जुआं सरगना ने पुलिस पर किया पत्थराव, कुत्ते छोड़े चार आरोपी फरार @ एक लाख जब्त सहित 09 जुआरी पकड़ाये

बुढ़ार। सोमवार की दोपहर थाना क्षेत्र अंतर्गत वार्ड नंबर 8 चौधरी मोहल्ले में श्रवण चौधरी व उसके पुत्रों द्वारा खिलवाये जा रहे जुएं की फड़ पर पुलिस ने दबिश दी, इस दौरान पुलिस ने 09 जुआरियो को तो पकड़ा और उनके पास से 1 लाख 3 हजार के आस-पास नगद व ताश की पत्तियां भी जब्त की, लेकिन इस दौरान जुआं फड़ के संचालक न सिर्फ पुलिस चंगुल से फरार हो गये, बल्कि उन्होंने इस कार्यवाही से बचने के लिए पुलिस बल के ऊपर पत्थराव किया और पालतु कुत्तों से पुलिस पर हमला करवा दिया, जुआ रेड के समय मौका पाकर 1 आरोपी द्वारा अपने पालतू कुत्ते को पुलिस पर काटने के लिए छोड़कर फरार हो गया तथा 01 आरोपी द्वारा पार्टी पर पत्थर फेंककर अफरा-तफरी का माहौल पैदा कर मौका पाकर फरार हो गया, इसी अफरा-तफरी में 02 जुआरी और फरार हो गये जुआडिय़ों द्वारा पुलिस पार्टी पर कुत्ता छोडऩे से कुत्ते द्वारा उपनिरी आशीष झारिया को काट लिया गया तथा पत्थर फेंकने के कारण उप निरी. उपेन्द्र त्रिपाठी एवं उप निरी. आराधना तिवारी को चोंटे आई है सभी जुआडिय़ों के विरूद्ध भादवि एवं जुआ एक्ट का अपराध पंजीबद्ध किया गया।
9 पकड़े और चार फरार
बुढार पुलिस ने जिन 09 आरोपियों को जुआं खेलते हुए गिरफ्तार किया, उनमें जुआ खेलते 09 आरोपियों को किया गिरफ्तार संतोष लंहगीर पिता स्व. बुद्धु लंहगीर निवासी वार्ड नं. 13 कोतमा रोड बुढ़ार, आकाश कुशवाहा पिता राकेश कुशवाहा उम्र 24 वर्ष निवासी भुतहीटोला बुढार, अनिकेत यादव पिता कन्हैयालाल यादव उम्र 23 वर्ष निवासी अमराडंण्डी थाना अमलाई, राजेश चौधरी पिता नत्थूलाल चौधरी उम्र 29 वर्ष निवासी वार्ड नं. 08 चौधरी मोहल्ला बुढार, जयराम सिंधी पिता लायक सिन्धी उम्र 62 वर्ष निवासी भुतहीटोला बुढार, संदीप चौधरी पिता ललन चौधरी उम्र 24 वर्ष निवासी वार्ड नं. 08 चौधरी मोहल्ला बुढार, मोहन सिन्धी पिता मेठा सिन्धी उम्र 52 वर्ष निवासी वार्ड नं. 04 बस स्टैण्ड के पास बुढार, रानी चौधरी पति राजेश चौधरी उम्र 22 वर्ष निवासी वार्ड नं. 08 चौधरी मोहल्ला शामिल हैं।
ये रहे कार्यवाही में शामिल
कार्यवाही मं पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में एसडीओपी धनपुरी के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी बुढ़ार निरीक्षक महेन्द्र सिंह के नेतृत्व में उप निरीक्षक उपेन्द्र त्रिपाठी, आशीष झारिया, आराधना तिवारी, सहायक उप निरीक्षक जी.एल. गोयल, प्रधान आरक्षक हरिकिशोर, आरक्षक दिव्य प्रकाश, भागवत सिंह, ज्ञानेन्द्र सिंह, धन्नालाल सोलंकी, शिव प्रसाद उईके, रंजीत वर्मा, रामशरन दीवान महत्वपूर्ण योगदान रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *