केशरवानी समाज ने सीखी सायबर क्राइम की बारीकियां

शहडोल। समाज में लगातार बढ़ रहे सायबर क्राइम को लेकर पुलिस न सिर्फ चौकन्नी है बल्कि बीते दिनों जबलपुर से आई टीम ने शहडोल के दर्जनों वर्दीधारियों को कार्यशाला के दौरान सायबर क्राइम की बारीकियों से अवगत कराया था। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर शनिवार की शाम स्थानीय केशरवानी भवन में केशरवानी समाज की दर्जनों महिलाओं को सायबर सेल के प्रशिक्षुओं ने वर्तमान में हो रहे सायबर क्राइम और उससे बचने के लिए तरीकों को सुझाया, लगभग 3 घंटे तक चले कार्यक्रम के दौरान सायबर सेल शहडोल के ट्रेनरों ने महिलाओं को सायबर से होने वाले क्राइम और उनसे निपटने की बारीकियों से अवगत कराया।
जिले भर में आयोजित होंगे कार्यक्रम
शहडोल सायबर सेल में पदस्थ अमित दीक्षित ने बताया कि जिले ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश व देश में सायबर क्राइम बड़ी तेजी के साथ बढ़ रहे हैं, इन्हें रोकने के लिए हमें खुद जागरूक होना और दूसरों को जागरूक करना ही इस पर अंकुश लगाने का एक मात्र उपाय है। पुलिस अधीक्षक की मंशा के अनुरूप जिले भर में कार्यक्रमों का आयोजन होना है, इसी क्रम में आज इसकी शुरूआत की गई है, आगामी दिनों व माहों में जिले के विभिन्न क्षेत्रों में इस तरह के जागरूकता शिविर आयोजित किये जायेंगे।
इनकी रही उपस्थिति
सायबर सेल जागरूकता की कार्यशाला में मुख्य रूप से शहडोल सायबर सेल के सहायक उपनिरीक्षक अमित दीक्षित , प्रधान आरक्षक प्रशांत सोनी, आरक्षक रवि दोहरे, प्रकाश द्विवेदी, हिमवंत मिश्रा, महिला आरक्षक श्रीदेवी के अलावा, केशरवानी समाज से श्रीमती शांति गुप्ता, भारती गुप्ता, रीना गुप्ता, रश्मि गुप्ता, दीप्ति गुप्ता ,अलका गुप्ता, रजनी गुप्ता ,राजेश्वरी गुप्ता ,आरती गुप्ता, शकुंतला गुप्ता ,अनुपमा गुप्ता ,मंजू गुप्ता, आरती गुप्ता ,सुनीता गुप्ता ,राजश्री गुप्ता ,दिव्या गुप्ता ,सत्य कला गुप्ता ,वीणा गुप्ता, हेमा गुप्ता ,मीनाक्षी गुप्ता ,सीता गुप्ता, अंजना गुप्ता सरिता गुप्ता ,श्रीमती विभा गुप्ता मौजूद रहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.