बिजली तार चोरी करने वाले गिरोह पुलिस हिरासत में , रीठी थाना पुलिस की सफलता, आरोपियों को न्यायालय में किया पेश

बिजली तार चोरी करने वाले गिरोह पुलिस हिरासत में ,
रीठी थाना पुलिस की सफलता, आरोपियों को न्यायालय में किया पेश


कटनी ॥ जिले की रीठी पुलिस को बिजली के तार चोरी करने वाले एक गिरोह को पकड़ने में सफलता मिली है। पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार बीते 9 जनवरी 2022 को बिजली ठेकेदारों द्वारा देवगांव से बिलहरी मुख्य मार्ग पर इमलिया चौराहे नदी किनारे साइड पर बिजली तार खिंचने का कार्य बिजली ठेकेदारों द्वारा कराया जा रहा अज्ञात चोरों के द्वारा बड़ी मात्रा में लाखों रुपये कीमती बिजली के तार आदि चोरी होने की लिखित शिकायत बिजली ठेकेदारों के द्वारा की गई थी जिस पर रीठी पुलिस ने मामला दर्ज करते हुए विवेचना में लिया। तार चोरी करने वाले गिरोह द्वारा बिजली के तार को ले जाने मौका नही मिलने तार कों छुपा दिया गया ! 13 जनवरी को चोरों के द्वारा चोरी की गई बिजली के तार कों ले जाने की जानकारी मिली जिस पर
मुस्तैद रीठी थाना प्रभारी सतीश तिवारी ने अपने बल के साथ कटनी पुलिस अधीक्षक के निर्देशन एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन में मामले की गंभीरता को देखते हुए रीठी पुलिस की टीम द्वारा 12 घंटे के अंदर आरोपियों पकड़कर मामले का खुलासा किया गया।
मामले के आरोपी रविंद्र कुशवाहा पिता राम जी कुशवाहा उम्र 26 साल निवासी ग्राम मढ़ा थाना चुरहेटा जिला रीवा, श्याम जी कुशवाहा पिता राम विश्वास कुशवाहा उम्र 28 साल निवासी ग्राम सिरपरा थाना बिछिया जिला रीवा, श्रवण कुशवाहा पिता राम विश्वास कुशवाहा उम्र 22 निवासी ग्राम बिल्व पैकान थाना रायपुर कर्चुलियान जिला रीवा, पवन कुशवाहा पिता राजभान कुशवाहा उम्र 22 साल निवासी ग्राम बिलवा मकान थाना रायपुर कर्चुलियान जिला रीवा अमित पिता सोमेश्वर कुशवाहा 26 साल निवासी ग्राम 26 साल निवासी ग्राम अटरिया थाना चुरहेटा जिला रीवा पिकअप चालक के पास से 11 केवी की एल्यूमीनियम तार का एक बंडल तथा 35mm एलटी केबल जिसमें काले रंग की प्लास्टिक ऊपर चढ़ी है। एक ड्रम 500 मीटर एवं एक तार काटने वाला कटर तथा एक स्कॉर्पियो जीप वाहन क्रमांक M P-17-T – 1222 व माल ढोने के लिए पिकअप वाहन क्रमांक M P-17- G- 4183 जप्त कर मामले का खुलासा करते बीते गुरुवार 13 जनवरी को, डीएसपी शालिनी परस्ते ने बताया की कुल 20 लाख के लगभग की चोरी की गई है। उक्त मामले का खुलासा करने में थाना प्रभारी रीठी निरीक्षक सतीश तिवारी, उप निरीक्षक दिनेश सिंह चौहान, उपनिरीक्षक रमाकांत दुबे, उपनिरीक्षक को दू लाल कुशवाहा, जयचंद, प्रधान आ रमेश सिंह, आरक्षक धर्मेंद्र यादव डायल हंड्रेड पायलट मानिक लाल पटेल ग्राम रक्षा समिति सदस्य प्रभाकर दुबे की सराहनीय भूमिका रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *