा करने वाले लोगों को नोटिस जारी कर दिया गया है उन्हें 2 दिनों का समय दिया गया है इसके बाद प्रशासन शासकीय भूमि से अतिक्रमण बिना किसी पूर्व सूचना के हटा देगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed