कर्मियों के प्रशिक्षण की दिशा में एनसीएल की महत्वपूर्ण पहल

शशिकांत कुशवाहा
सिंगरौली । नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड के मानव संसाधन विकास विभाग के सौजन्य से मुख्यालय स्थित सीईटीआई में एनसीएल के सभी कोयला क्षेत्रों के क्षेत्रीय प्रशिक्षण अधिकारियों की बैठक का आयोजन किया गया | इस बैठक की अध्यक्षता एनसीएल के निदेशक(कार्मिक) श्री बिमलेन्दु कुमार ने की | बैठक में एनसीएल की सभी परियोजनाओं के व्यावसायिक प्रशिक्षण केंद्रों में बुनियादी ढांचे के सुधार के साथ तकनीकी उन्नयन के बारे में विस्तार से चर्चा की गयी |

इस दौरान श्री कुमार ने कर्मियों के ‘प्रशिक्षण और विकास’ के महत्व को रेखांकित करते हुए कम्पनी के निष्पादन पर इसके सकारात्मक प्रभाव के बारे में विस्तार से बताया l साथ ही सभी प्रशिक्षण अधिकारियों को व्यावसायिक प्रशिक्षण केंद्रों में विश्व स्तरीय बुनियादी ढांचे के विकास एवं तकनीकी उन्नयन हेतु ज़रूरी दिशा -निर्देश भी दिये l

उल्लेखनीय हैं कि कोविड-19 जनित कठिन परिस्थिति में भी एनसीएल के मानव संसाधन विकास विभाग के सौजन्य से कर्मियों के लिए निरंतर ऑनलाइन कौशल विकास एवं रिफ्रेशर प्रशिक्षण कार्यक्रमों का सफलतापूर्वक संचालन किया जा रहा है। कोविड -19 जनित वैश्विक महामारी के चलते एचआरडी विभाग,एनसीएल ने अपने आपको नई परिस्थितियों के अनुरूप ढाला है तथा वेबिनार/ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग जैसी आधुनिक प्रद्योगिकी की मदद से अपने कर्मियों को लगातार प्रशिक्षण प्रदान कर रहा है|

अगस्त महीने में डंपर, शोवेल एवं डोज़र के रखरखाव का प्रशिक्षण विशेषज्ञ प्रशिक्षकों द्वारा प्रदान किया गया | साथ ही अगस्त महीने में ही उत्खनन पर्यवेक्षकों के लिए कार्यात्मक कौशल विकास कार्यक्रम एवं डम्पर सिम्युलेटर के माध्यम से डंपर संचालन की बारीकियाँ समझने के लिए आभासी प्रशिक्षण का आयोजन भी किया गया |

इसके अतरिक्त सितंबर माह की प्रथम सप्ताह में ड्रैगलाइन प्रशिक्षण के लिए ड्रैगलाइन सिम्युलेटर द्वारा आभासी प्रशिक्षण की व्यवस्था सुनिश्चित की गयी है |

ग़ौरतलब है कि इन सभी कार्यक्रमों के दौरान प्रतिभागियों को कोविड -19 के अप्रसार व बचाव के बारे में जागरूक किया जाता है तथा प्रतिभागियों की प्रतिरक्षा को बढ़ाने के लिए योग का प्रशिक्षण भी दिया जाता है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *