बच्चों से लेकर बड़ों के लिए हेल्थ कैम्प, जागृति संस्था द्वारा फरवरी के प्रत्येक रविवार जागृति पार्क में स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन, बीपी और शुगर की होगी नि:शुल्क जांच, चिकित्सक देंगे परामर्श

बच्चों से लेकर बड़ों के लिए हेल्थ कैम्प, जागृति संस्था द्वारा फरवरी के प्रत्येक रविवार जागृति पार्क में स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन, बीपी और शुगर की होगी नि:शुल्क जांच, चिकित्सक देंगे परामर्श

कटनी। शहर की सामजिक संस्था जागृति द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन जागृति पार्क में किया जा रहा है। जिसमे बच्चों से लेकर बड़ोंऔर महिलाओं का स्वास्थ्य परीक्षण करते हुए उन्हें चिकित्सकीय परामर्श दिया जाएगा। शिविर को लेकर आज गुरूवार को एक पत्रकारवार्ता का आयोजन शहीद द्वार स्थित कटनी नर्सिंग होम में किया गया। पत्रकारवार्ता को संबोधित करते हुए जागृति संस्था की अध्यक्ष स्त्री रोग विशेषष डॉ. उमा निगम ने बताया कि जागृति संस्था द्वारा पिछले काफी समय से सामाजिक गतिविधियां आयोजित की जा रही हैं, जिसमे विभिन्न समाजसेवी कार्य शामिल है। इसी कड़ी में अब स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजित करने का निर्णय लिया गया रहा है। डॉ. उमा निगम ने बताया कि शिविर का आयोजन 7, 14, 21 एवं 28 फरवरी को किया जा रहा है। जिसमे 7 फरवरी को डॉ. स्मिता मसराम एमडी मेडिसिन नागपुर द्वारा पुरूषों और महिलाओं का स्वास्थ्य परीक्षण करते हुए उन्हें आवश्यक चिकित्सकीय परामर्श दिया जाएगा। इसी तरह 14 फरवरी को बच्चों के लिए स्वास्थ्य परीक्षण शिविर आयोजित किया गया है, जिसमे शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. सोनिका माखीजानी द्वारा बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण करते हुए आवश्यक चिकित्सकीय परामर्श दिया जाएगा। 21 फरवरी को महिलाओं के लिए स्वास्थ्य परीक्षण शिविर आयोजित किया गया है, जिसमे स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. उमा निगम, डॉ. हर्षा बत्रा, डॉ. शानू अग्रवाल, डॉ. मनीषा साहू द्वारा महिलाओं का स्वास्थ्य परीक्षण करते हुए आवश्यक चिकित्सकीय परामर्श दिया जाएगा। फरवरी के आखिरी रविवार 28 फरवरी को भी शिविर आयोजित रहेगा। डॉ. उमा निगम ने बताया कि शिविर के दौरान ब्लड प्रेशर और शुगर की नि:शुल्क जांच की जाएगी। उन्होंने शहर के सभी वर्ग के लोगों से परिवारसहित शिविर में पहुंचकर इसका लाभ उठाने का आग्रह किया है। पत्रकारवार्ता में जागृति संस्था के सदस्य डॉ. संजयकांत भारद्वाज, रीतेश सेठी सहित अन्य पदाधिकारियों एवं सदस्यों की मौजूदगी रही।

सामाजिक दायित्व का निर्वहन : डॉ. उमा निगम

जागृति संस्था की अध्यक्ष डॉ. उमा निगम ने कहा कि पीडि़त मानवता की सेवा चिकित्सक का धर्म होता है, इसीलिए चिकित्सक को ईश्वर का दर्जा दिया गया है। जागृति संस्था के माध्यम से आज हम जो भी कर रहे हैं, वो अपने सामाजिक दायित्व का निर्वहन ही है। हमे समाज से जो भी मिलता है, उसे समाज को वापस करना हमारा कर्तव्य भी है। यही कारण है कि जागृति संस्था पिछले लंबे समय से समाजसेवा के क्षेत्र में सक्रिय है। उन्होंने कहा कि शिविर संपन्न होने के बाद जागृति संस्था द्वारा एनीमिया फ्री कटनी अभियान शुरू किया जाएगा।

बच्चों का विकास सही समय पर होना आवश्यक

शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. सोनिका माखीजानी ने कहा कि बच्चों का विकास सही समय पर होना आवश्यक है। इसके लिए उनके खान-पान के साथ ही उनकी गतिविधियां पर ध्यान दिया जाना जरूरी है। ज्यादातर बच्चों में खून की कमी पाई जाती है। इसके लिए चिकित्सकीय परामर्श जरूरी है। स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. हर्षा बत्रा ने कहा कि महिलाएं स्वयं अपने स्वास्थ्य के प्रति बेपरवाह होती है। इसका खामियाजा भी उन्हें उठाना पड़ता है। यदि महिलाएं समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराएं तो कई तरह की समस्याओं का निदान हो सकता है। शिविर के माध्यम से जागृति संस्था का यही प्रयास है कि लोग अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक हों।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *