निर्दलीय प्रत्यासी दे रही हैं कांटे कि टक्कर, जनता जनार्दन का मिल रहा है समर्थन

वार्ड क्रमांक-03 से कम उम्र युवा प्रत्याशी शिवानी तिवारी निर्दलीय ही चुनावी मैदान में दे रही हैं कांटे की टक्कर

अनूपपुर।भारतीय जनता पार्टी विश्व कि सबसे बडी़ राजनैतिक पार्टी होने के कारण जिला एवं मण्डल स्तर पर इस पार्टी संगठन में गजब कि गुटबाजी एवं बगावती तेवर साधारण कार्यकर्ताओं सहित आमलोगों को देखने-सुनने को मिलता रहता है। लेकिन वृहद आकार से संक्रीण होती देश कि सबसे पुरानी राजनैतिक पार्टी में भी सक्रिय एवं ईमानदार कार्यकर्ताओं को उपेक्षित कर उनके साथ पक्षपात पूर्ण नीतियों को अपनाने वाली कला आम कार्यकर्ताओं के गले नही उतर पा रहा है। ऐसी ही पक्षपात कि शिकार हुयी कम उम्र युवा प्रत्यासी उम्मीदवार शिवानी तिवारी हैं। वर्षों से भारतीय जनता पार्टी में सक्रिय होकर अपना जीवन समर्पित कर दिऐ। लेकिन उस समर्पण के बदले भाजपा पार्टी ने उनकी सेवाभाव को नजर अंदाज करते हुऐ स्थानीय निकाय चुनाव में उनकी टिकट ही काट दिया।और उनके स्थान पर नऐ नवेले युवा चेहरे को पकड़कर जो आज से पहले कभी भी किसी चुनावी हलचल में और पार्टी कार्यक्रमों में अपनी उपस्थिति दर्ज नहीं कराई फिर भी चुनावी मैदान में उतार दिया। जिससे भाजपा के कुछ जिला पदाधिकारी मंडल कार्यसमिति के सदस्य व पदधारी एवं स्थानीय कार्यकर्ताओं में जबरदस्त बगावत की शहनाई बजना स्वाभाविक था। लिहाजा नवगठित नवीन नगर परिषद बरगवां अमलाई के वार्ड क्रमांक-03 से चुनाव लड़ रही निर्दलीय प्रत्यासी शिवानी तिवारी को आम जनमानस द्वारा सभी पार्टी की नीतियों को दरकिनार करते हुऐ इन्हे खुलकर पुरजोर जनसमर्थन दिया जा रहा है।

सेवा करने के बाद भी कट गयी टिकट

शिवानी तिवारी कहती हैं कि मेरा पूरा परिवार वर्षों से भा ज पा पार्टी के लिऐ समर्पित होकर अपनी सेवा देते आ रही है, जिसका परिणाम यह रहा कि इसी पार्टी ने हमारे साथ भेदभाव करते हुऐ हमारा टिकट काट दिया। लेकिन जब दिलों में सेवा कि भाव जागृत हो तो किसी पार्टी या चिन्ह कि आवश्यक्ता नही होती। मेरे पिता और मुझमें लोगों के लिए वार्ड के लिऐ कुछ बेहतर कर सकने कि ललक सदैव रही है। इसी कारण से इस बार चुनावी मैदान में मैं जनता के बीच उनसे आर्शिवाद लेने आयी हूं। जनता का आर्शिवाद रूपी मौका अगर मुझे मिलता है, तो निश्चित तौर पर मैं अपने वार्ड के विकाश के लिऐ अपना पूरा योगदान दूंगी। और बिना भेदभाव व पक्षपात के प्रत्येक पात्र लोगों को शासन कि योजनाओं का लाभ दिलाऊंगी।

गौरतलब है कि- शिवानी तिवारी के पिता उनके साथ हाथ में हाथ मिलाकर वार्ड के विकाश में अपनी महती भूमिका निभा रहे हैं। और इनके साथ हर आयु वर्ग के लोग विशेषकर शिक्षित, कॉलोनी श्रमिक, नौजवानों का एक पूरा समूह है। जो जनकार्यों में सदैव अपनी सहभागिता निभाते रहते हैं। जिस वजह से इस चुनावी घमासान में यह सबसे आगे बढ़त बनाऐ हुऐ हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.