मकान में नाम दर्ज पिता की संपत्ति में पुत्र का नाम दर्ज कराने के बदले मांगी थी 6 हजार की रिश्वत, जबलपुर लोकायुक्त टीम ने  पकड़ा

मकान में नाम दर्ज पिता की संपत्ति में पुत्र का नाम दर्ज कराने के बदले मांगी थी 6 हजार की रिश्वत, जबलपुर लोकायुक्त टीम ने  पकड़ा

कटनी! नगर निगम कटनी में पदस्थ राजस्व निरीक्षक (टैक्स कलेक्टर) राकेश श्रीवास्तव (58) को जबलपुर लोकायुक्त टीम ने 6 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा। राजस्व निरीक्षक ने पिता की संपत्ति में पुत्र का नाम दर्ज कराने के बदले में रिश्वत मांगी थी। जिसकी शिकायत आवेदक द्वारा लोकायुक्त जबलपुर से गई थी। लोकायुक्त टीम ने यह कार्रवाई 15 दिसंबर की सुबह नगर निगम कार्यालय खुलते ही की। योजनाबद्ध तरीके से लोकायुक्त कार्रवाई को अंजाम दिया है। दरअसल राजस्व निरीक्षक राकेश श्रीवास्तव ने भट्ठा मोहल्ला निवासी सुरेश वंशकार से उनके माता-पिता के निधन के बाद दर्ज संपत्ति को पुत्र के नाम पर हस्तांतरण करने के लिए 6 हजार रुपए की रिश्वत मांगी थी। इस संबंद्ध में जबलपुर लोकायुक्त टीम के एएसपी जेपी वर्मा ने बताया कि भट्टा मोहल्ला क्षेत्र निवासी सुरेश वंशकार द्वारा शिकायत की गई थी कि माता-पिता के निधन के बाद उनके नाम पर दर्ज संपत्ति को अपने नाम पर हस्तांतरण करने के लिए नगर निगम में आवेदन दिया गया है, लेकिन नगर निगम में पदस्थ राकेश श्रीवास्तव द्वारा संपत्ति हस्तांरण करने के बदले में 6 हजार रुपए की रिश्वत की मांग की जा रही थी।
इसी शिकायत पर कार्रवाई करने के लिए जबलपुर लोकायुक्त टीम सुबह नगर निगम में पहुंची थी। नगर निगम का काम शुरु होते ही सुरेश वंशकार ने राजस्व निरीक्षक राकेश श्रीवास्तव को रिश्वत के 6 हजार रुपए दिए। जैसे ही राकेश श्रीवास्तव ने रिश्वत के रुपए अपने हाथ में लिए, तभी लोकायुक्ट की टीम ने पकड़ लिया।
कार्रवाई के दौरान उप पुलिस अधीक्षक जे पी वर्मा, निरीक्षक भूपेंद्र  दीवान, निरीक्षक नरेश बेहरा, आरक्षक गोविंद सिंह राजपूत, आरक्षक विजय बिष्ट, आरक्षक अंकित दहिया एवं आरक्षक ड्राइवर राकेश विश्वकर्मा की सराहनीय भूमिका रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *