राष्ट्रीय एकीकरण और विकास में युवाओं की महत्त्वपूर्ण भूमिका : डॉ. तिवारी

अनूपपुर। शासकीय तुलसी महाविद्यालय, अनूपपुर के राष्ट्रीय सेवा योजना के 53 वें स्थापना दिवस के अवसर पर विविध कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रमों के प्रथम सत्र में जिला संगठक डॉ. परमानन्द तिवारी के मार्गदर्शन में वृक्षारोपण किया गया जिसमें महाविद्यालय के प्राध्यापक और छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया। द्वितीय सत्र में ‘ राष्ट्रनिर्माण में युवाओं की भूमिका’ विषय पर गोष्ठी का आयोजन किया गया। इस गोष्ठी की अध्यक्षता करते हुए डॉ. तिवारी ने कहा कि रासेयो अपनी इस यात्रा में विभिन्न पड़ावों से गुजरते हुए यहाँ पहुंचा है और देश के सामने आईं सभी चुनौतियों में इसके वालंटियर्स हमेशा अग्रिम पंक्ति में खड़े मिले हैं। उन्होंने कहा कि कोई प्राकृतिक आपदा हो या वैश्विक महामारी कोरोना हो सभी में रासेयो परिवार ने तत्परता से काम किया।
कार्यक्रम में मुख्यअतिथि के रूप में उपस्थित प्राचार्य डॉ. विक्रम सिंह बघेल ने कहा कि स्वयंसेवकों ने निश्चित रूप से अच्छा कार्य किया है लेकिन इन्हें और बेहतर करने की जरूरत है, इतने से ही संतुष्ट नहीं होना है। उन्होंने कहा कि सबको दृढसंकल्पित होकर आगे बढ़ने की आवश्यकता है। बतौर विशिष्ट अतिथि उपस्थित महाविद्यालय के वरिष्ठ प्राध्यापक डॉ. जे के सन्त ने कहा कि स्वामी विवेकानंद रासेयो परिवार के प्रेरणा पुरुष हैं और वह सामान्य रूप में भी प्रेरणा और ऊर्जा के पुंज हैं। प्रत्येक युवा को उनसे प्रेरित होकर उत्तम चरित्र के साथ राष्ट्रनिर्माण के लिये योगदान करना चाहिए। राजनीतिविज्ञान के प्राध्यापक प्रो. कमलेश चावले ने सभी युवाओं को समाज और अपने स्थानीय समुदाय के लिए निरंतर बेहतर कार्य करने के लिए प्रेरित किया। महिला इकाई की कार्यक्रम अधिकारी प्रो. संगीता बासरानी ने रासेयो की विभिन्न गतिविधियों से नवागत छात्रों को परिचित कराया और सभी को बेहतर कार्य करने के लिए प्रेरित किया। इस संगोष्ठी में तुलसी महाविद्यालय के प्राध्यापक डॉ. गीतेश्वरी पांडेय, प्रो. विनोद कुमार कोल,प्रो. पूनम धांडे, प्रो. शाहबाज़ खान और डॉ तरन्नुम सरवत उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन कार्यक्रम अधिकारी ज्ञान प्रकाश पाण्डेय ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *