मुख्यालय छोड़, कोयलांचल में अतिक्रमण की एतिहासिक कार्यवाही

कॉम्पलेक्स, स्कूल, मकान व एनएच-43 पर दिन भर चली कार्यवाही

शहडोल। सप्ताह भर पहले बुढ़ार नगर परिषद क्षेत्र अंतर्गत मुख्य मार्ग पर पाण्डेय कॉम्पलेक्स बनाकर नजूल की भूमि पर हुए अतिक्रमण को हटाने गई प्रशासनिक टीम औपचारिकता पूरी करके लौट आई थी, तब से प्रशासन पर लगातार उंगलियां उठ रहीथी। रविवार की सुबह 9 से 10 बजे की बीच जब प्रशासनिक अधिकारी पूरे लॉव-लश्कर के साथ दोबारा वहां पहुंचे तो, कुछ ही घंटो में पाण्डेय कॉम्पलेक्स जमींदोज हो गया। प्रशासनिक कार्यवाही यहीं नहीं रूकी, कॉम्पलेक्स के बाद तहसील के सामने स्कूल प्रबंधन के अतिक्रमण को हटाया गया, नगर परिषद बकहो में एनएच-43 के किनारे दर्जनों दुकाने अतिक्रमण से मुक्त की गई, वहीं भाजपा नेता बद्री पाण्डेय के अमलाई स्थित आवास को भी अतिक्रमण से मुक्त कराया गया।
बुढार में अतिक्रमण हटवाने की कार्यवाही
कलेक्टर डॉ. सतेन्द्र सिंह एवं पुलिस अधीक्षक अवधेश गोस्वामी ने आज शासकीय भूमि पर अतिक्रमको द्वारा किये गए अतिक्रमण को हटाने की व्यापक कार्यवाही की है। इस कार्यवाही में तहसील कार्यालय बुढार के खसरा नं. 127/1 क रकवा लगभग 03 एकड़ में से 01 एकड़ के लगभग अतिक्रमणकारियो द्वारा बाउण्ड्रीवाल बनाकर एवं गेट बनाकर अवैध रूप से कब्जा कर रखा था जिसे पुलिस एवं राजस्व दल के साथ अतिक्रमणमुक्त कराकर किये गए अतिक्रमण को जमींदोज कर दिया गया।
अतिक्रमण हटवाने की कार्यवाही
शासकीय भूमि पर अतिक्रमको द्वारा बस स्टैण्ड बुढार के पहले आराजी नं. 1448/2 के अंष भाग में लगभग 10 डिसमिल में अतिक्रमणकारी द्वारा 06 दुकानो का अवैध निर्माण किया गया था। इसी प्रकार खसरा नं. 578 में लगभग 8 से 10 दुकाने बनाकर अवैध कब्जा किया गया था जिसे आज जेसीबी मशीन के माध्यम से भूमिगत करा दिया गया।
बकहो में एनएच-43 से हटा अतिक्रमण
शासकीय भूमि पर अतिक्रमको द्वारा बुढार के ग्राम पंचायत बकहो में राष्ट्रीय राज्य मार्ग की सड़क के किनारे लगभग 50 अतिक्रमणकारियो द्वारा दुकाने बनाकर संचालित की जा रही थी जिनमें जनरल स्टोर, पान पैलेस, हेयर काटिंग, पोल्ट्री फर्म, एयर कांण्डीसनर, गैस बिल्डिंग, गरमेंश, बाईक रिपेयरिंग, फल एवं ट्रेलरिंग सहित अनेक दुकाने संचालित की जा रही थी। जिन्हे आज जेसीबी मशीन से हटवाकर अतिक्रमणमुक्त की कार्यवाही की गई। बुढार के अमलाई में भाजपा नेता के विरूद्व पुलिस द्वारा आम्र्स एक्ट के तहत एवं राजस्व विभाग द्वारा अतिक्रमण के विरूद्व बड़ी कार्यवाही करते हुए अतिक्रमण को हटवाया गया।
कार्यवाही में ये रहे मौजूद
इस मौके पर अपर कलेक्टर अर्पित वर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुकेश वैश्य, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व धर्मेन्द्र मिश्रा, एसडीओपी पुलिस भरत दुबे, तहसीलदार बुढार भरत सोनी, नायब तहसीलदार सुश्री साक्षी गौतम, मुख्य नगरपालिका अधिकारी बुढार एवं धनपुरी सहित काफी संख्या में पुलिस, राजस्व एवं नगरपालिका का अमला उपस्थित था।
नेमचंद, श्रीजी प्लाजा सहित दर्जनों अवैध प्लाटिंग
प्रशासन ने वर्षाे के बाद अतिक्रमण के खिलाफ एतिहासिक कार्यवाही की, लेकिन मुख्यालय में कोई कार्यवाही न करना और लगातार अतिक्रमण की शिकायतों को फाईलों में दफन करने का मामला चर्चाओं में है। गांधी चौक स्थित नेमचंद जैन नामक कपड़ा कारोबारी जहां वर्तमान में रेमण्ड शोरूम संचालित है, इसके अलावा तीन दिवस पहले कमिश्नर नरेश पाल द्वारा बस स्टैण्ड के समीप स्थित श्रीजी प्लाजा में निर्माण पर रोक लगाने के बाद भी अवैध निर्माण को अब तक नहीं रोका गया।
रेरा का लगातार उल्लंघन
मुख्यालय से सटे कल्याणपुर, विचारपुर, पंचगांव रोड, कुदरी, सिंहपुर रोड सहित अन्य ग्रामों में रेरा के नियमों का उल्लंघन करते हुए एक ही भू-खण्ड के दर्जनों टुकड़ें कर लगातार रजिस्ट्रार कार्यालय मे रजिस्ट्रियां हो रही हैं। तहसील,एसडीएम, कलेक्टर व नपा के राजस्व महकमें में अतिक्रमण तथा भू-खण्डों की अवैध बिक्री के शिकायतों को ही प्रशासन यदि खंगाल ले तो, भविष्य में अतिक्रमण विरोधी मुहीम चलाने की आवश्यकता ही न पड़े।
नहीं रूक रहा अतिक्रमणको संरक्षण
बुढ़ार में संजय पाण्डेय के कॉम्पलेक्स के साथ ही धनपुरी के वार्ड नंबर 1 में तहसील कार्यालय के ठीक सामने ग्रीन बेल्स स्कूल के द्वारा किया गया अतिक्रमण हटाया गया। सवाल यह उठता है कि बीते माहों व वर्षाे में मुख्य मार्ग व तहसील के ठीक सामने अतिक्रमण हो रहा था, उस समय राजस्व के कौन से अधिकारी आंखे मूंद संरक्षण दे रहे थे। जिला प्रशासन तथा प्रदेश सरकार को अतिक्रमणकारियों के साथ उन्हें संरक्षण देने वाले नौकरशाहों की भी सूची बनानी चाहिए, जिन्होंने जेबे भरने के लिए अतिक्रमण को अपने सामने होने दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *