कलयुगी शिक्षक की करतूत : महिला से आएदिन अश्लील हरकतें और अभद्रता @ महिला ने लिखा-राहत नहीं तो,आत्महत्या..!!

साहब दबंगो से दिलाये मुक्ति, नहीं तो कर लूंगी आत्महत्या
भाजपा जिलाध्यक्ष के प्रतिष्ठान के पीछे रहने वाली महिला का हाल
शहडोल। संभागीय मुख्यालय जहां एडीजीपी सहित डीआईजी, एसपी, डिप्टी एसपी सहित महिला एडिशनल एसपी का कार्यालय व निवास है, वहीं शहर के व्यस्त चौराहों में शुमार बुढ़ार चौक के समीप रहने वाली महिला दबंगों की मारपीट व अश्लील हरकतों से परेशान है। बीती 30 जुलाई को महिला ने जिन हालातों का उल्लेख कर कप्तान को शिकायत देकर न्याय मांगा है, उन हालातों व पत्र में लिखे शब्दों का उल्लेख यहां करना मुमकिन नहीं है। पीडि़त महिला सुनीता गुप्ता पति विजय गुप्ता ने नामजद शिकायत देते हुए कप्तान से न्याय मांगा है और न्याय न मिलने पर अंतिम विकल्प मौत का रास्ता भी बताया है।
यह हो रहा महिला के साथ
महिला ने पुलिस अधीक्षक को दी गई शिकायत में यह उल्लेख किया है कि वह बुढ़ार चौक के समीप खेमका बाड़े में रहती है, ठारवानी टीवी पैलेस व भाजपा जिलाध्यक्ष कमल प्रताप सिंह के सेनेटरी प्रतिष्ठान के ठीक पीछे महिला बीते कुछ दशकों से रह रही है, यहां रहने वाले गुलजार सिंह व उसके पुत्र अंकित व छोटू तथा उनके मित्र राज किशोर अवस्थी कई वर्षाे से महिला और उसके परिवार को परेशान कर रहे हैं। महिला के साथ अश्लील हरकतें और घर में ताका-झांकी व गाली-गलौज से महिला परेशान है।
हर शिकायत बेअसर
पीडि़त महिला ने शिकायत में यह भी उल्लेख किया है कि कथित गुलजार नामक दबंग द्वारा ही उसके पति के साथ वर्षाे पहले मारपीट की गई थी, जिस कारण उसके पति का मानसिक संतुलन ठीक नहीं है, महिला शहर के कुछ घरों में झाडू पोछा कर बच्चों का पेट पाल रही है, लेकिन आये दिन गाली-गलौज व महिला के बच्चों के साथ मारपीट और उन्हें झूठे केस में फंसाने की धमकी से पूरा परिवार आजिज हो चुका है। महिला ने शिकायत में यह भी लिखा कि उसके द्वारा पूर्व में की गई हर शिकायत बेअसर रही है।
न्याय नहीं तो आत्महत्या अंतिम विकल्प
महिला ने पुलिस अधीक्षक को दी गई शिकायत में यह भी उल्लेख किया है कि महिला और उसका परिवार कथित लोगों की दबंगई से बुरी तरह परेशान हो चुका है। यदि पुलिस ने इसमें हस्ताक्षेप नहीं किया और दबंगों की अश्लील हरकतों से राहत नहीं मिली तो, आत्महत्या के अलावा उसके पास दूसरा कोई विकल्प नहीं है।

सशिम में शिक्षक हैं गुलजार!!
पीडि़त महिला ने बताया कि गुलजार सिंह नामक कथित दबंग सरस्वती मंदिर में शिक्षक है, महिला ने यह भी कहा कि वह और उसका परिवार पीडि़त है, इस संबंध में उसने मीडिया सहित बुद्धजीवियों से भी न्याय की अपील की, उसने कहा कि यदि सरस्वती शिशु मंदिर जैसे संस्कारों वाले संगठन का शिक्षक इस तरह का कृत्य कर रहा है, उसने विद्यालय से शिक्षक का चोला पहना हुआ है और हरकतें दानवों जैसी हैं।

भाजपा जिलाध्यक्ष से की अपील
पीडि़त महिला ने बताया कि उसके घर से सटे भवन में भाजपा जिलाध्यक्ष कमल प्रताप सिंह का प्रतिष्ठान है, वह कई बार मिलने के प्रयास से गई, लेकिन मुलाकात नहीं हो पाई, एक पहलू यह भी है कि जिस सशिम में गुलजार शिक्षक है, वहां कमल प्रताप सिंह संरक्षक का जिम्मा कई वर्षाे से निभा रहे हैं, ऐसी स्थिति में पुलिस के साथ ही युवा नेता से पीडि़त महिला ने न्याय दिलाने की अपील की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *