बेटियां भी नहीं हैं किसी से कम कौशल प्रशिक्षण प्रशिक्षण प्राप्त कर मीना हुयी आत्मनिर्भर

संतोष कुमार केवट

अनूपपुर। कोतमा जनपदीय अंचल के ग्राम पिपरिया की रहने वाली मीना सिंह इने दृढ़ इच्छा शक्ति और स्वयं को आत्मनिर्भर बनाने के जुनून से किसी भी मुकाम पर पहुंचा जा सकता है। बात को चरितार्थ किया है मीना अपनी मां के साथ ही रहती थी। अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद मीना बेरोजगार थी, और अपने भविष्य के लिए काफी चिंतित रहती थी । वह घर में ही रहकर अपने परिवार के सदस्यों के साथ घर और खेत-बाड़ी के कामों में हॉथ बटाया करती थी। रोजगार न मिल पाने के कारण मीना अत्यधिक परेषान थी। ग्रामीण युवाओं के लिए रोजगार के अवसर उपलब्ध कराये जाने के उद्देश्य से मप्र राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन, अनूपपुर के द्वारा अनूपपुर में आयोजित रोजगार मेले में मीना ने भाग लिया और डीडीयू-जीकेवाय योजना अन्तर्गत जबलपुर की शांती जी.डी. इस्पात एण्ड प्रायवेट लिमिटेड में मीना ने इन्टरव्यू दिया। इसमें प्रशिक्षु ट्रेनीज के रूप में मीना का चयन कर लिया गया। इसके तहत उसको जबलपुर में 06 माह का प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण के दौरान मीना के आत्मविश्वास और कार्यक्षमता में काफी इजाफा हुआ और अब वह घर से बाहर काम करने के लिए तैयार थी। मीना की इच्छा और लगन को देखते हुए मीना को घर से बाहर जॅाब करने की अनुमति भी परिवार से मिल गई। छ: माह का प्रशिक्षण पूर्ण होते ही मीना को साही एक्सपोर्ट कम्पनी बैंगलूरू में पहला जॉब मिला, जहां उसे जीन्स व पैंट की कटिंग कर सिलाई के लिये भेजना होता था। इस काम के लिए मीना को 8000 रुपये मासिक वेतन मिलने लगा। मीना को जब पहला वेतन मिला और उस पहले वेतन को जब उसने अपने घर भेजा तो, मीना व उसके परिवार की खुशी का कोई ठिकाना न रहा। फिर मीना को ऐहसास हुआ कि लड़कों की तरह लड़कियां भी घर से बाहर निकलकर स्वंय को आत्मनिर्भर बना सकती हैं व घर के बेटों की तरह बेटियां भी कंधे से कंधा मिलाकर खुद की कमाई से अपना व अपने परिवार का भरण पोषण कर सकती हैं। वर्तमान में मीना सिंह ”मदर एण्ड सन कम्पनी बैगलूर” में सुपरवाईजर के पद पर काम कर रही हैं। इस कंपनी में मीना सुपरवाईजर के पद पर कार्य करते हुए 15000 रू. मासिक आय अर्जित कर रही हैं। इसके पूर्व वह साही एक्सपोर्ट कम्पनी बैंगलूर व फ्लिपकार्ट कम्पनी में कार्य कर चुकी हैं। आज मीना अपने ग्राम व अन्य युवतियों के लिए एक मिशाल बनी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *