रेत माफिया और रेत ठेकेदार के चौकीदार के बीच मारपीट

ग्राम निगवानी में सुबह 11 बजे की घटना, कई हुए घायल
अनूपपुर। कोतमा थाना अंतर्गत ग्राम निगवानी में सुबह तकरीब 10 दो पक्षों में मारपीट हो गई, जिससे दोनो पक्षों को गंभीर चोटे आई है, जानकारी के अनुसार रेत को लेकर विवाद शुरू हुआ, जहां एक पक्ष के द्वारा मारपीट शुरू कर दी और दूसरे पक्ष ने भी बदला लेने के लिए हमला कर दिया, दोनो पक्षों ने थाने में शिकायत दर्ज कराते हुए एक दूसरे पर आरोप लगाए हुए है। गौरतलब हो कि कोतमा क्षेत्र में रेत के अवैध कारोबार में माफियाओं ने अपनी सल्तनत जमा रखी है, जिसके कारण आये दिन कुछ न कुछ विवाद सामने आ ही जाता है, केवई नदी के दर्जनों स्थानों से रेत का अवैध कारोबार बरसात में भी जारी रहता है, जब से रेत ठेकेदार द्वारा अपने गुर्गो को बैठाकर चोरी में लगाम गलाने की मुहिम शुरू की गई तो रेत चोरी करने वालों को काफी मसस्कत करनी पड रही है।
ऐसे घटी घटना


ग्राम निगवानी में डिल्लू सिह नामक युवक के द्वारा ठेकेदार के कारोबार को पेटी कान्ट्रैक्ट के रूप में लिया गया है, जहां अपने मातहतों के माध्मय से रेत चोरी रोकने का कार्य कराया जा हा था, वहीं सिन्धु नाम युवक अपने मातहतों के माध्यम से रेत चोरी का कार्य कराया जा रहा था, बुधवार की रात्रि से रेत को लेकर दोनो पक्षों में विवाद शुरू हुआ, जहां सुबह मारपीट तक पहुंच गया, जानकारी के अनुसार सिन्धु टै्रक्टर के माध्यम से केवई नदी से रेत चोरी करवा रहा था जहां ग्राम के ही सोनी परिवार ने टै्रक्टर को रोक कर दस्तावेज दिखाने को बोला गया, वहीं से इनका विवाद शुरू हुआ और मारपीट शुरू हो गई, जिससे दोनो पक्षों को गंभीर चोटे आई, किसी के हाथ टूटे तो किसी के पैर भी टूटने की जानकारी लगी है।
दर्ज हुआ मामला


फरियादी संदीप नारायण मिश्रा उर्फ सिन्धु गौतम पिता कुलदीप नारायण मिश्रा उम्र 28 वर्ष निवासी छुल्हा का हमराह अपनी मां गंगादेवी मिश्रा अपने भाई प्रदीप नारायण मिश्रा एवं ड्रायवर रूस्तम खान ने थाना उपस्थित आकर रिपोर्ट किया कि निगवानी से उरतान मेरा ड्रायवर रूस्तम खान ट्रेक्टर लेकर जा रहा था, 06 अगस्त को 10:30 बजे मुसलमानो के मुक्ति धाम सारंगगढ़ के पास नीरज सोनी अपनी मोटर सायकल को ट्रेक्टर के सामने लगा कर रोक दिया था। और कहा कि ट्रेक्टर लेकर कहा जा रहे हो पूछते हुए वाद विवाद कर रहा था।
मोबाइल से दी जानकारी
ड्रायवर रूस्तम खान ने मोबाइल फोन लगाकर घटना की बात सिन्धु गौतम बताया, उस समय सिन्धु निगवानी चौराहे पर था जो अपने साथी दीपक द्विवेदी को साथ लेकर अपनी कार से ड्रायवर के बताये हुए स्थान पर पहूंचा, वहां पर नीरज सोनी मिला, उसे पूछा कि मेरे ट्रेक्टर को जबरन क्यो रोक रहे हो तब वह बोला की मैं रेत ठेकेदार का चौकीदार हूं मैं ट्रेक्टर नही जाने दूंगा, तब ड्रायवर को ट्रेक्टर के सहित लेकर अपने घर चले आये साथ दीपक भी आ गया था।
फिर शुरू हुआ मारपीट
एफआईआर में लिखी गई शिकायत के अनुरूप थोड़ी देर में करीबन 11.00 बजे नीरज सोनी और उसका भाई निहान सोनी राड और डंडा लेकर साथ में आकाश सोनी सभी निगवानी में मेरे घर के पास आये ओर अन्दर गाली गुफ्तार करते हुए घर के अन्दर घुस गये और नीरज सोनी मुझे बोला गाड़ी चलायेगा, गाड़ी चलायेगा दो बार ऐसा बोलकर मुझे राड़ से मारा जो मेरे बाये हाथ की बाह ओर कोहनी के बीच चोट लगी है और मेरे ड्रायवर रूस्तम खान को निहान सोनी डंडा से मारपीट किया है जो उसके कमर, बाये पैर की जाघ, दाहिने हाथ की भुजा में चोट आई है। आकाश सोनी और मारो ऐसा बोल रहा था, घटना को देखकर मेरी मां गंगादेवी मिश्रा व भाई प्रदीप नारायण मिश्रा और दोस्त दीपक द्दिवेदी, नत्थूलाल साहू के द्वारा बीच बचाव किये है, तब यह तीनो मेरे घर से बाहर निकलते हुए जान से मारने की धमकी देते हुए चले गये। पुलिस के द्वारा रिपोर्ट पर अपराध धारा 341,452,506, 34 ता0हि0 का कायम कर विवेचना मे लिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *