कृषि कानून के विरोध किसानों ने किया चक्का जामकृषि कानून के विरोध में किसानों ने किया चक्का जाम

कृषि कानून के विरोध किसानों ने किया चक्का जामकृषि कानून के विरोध में किसानों ने किया चक्का जाम

कटनी ॥ पूरे देश के किसानों द्वारा मुख्य रूप से 2020 में भारतीय संसद द्वारा पारित तीन कृषि अधिनियमों के विरुद्ध चल रहा विरोध है।[3] किसान यूनियनों, द्वारा अधिनियमों को ‘किसान विरोधी’ और ‘कृषक विरोधी’ के रूप में वर्णित किया गया है,बहोरीबंद में शनिवार को कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे बहोरीबंद में भी क्षेत्र के हजारों किसानों द्वारा चक्का जाम किया गया ! जिसमें मूल रूप से केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए तीनों काले कानून उसी के संदर्भ में आज अखिल भारतीय किसान सभा एवं ओबीसी किसान संयुक्त मोर्चा ने पूरा बहोरीबंद की सड़कों में चक्का जाम किए हुए हैं दिल्ली में चल रहे किसानों के आंदोलन में जैसा पहले ही राकेश टिकैत किसान नेता ने अनुमोदन कर दिया था कि 6 फरवरी के दिन पूरे देश भर में चक्का जाम किया जाएगा जो शांतिपूर्ण रहेगा उसी के उपलक्ष में आज बहोरीबंद क्षेत्र के किसानों ने भी सड़कों पर चक्का जाम किया इनका कहना है कि सरकार इन तीनों कानूनों को वापस ले जिसमें प्रशासन के अमले की भी मौजूदगी रही है जिससे यातायात प्रभावित ना हो राहगीरों को परेशानी ना हो। कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध में प्रदर्शन कर रहे किसानों के देशव्यापी चक्का जाम का असर जिले में भी देखने को मिला॥

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *