”मैं मंडल अध्यक्ष हँू” घर में घुसकर मारूंगा और रिपोर्ट दर्ज करा दूंगा

बेलगाम हो गई कमल की फौज

जैतपुर का अध्यक्ष बलात्कारी तो, धनपुरी का निकला दबंग

सोशल मीडिया में वॉयरल हो रही मंडल अध्यक्ष की धमकी वाली ऑडियो क्लिप

(अमित दुबे+8818814739)
शहडोल। मैं मंडल अध्यक्ष हँू, तुमने अगर दोबारा मेरे आदमियों के बारे में घुमा-फिरा कर भी फेसबुक पर लिखा तो, तुम्हे घर में घुसकर मारूंगा और सुनो रिपोर्ट भी मेरी लिखी जायेगी। लगभग 6 मिनट 36 सेकेण्ड के ऑडियो क्लिप में भारतीय जनता पार्टी के धनपुरी मंडल अध्यक्ष हेमंत सोनी ने स्थानीय युवक पिंकू सिंह से जो बातें कहीं, उनमें ऊपर कही गई तीन पंक्तियों के अलावा बाकी ऐसी थी कि जिसे लिखा ही नहीं जा सकता। इस संदर्भ में ऑडियों की पुष्टि करने के लिए जब राज एक्सप्रेस की टीम ने पिंकू सिंह से संपर्क किया तो, उसने बताया कि ऑडियो कुछ माह पुराना है। मुझे धमकी मिली थी, लेकिन मैं सत्ता के खिलाफ कैसे जाऊं और कुछ लोगों के दबाव पर मैने फेसबुक पर जो लिखा था, उसे डिलीट कर दिया। सवाल यह उठता है कि सत्ताधारी दल के मनोनीत प्रतिनिधियों को इस तरह की दबंगई और कानून को हाथ में लेने का अधिकार आखिर किसने दे दिया। जिसके खिलाफ थाने में रिपोर्ट करने के अपने मौलिक अधिकार से भी आमजन खौफ खा रहे हैं।

यह था मामला

सोशल मीडिया में हेमंत सोनी और पिंकू सिंह के बीच हुई इस बातचीत के ऑडियो के संदर्भ में पड़ताल करने पर यह बातें सामने आई कि आम नागरिकों की तरह पिंकू सिंह नामक युवा ने सोशल मीडिया के फेसबुक प्लेटफार्म पर मर्यादित अभिव्यक्ति व्यक्त की थी, जो मंडल अध्यक्ष को नगवार गुजरी और पिंकू सिंह के लगातार यह कहने पर कि यह टिप्पणी उनके लिए नहीं लिखी गई है, युवा नेता नहीं माने, लगातार अभद्र संज्ञाओं से सेल फोन पर पिंकू सिंह को उपकृत करते रहे।

दबंगई या सत्ता का नशा

धनपुरी के भाजपा मंडल अध्यक्ष पर हालाकि स्थानीय थाने में अब तक कोई मामला शायद कायम नहीं हुआ है, पेशे से कारोबारी रहे हेमंत सोनी के मंडल अध्यक्ष बनने के बाद संभवत: सत्ता और पद के मद में उसने न सिर्फ मर्यादाएं लांघ दी, बल्कि कानून विदों की माने तो, सोशल मीडिया में वॉयरल ऑडियो ही उसके खिलाफ अपराध कायम करने के लिए पर्याप्त साक्ष्य हैं, लेकिन सवाल यह उठता है कि जब नेता की दबंगई और अपनी जान बचाने के फेर में आवेदक ही शांत रह गया तो, पुलिस कहां तक अपना फर्ज निभायेगी।

भाजपा की साख पर बट्टा

बीते पखवाड़े भारतीय जनता पार्टी के जैतपुर मंडल अध्यक्ष विजय त्रिपाठी का नाम गैंगरेप में सामने आया था, यह मामला शहडोल ही नहीं बल्कि प्रदेश व देश की सुर्खी बना था, इस मामले में दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी की साख को धूल धुरसित कर दिया, हालाकि भाजपा के जिलाध्यक्ष कमल प्रताप सिंह ने मंडल अध्यक्ष पर आरोप लगते ही, उसे पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया, यह मामला अभी ठण्डा ही नहीं हुआ कि हेमंत सोनी का ऑडियो सोशल मीडिया में वॉयरल होने लगा।

चुनावों पर पड़ेगा असर

आने वाले महीनों में धनपुरी में नगर पालिका के चुनाव होने हैं, बीते एक से डेढ़ दशक से यहां भाजपा की सत्ता रही है, यही नहीं लोकसभा और विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी विरोधी दल के मुकाबले आगे ही रही, लेकिन पार्टी ने जिस पदाधिकारी को यहां के मंडल की जवाबदारी सौंपी है, उसके द्वारा खुलेआम घर में घुसकर मारने और उसकी मर्जी से रिपोर्ट दर्ज होने की बातें कह, खुद की मंशा जाहिर कर दी, जिस तेजी से यह ऑडियो धनपुरी और आस-पास के क्षेत्र में वॉयरल हो रहा है, उससे पार्टी के गढ़ में उसे आने वाले चुनावों में बड़ा नुकसान हो, इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता।

इनका कहना है…

16 नवम्बर 2020 की शाम 7 बजकर 15 मिनट पर हेमंत ने मुझे धमकी दी थी, यह ऑडियो उसी समय का है, डर के कारण मैं थाने तक नहीं जा पाया।
पिंकू सिंह
नागरिक, धनपुरी
****
यदि मंडल अध्यक्ष ने ऐसा किया है तो, आप ऑडियो और अन्य जानकारी हमें भेजिए, पार्टी इस तरह की इजाजत नहीं देती, बल्कि ऐसे कृत्यों की निंदा करती है।
कमल प्रताप सिंह
जिलाध्यक्ष
भाजपा, शहडोल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *