पूर्व अपराधी 24 किलो गांजे की तस्करी में गिरफ्तार

कप्तान की स्पेशल टीम और थाना जयसिंहनगर की संयुक्त कार्यवाही

वर्तमान जमानत पर रिहा होकर कर रहा था तस्करी

शहडोल। पुलिस अधीक्षक अवधेश कुमार गोस्वामी द्वारा चलाये जा रहे ऑपरेशन प्रहार के तहत जिले के सभी अधिकारियों को मादक पदार्थ के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही किये जाने के लिए निर्देश दिया है, कप्तान की स्पेशल टीम और थाना जयसिंहनगर पुलिस द्वारा संयुक्त कार्यवाही करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 24 किलोग्राम गांजा तस्करी में प्रयुक्त की जा रही बजाज पल्सर मोटर सायकल और दो मोबाईल फोन को जप्त करने में सफलता हासिल की है।
रिहा होने के बाद बड़े स्तर पर कारोबार
पुलिस अधीक्षक की स्पेशल टीम को सूचना मिली थी कि थाना जयसिंहनगर क्षेत्रान्तर्गत ग्राम सेमरा निवासी रोहित कुमार गुप्ता गांजे की बड़े पैमाने पर तस्करी में संलिप्त होकर आस-पास के गांवो में गांजे को बेच रहा है। वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया जाकर संदिग्ध रोहित गुप्ता पर सूक्ष्म निगाह रखी जाने पर पता चला कि आरोपी पूर्व में थाना जयसिंहनगर में एनडीपीएस एक्ट के प्रकरण में 8 किलो से अधिक गांजे की तस्करी में जिला जेल में 2 माह से अधिक अवधि तक निरूद्ध रहा है और जेल से जमानत पर रिहा होकर पुन: इसी कार्य को और बड़े स्तर पर कर रहा है।
नाबालिग ने पकड़ रखी थी बोरी
पुलिस ने बताया कि संदिग्ध रोहित कुमार गुप्ता अपनी काले-नीले रंग की बजाज पल्सर मोटर सायकल पर एक नाबालिग को बैठाकर गांजा लेकर सेमरा आने वाला है। थाना जयसिंहनगर को अवगत कराया जाकर संयुक्त कार्यवाही करते हुए मुखबिर द्वारा बताये हुलिया और मोटर सायकल पर संदिग्ध आता दिखाई दिया, जिसके पीछे बैठा नाबालिग एक सफेद रंग की बोरी को पकड़े हुआ था। दोनों संदिग्ध के साथ नियमानुसार आवश्यक वैधानिक कार्यवाही करते हुए सफेद रंग की बोरी में 4 पैकेट में 24 किलोग्राम गांजा होना पाया गया, जो अवैध रूप से गांजे का परिवहन करना पाया जाने से थाना जयसिंहनगर में आरोपियों के विरूद्ध एनडीपीएस एक्ट का प्रकरण पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया है।
ऑपरेशन प्रहार में ये रहे शामिल
गिरफ्तार शुदा आरोपी रोहित कुमार गुप्ता पिता कमलेश प्रसाद गुप्ता उम्र 23 साल निवासी बनिया टोला ग्राम सेमरा थाना जयसिंहनगर और दीपक कुमार नामदेव पिता रामभजन नामदेव उम्र 14 साल निवासी सदर को मोटर सायकल एमपी 18 एमआर 9205 एवं दो मोबाईल फोन के साथ गिरफ्तार किया जाकर विवेचना की जा रही है। ऑपरेशन प्रहार में कार्यवाही को अंजाम देने में एसपी की स्पेशल टीम के अमित दीक्षित सहायक उप निरीक्षक, आरक्षक अभिषेक दीक्षित, अजीत सिंह चौहान, कृष्णा मिश्रा और थाना जयसिंहनगर के निरीक्षक नरबद सिंह धुर्वे, सउनि गयाप्रसाद, आरक्षक, उदय, अभय, जावेद एवं शुभम की उल्लेखनीय भूमिका रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *