अवैध रेत उत्खनन एवं परिवहन के विरूद्ध पुलिस एवं प्रशासन की बड़ी कार्यवाही

35 हाईवा, 1 पॉकलेन मशीन, 1 पनडुब्बी/मोटरबोट, 1 बोलेरो

वाहन जप्त

थाना ब्यौहारी क्षेत्रांतर्गत ग्राम पौंड़ी की घटना

शहडोल। सोन नदी का सीना अवैध रूप से छलनी करने वालों के खिलाफ पुलिस ने सबसे बड़ी कार्रवाई की है। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक दिनेश चन्द्र सागर तथा पुलिस अधीक्षक अवधेश गोस्वामी के निर्देशन पर 10 सितम्बर की रात्रि ग्राम पौंड़ी में पुलिस और प्रशासन की संयुक्त टीम द्वारा अवैध रेत उत्खनन ,परिवहन करते हुए कुल 11 हाईवा खाली ट्रक एवं 24 हाईवा ट्रक रेत से भरे हुए, 01 पोकलेन मशीन, 01 बोलेरो वाहन तथा 01 पनडुब्बी मशीन जप्त किया गया जिनकी कुल अनुमानित कीमत लगभग 9 करोड़ 50 लाख रूपये है। मौके से अवैध रेत को वैध बनाने के लिए प्रयुक्त रसीद कट्टे व पर्चियां भी जप्त किये गए हैं।
लगातार मिल रही थी शिकायतें
10 सितम्बर की रात्रि के समय पुलिस अधीक्षक को सूचना मिली कि थाना ब्यौहारी क्षेत्रांतर्गत ग्राम पौंड़ी में अवैध रेत उत्खनन एवं परिवहन किया जा रहा है। जिसे पुलिस अधीक्षक ने कलेक्टर श्रीमती वंदना वैद्य को अवगत कराया। पुलिस अधीक्षक तथा कलेक्टर के द्वारा पुलिस एवं प्रशासन की संयुक्त टीम बनाकर अवैध रेत उत्खनन पर कार्यवाही करने हेतु एसडीओपी ब्यौहारी भविष्य भास्कर, थाना प्रभारी ब्यौहारी निरीक्षक अनिल पटेल तथा तहसीलदार जयसिंहनगर दीपक पटेल के नेतृत्व में कार्यवाही हेतु देर रात ग्राम पौंड़ी स्थित रेत खदान पहुंची। मुख्यालय से अपर कलेक्टर अर्पित वर्मा तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहडोल मुकेश वैश्य भी ग्राम पौंड़ी एसडीएम जयसिंहनगर दिलीप पाण्डेय थाना प्रभारी जयसिंहनगर नरबद सिंह धुर्वे, थाना प्रभारी सीधी बृजेन्द्र मिश्रा के साथ पहुंचे। पुलिस और प्रशासन की संयुक्त टीम द्वारा ग्राम सेमरपाखा/पौंड़ी कलां में प्रवाहित सोन नदी में अवैध रूप से रेत खनिज के उत्खनन व परिवहन करते हुए 15 हाईवा एवं 01 पोकलेन मशीन तथा 01 पनडुब्बी/मोटर बोट , पानी से रेत पृथक करने का उपकरण जप्त की गई।
घेराबंदी कर पकड़ा
अंधेरे का फायदा उठाकर 09 हाईवा ट्रकों के चालक हाईवा में रेत सहित तथा 11 खाली हाईवा ट्रक उमरिया सीमा की ओर भाग रहे थे जिन्हें घेराबंदी कर पकड़ा गया। इस दौरान अवैध रेत उत्खनन परिवहन कार्य में संलिप्त सफेद रंग की बोलेरो वाहन क्र. एमपी 18 वाई 3599 भी प्राप्त हुई। मौके से पर्चियां व रसीद कट्टे बरामद हुए जिनका प्रयोग रेत माफियाओं द्वारा अवैध रेत को वैध करने हेतु किया जा रहा था। पुलिस और प्रशासन ने संयुक्त कार्यवाही उपरांत षडय़ंत्र तथा छलपूर्वक कूटरचना कर सोन नदी से रेत का अवैध उत्खनन ,परिवहन,भण्डारण करने वाले वंशिका कंपनी, वंशिका कंपनी के जी.एम. अजीत जादौन, मैनेजर खान, जप्तशुदा ट्रकों के मालिक एवं चालकों के विरुद्ध थाना ब्यौहारी में धारा 379, 414, 420, 465, 467, 468, 120-बी भादवि, 4/21 खनिज अधिनियम, 51 वन्य जीव संरक्षण अधिनियम के तहत मामला पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।
मानपुर में भी जब्त किये वाहन
अवैध रेत उत्खनन के विरूद्ध न केवल जिले में पुलिस तथा राजस्व की टीम द्वारा संयुक्त ऑपरेशन कर वृहद् कार्यवाही की जा रही थी तत्समय जिला उमरिया के थाना मानपुर क्षेंत्रांतर्गत भी अवैध रेत परिवहन, उत्खनन,भण्डारण की सूचना प्राप्त होने पर पुलिस ने थाना मानपुर जिला उमरिया को सूचित किया तथा स्वयं मौके पर थाना मानपुर की पुलिस के साथ मौजूद रहकर अवैध रेत उत्खनन ,परिवहन ,भण्डारण करते हुए 03 पोकलेन मशीन तथा 04 ट्रक जप्त किये तथा मैनेजर भूपेन्द्र सिंह समेत वाहनों के मालिक एवं चालकों के विरूद्ध धारा 188, 379, 414, 34 भादवि 4/21 खनिज अधिनियम का अपराध पंजीबद्ध किया गया। अवैध रेत उत्खनन परिवहन के विरूद्ध पुलिस द्वारा सतत् कार्यवाहियां की जा रही हैं। पुलिस अधीक्षक अवधेश कुमार गोस्वामी ने पदभार ग्रहण करने के साथ ही अवैध गतिविधियों में पूर्णत: अंकुश लगाने हेतु जिले के सभी पुलिसकर्मियों को निर्देशित किया था। जिनके निर्देशन में अवैध रेत उत्खनन/परिवहन के विरूद्ध पुलिस अधीक्षक द्वारा आज दिनांक तक जिले में अवैध रेत उत्खनन एवं परिवहन के 268 प्रकरणों में 253 ट्रेक्टर/ट्रॉली, 57 डंफर/हाईवा/ट्रक,03 जेसीबी, 01 पोकलेन, 01 पनडुब्बी/मोटरबोट, 01 बोलेरो जप्त की गई है।
इनकी रही सराहनीय भूमिका
अति. पुलिस महानिदेशक दिनेश चन्द्र सागर, पुलिस अधीक्षक अवधेश गोस्वामी, कलेक्टर श्रीमती वंदना वैद्य के मार्गदर्शन में, अपर कलेक्टर अर्पित वर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुकेश वैश्य के निर्देशन में एसडीएम जयसिंहनगर दिलीप पाण्डेय, एसडीओपी ब्यौहारी भविष्य भास्कर के नेतृत्व में तहसीलदार जयसिंहनगर दीपक पटेल, थाना प्रभारी ब्यौहारी अनिल पटेल, थाना प्रभारी जयसिंहनगर नरबद सिंह धुर्वे, थाना प्रभारी सीधी बृजेन्द्र मिश्रा, खनिज निरीक्षक प्रभात कुमार पट्टा के साथ राजस्व और पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा अवैध उत्खनन के विरूद्ध ऐतिहासिक कार्यवाही की गई हैं। अवैध रेत उत्खनन में अंकुश लगाने के साथ ही उक्त कार्यवाही से जलीय जीव जन्तु तथा नदियों को सुरक्षित किया गया है।
प्रतिबंधित है अभी रेत निकासी
भारत सरकार पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय द्वारा सस्टेनेबल सैंड माइनिंग मैनेजमेंट गाइड लाइन 2016 तथा भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार मध्यप्रदेश में वर्षा के लिए मानसून सत्र की अवधि 15 जून से 01 अक्टूबर निर्धारित की गई है। राज्य स्तरीय पर्यावरण निर्माण प्राधिकरण द्वारा परिपत्र 1136 ,14 जून जारी कर जिला स्तर पर स्थानीय परिवर्तनों के अनुसार नदियों में रेत खनन पर प्रतिबंध हेतु मानसून की अवधि पुनर्निधारण करने के निर्देश दिये गए हैं। जिले में अधीक्षक, भू-अभिलेख से दिनांक 14.06.2021 की स्थिति में जिले में हुई वर्षा के प्राप्त आंकड़ेे के अनुसार वर्तमान में जिले में मानसून पूर्ण रूप से सक्रिय नहीं होने से कार्यालय कलेक्टर खनिज शाखा के आदेश दिनांक 14 जून के अनुसार जिले में नदियों से रेत उत्खनन पर प्रतिबंध हेतु मानसून अवधि 30 जून की मध्य रात्रि से 1 अक्टूबर तक निर्धारित की जाकर नदियों से रेत उत्खनन पूर्णत: प्रतिबंधित किया गया है। राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण के द्वारा प्रकरण क्र. 606/18 15 अप्रैल के अनुसार सोन नदी से रेत उत्खनन/परिवहन में संलिप्त वाहन, मशीनरी जप्त करने के साथ ही उन्हें राजसात किये जाने के निर्देश दिये गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed