रेमदेशिविर इंजेक्शन और फर्जी एम्बुलेंस के अवैध कारोबारियों पर पुलिस की बड़ी कार्यवाही

आपदा को अवसर बनाने वाले पहुंचे सलाखों के पीछे

यात्री वाहनों को अनाधिकृत एंबुलेंस बनाकर कारोबार कर रहा था लांबा

रेमदेशिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करते दो गिरफ्तार

शहडोल। कोरोना संक्रमण काल की आपदा को अवसर मानकर आर्थिक लाभ के फेर में जुटे दो अलग-अलग कारोबारियों के खिलाफ शहडोल पुलिस ने सोमवार की शाम और मंगलवार की दोपहर बड़ी कार्यवाही की। पुलिस अधीक्षक अवधेश कुमार गोस्वामी के निर्देशन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुकेश वैश्य के मार्गदर्शन में सोहागपुर पुलिस ने उक्त कार्यवाहीयों को अंजाम दिया। पुलिस ने ट्रेवल्स संचालक बॉबी लांबा के द्वारा यात्री वाहनों को अनाधिकृत रूप से एंबुलेंस बनाकर मेडिकल कॉलेज के आसपास एंबुलेंस को खड़ा कर वहां आ रहे मरीजों तथा korona से संक्रमित होने के बाद मृत हो रहे मरीजों को गंतव्य तक पहुंचाने के लिए बॉबी लांबा ने चार-पहिया यात्री वाहनों को एंबुलेंस का रूप दे दिया था और भारी भाड़े पर उनका चोरी छुपे संचालन किया जा रहा था, आपदा के काल को अवसर बनाकर रुपए कमाने वाले कथित बॉबी ट्रेवल्स के संचालक लांबा के खिलाफ पुलिस ने बड़ी कार्यवाही की, वहीं मंगलवार की दोपहर पुलिस को यह सूचना मिली कि कथित दो युवक रेमदेसीविर इंजेक्शन का कहीं से व्यवस्था कर कर उसकी कालाबाजारी कर रहे हैं तथा उन्होंने मेडिकल कॉलेज तथा जिला चिकित्सालय व अन्य स्थानों पर अपने सूत्र तैयार कर महंगे दामों में इंजेक्शन बेचने का काम कर रहे हैं, इस खबर के बाद पुलिस सक्रिय हो गई, पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन में बनाई गई स्पेशल टास्क फोर्स को उसकी जिम्मेदारी दी गई पुलिस ने दोनों ही मामलों में आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही करते हुए उन्हें गिरफ्तार किया तथा आपराधिक मामला कायम कर विवेचना शुरू कर दी है।

शहडोल पुलिस की बडी कार्यवाही

रेमडेसिवर इंजेक्शन की कालाबजारी

करने वाले 04 आरोपियों को किया

गिरफ्तार

पुलिस अधीक्षक शहडोल द्वारा रेमडेसिवर इंजेक्शन एवं ऑक्सीजन सिलेण्डर की कालाबजारी की रोकथाम हेतु चलाये जा रहे अभियान के तहत थाना सोहागपुर क्षेत्रान्तर्गत दिनांक 11.05.21 को मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि दीपक गुप्ता एवं उज्ज्वज द्विवेदी अपने पास रेमडीसिवर इन्जेक्शन बिक्री करने के उद्वेश्य से रखे हुए है। और कुदरी वायपास रोड के पास खडे है। सूचना पर बरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया व कार्यवाही हेतु निर्देश प्राप्त होने पर रेमडेसिवर इंजेक्शन व ऑक्सीजन सिलेण्डर की कालाबजारी की रोकथाम हेतु पुलिस अधीक्षक शहडोल द्वारा गठित एस0आई0टी0 टीम को सूचित किया एवं मुखबिर के बताये स्थान कुदरी वायपास रोड पहुॅचे जहां पर दो व्यक्ति रोड के किनारे खडे दिखे जो पुलिस को देखकर हडवढाये व भागने लगे जिनको एसआईटी टीम व पुलिस फोर्स की मदद से पकड कर पूछताछ किया गया तो अपना नाम दीपक गुप्ता पिता सीताराम गुप्ता उम्र 23 वर्ष निवासी कौडिया जिला उमरिया हाल कुदरी रोड शहडोल एवं दूसरा व्यक्ति अपना नाम उज्जवल द्विवेदी पिता धनीराम द्विवेदी निवासी ग्राम चंदिया जिला उमरिया हाल कुदरी रोड शहडोल का होना वताया दोनो व्यक्तियों की तलासी लेने पर 02 नग रेमडेसिवर इंजेक्शन मिला आरोपियो से रेमडेसिवर इंजेक्शन के संबंध में दस्ताबेज मांगने पर कोई बैध दस्तावेज पेश नहीं किया गया पूछताछ से पता चला कि सुषमा साहू (मेडिकल कॉलेज स्टॉफ नर्स) मेडिकल कॉलेज में भर्ती कोविड 19 के मरीजों को आबंटित इन्जेक्शन मरीजों को न लगाकर चोरी छिपे बिक्री हेतु अमित मिश्रा (अमित फार्मा के संचालक) को देती थी। जिस पर उक्त चारों आरोपियो के विरूद्व धोखाधडी, म0प्र0 ड्रग कन्ट्रोल एक्ट, म0प्र0 आयुर्वेधिक अधिनियम, आवश्यक बस्तु अधिनियम के तहत अपराध पंजीबद्व किया जाकर गिरफ्तार किया गया। उक्त कार्यवाही में उपपुलिस अधीक्षक सोनाली गुप्ता, निरीक्षक योगेन्द्र सिंह परिहार, उ0नि0 सुभाष दुबे, स0उ0नि0 राकेश बागरी, स0उ0नि0 रजिनीश तिवारी, स0उ0नि0 अमित दीक्षित, प्र0आर0 निखिल श्रीवास्तव, आर0 हीरालाल, अजीत सिहं, अभिषेक दीक्षित की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

सोहागपुर पुलिस की बडी कार्यवाही

अबैध एम्बुलेंस चलाकर कोविड-19

पीडितों से मनमाना किराया बसूली करने

वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार

दिनांक 10.05.21 को सोहागपुर पुलिस को मुखबिर सूचना प्राप्त हुई कि बॉबी ट्रेवल्स बलपुरवा शहडोल का संचालक द्वारा बिना किसी अनुमति के अपनी इनोवा वाहन को एम्बुलेंस में तब्दील कर कोविड-19 के पीडितों से वहुत अधिक (मनमाना) किराया बसूला जा रहा है। जिस पर सोहागपुर पुलिस द्वारा तर्त्पता से कार्यवाही करते हुए सूचना की तस्दीक की गई जो सोहागपुर एवं यातायात पुलिस द्वारा संयुक्तरूप से कार्यवाही करते हुए पीडित बनकर जब सुनील उर्फ बॉबी लाम्बा (बॉबी ट्रेवल्स संचालक) से बात किये कि बिलासपुर जाना हैं जिसकी दूरी लगभग 200 कि0मी0 है। किराया कितना होगा जो बॉबी लाम्बा टेªबल्स के मालिक ने 25000 रूपये बताया जिससे कम नही होगा आपदा को अवसर बनाकर वाहन में परिवर्तन कर चला रहा था एम्बुलेंस, बिना चिकित्सकीय सुविधाओ और तय दर से अधिक राशि वसूल कर चला रहा था अवैध एम्बुलेंस एवं कोविड 19 से पीडि़त मरीजों से मनमाना राशि वसुल रहा था, सुनील उर्फ बॉबी लाम्बा (बॉबी ट्रेवल्स संचालक) और वाहन चालक विश्वनाथ कुशवाहा पिता रामधनी कुशवाहा निवासी कुदरी को हिरासत में लिया जाकर एम्बुलेंस चालक विश्वनाथ व मालिक सुनील उर्फ बॉबी लाम्बा पर धोखाधडी एवं आपदा प्रबंधन की विभन्न धाराओं के तहत प्रकरण पंजीबद्व किया गया है। पुलिस अधीक्षक अवधेश कुमार गोस्वामी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुकेश वैश्य के निर्देशन में हुई कार्यवाई, डीएसपी यातायात अखिलेश तिवारी, थाना प्रभारी यातायात अनुसुईया उईके, थाना प्रभारी सोहागपुर योगेंद्र सिंह परिहार, स0उ0नि0 रजनीश तिवारी, रामराज पांडेय, आर0 अजय, हीरालाल, चन्द्रभान सिंह, गजरूप सिंह, संजय उपाध्याय एवं आर0 गया प्रसाद की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *