नगर को स्वच्छ सुंदर बनाने में हर नागरिक दे अपना योगदान. : त्रिपाठी

धनपुरी । देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश में स्वच्छ भारत मिशन की शुरुआत की थी इस मिशन के शुरू होने के बाद से पूरे देश में स्वच्छता को लेकर आम नागरिक जागरूक हुए हैं नगर पालिका परिषद धनपुरी स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 में भाग ले रही है स्वच्छता सर्वेक्षण कार्यक्रम के अंतर्गत वर्तमान समय में नगर के सभी प्रमुख चौक चौराहों पर स्वच्छता से संबंधित जागरूकता फैलाने वाले बैनर पोस्टर लगवाए जा रहे हैं इसके पूर्व नगर के सभी प्रमुख स्थानों पर वॉल पेंटिंग के द्वारा भी नगर वासियों को जागरूक करने का प्रयास किया गया था धनपुरी नगरपालिका के मुख्य नगरपालिका अधिकारी रविकरण त्रिपाठी स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 में नगर पालिका धनपुरी को प्रथम स्थान दिलाने के लिए दिन.रात इमानदारी से मेहनत कर रहे हैं इस संबंध में जानकारी देते हुए मुख्य नगरपालिका अधिकारी रविकरण त्रिपाठी ने बताया कि स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 में प्रथम स्थान पाने के लिए हम सभी को इमानदारी से प्रयास करना होगा धनपुरी नगर हमारा नगर है यहां चारों तरफ स्वच्छता हो सुंदरता हो इसके लिए सभी को आगे आकर अपना योगदान देना होगा मुख्य नगरपालिका अधिकारी ने आम नागरिकों से खुले में कचरा ना फेंकने की अपील की है कचरा लेने के लिए जो गाडयि़ां नगर पालिका धनपुरी की आती हैं उन्हीं में कचरा डालने की अपील की गई है।
ज्ञात हो कि मुख्य नगरपालिका अधिकारी रविकरण त्रिपाठी अपने कर्तव्यों का पूरी ईमानदारी एवं निष्ठा से पालन करते हैं सीएम हेल्पलाइन में दर्ज समस्याओं का त्वरित निराकरण करने में नगर पालिका धनपुरी पहले भी पूरे प्रदेश में प्रथम स्थान प्राप्त कर चुकी है जिसका सारा श्रेय मुख्य नगरपालिका अधिकारी रवि करण त्रिपाठी को जाता है कोरोना वायरस संक्रमण को बढऩे से रोकने के दौरान लागू किए गए लॉक डाउन के समय दिन रात उन्होंने पूरी ईमानदारी से मेहनत की थी बात चाहे जरूरतमंद परिवारों को राशन सामग्री उपलब्ध करवाने की हो या फिर प्रवासी मजदूरों को भोजन दवाइयां जूते चप्पल एवं उनके गंतव्य स्थान तक पहुंचाने की हर जिम्मेदारी को रवि करण त्रिपाठी पूरी इमानदारी से निभाते थे नगर की साफ सफाई व्यवस्था हमेशा दुरुस्त रहती है क्योंकि मुख्य नगरपालिका अधिकारी रवि करण त्रिपाठी सफाई व्यवस्था के साथ किसी भी प्रकार का समझौता नहीं करते हैं औचक निरीक्षण के दौरान लापरवाही करने वाले कर्मचारियों को जमकर फटकार भी लगाई जाती है तो मेहनत एवं ईमानदारी से काम करने वाले कर्मचारियों को शाबाशी भी दी जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *