मैं यहां बहुत परेशान हूं, मुझे अच्छा नहीं लगता पापा

दहेज के लिए कर दी मेरी पुत्री की हत्या

फरियादी पिता न्याय के लिए पहुंचा पुलिस महानिरीक्षक के दरबार

(Anil Tiwari+91 88274 79966)
शहडोल। कोदू लाल गुप्ता ने पुलिस महानिरीक्षक कार्यालय पहुंच कर अपनी मृत बेटी के लिए इंसाफ की मांग की है, फरियादी पिता ने शिकायत पत्र देते हुए बताया कि मेरी पुत्री ज्योति का विवाह 27 फरवरी 2020 को ग्राम भोड़सा तहसील बड़वारा जिला कटनी में दीनदयाल गुप्ता पिता शिवदयाल गुप्ता निवासी वार्ड नं. 12 बिरसिंहपुर पाली के साथ हुआ था, विवाह के कुछ दिनों पश्चात उसका पति दीनदयाल गुप्ता, सास गुड्डी बाई, ससुर शिवदयाल गुप्ता, ननद अंजली गुप्ता एवं अंजू गुप्ता व जेठ रवि गुप्ता, जेठानी सीमा गुप्ता ये सभी लोगों के द्वारा कम दहेज लाने व 10 लाख रुपये की मांग करने के कारण मेरी पुत्री से मारपीट की जाती रही, इन सब बातों को मेरी पुत्री मुझे बताया करती थी, मेरे द्वारा सिर्फ समझाइस दी जाती रही, परंतु इनके द्वारा दहेज की मांग आये दिन की जाती रही।
समझाईश देता रहा पिता
फरियादी पिता ने दी गई शिकायत में बताया कि अंतिम बार मेरी पुत्री ससुराल 24 अगस्त को गई तो, सभी आरोपियों द्वारा मेरी पुत्री के साथ पूर्ववत व्यवहार करने लगे, वह जब से गई है, लगभग हर दिन फोन से मारपीट करने की बात बताने लगी। मेरे द्वारा सिर्फ समझाइस दी गई, ठीक है मैं उनसे बात करता हूँ और इसी तरह पुत्री को समझाइस देता रहा और बेटी को बोला तुम वहीं रहो और अपनी परिवार की देखभाल और अच्छे से सेवा करना, सब ठीक हो जायेगा।
बाद में कराऊंगी बात
शिकायत में फरियादी ने बताया कि 30 अगस्त को बेटी से बात हुई तो वह बोली कि मैं बहुत परेशान हूँ, मुझे यहां अच्छा नहीं लग रहा है, उसके बाद 31 अगस्त को भी फोन पर बात हुई तो भी स्थिति वैसे ही थी, जब मेरे द्वारा पुन: 01 सितम्बर को भी फोन पर संपर्क चाहा तो मेरी पुत्री का फोन कोई नहीं उठाया, उसके बाद उसकी ननद को फोन लगाया तो थोड़ी सी बात की और बोली उसकी तबियत खराब है, बाद में बात कराऊंगी और फोन काट दी।
असहाय हो गया मेरा परिवार
फरियादी पिता ने पुलिस महानिरीक्षक को दी गई शिकायत में उल्लेख किया है कि आरोपियों के द्वारा मिली भगत करके 02 सितम्बर को मेरी पुत्री को दहेज न लाने के कारण मार दिया गया, वो सभी लोग पैसे वाले हैं और धमकी देते हैं कि हम पैसे वाले लोग है, पुलिस और राजनेताओं के साथ उठना-बैठना है, तुम लोग हमारा कुछ नहीं कर पाओगे। मुझे पुलिस के द्वारा भी अपेक्षित सहयोग नहीं मिल रहा है, जिससे मैं और मेरा परिवार असहाय हो गया है तथा आरोपी खुलेआम घूम रहे हैं, कोई ठोस कार्यवाही नहीं हो रही है। पिता ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर कार्यवाही करने तथा न्याय प्रदान करने की मांग की है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *