एग्जिट पोल में सत्ता परिवर्तन के आसार

प्रत्याशियों की धड़कने हुई तेज

बिहार। प्रदेश की सभी 243 विधानसभा सीटों के लिए सुबह 8 बजे से मतगणना जारी है। सब कुछ ठीक रहा तो साढ़े 10 बजे तक अंदाजा लगा जाएगा कि बिहार की जनता ने अगले पांच साल सेवा का मौका किसे दिया है, मौजूदा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार या आरजेडी के तेजस्वी यादव। दिन में दो या तीन बजे तक तस्वीर पूरी साफ हो जाएगी।
बिहार में सत्ता की चाभी किसके हाथ होगी, इसका फैसला आज हो जाएगा। मतगणना शुरू होने के पहले घंटे में ही तेजस्वी ने शतक लगा लिया है। रुझानों में महागठबंधन आगे है। अब तक महागठबंधन के पक्ष में 59 सीटें जाती दिख रही हैं, वहीं एनडीए के 102 सीटें मिलती दिख रही हैं। महागठबंधन में आरजेडी सबसे बड़ी पार्टी है, वहीं एनडीए में भाजपा सबसे बड़ी बनती दिख रही है। एग्जिट पोल के मुताबिक इस बार बिहार में सत्ता परिवर्तन होने जा रहा है। यानी सुशासन बाबू का सफर यही थम जाएगा। महागठबंधन विजयी होता है तो तेजस्वी यादव के लिए इससे बड़ा बर्थडे गिफ्ट कोई दूसरा नहीं होगा।
बिहार विधानसभा चुनाव का पहला रुझान एनडीए के पक्ष में आया है। भाजपा दो सीट पर आगे चल रही है। खबर लिखे जाने तक एनडीए सोलह सीट पर तो महागठबंधन 20 सीटों पर आगे चल रहे हैं। मुजफ्फरपुर के पारु व बरूराज विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी आगे। पूर्णिया में भाजपा आगे, वहीं औरंगाबाद से बीजेपी प्रत्याशी रामाधार सिंह अपने निकटतम प्रतिद्वंदी कांग्रेस प्रत्याशी आनंद शंकर सिंह से 941 वोटों से आगे चल रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *